लाइव टीवी

फर्जी दस्तावेजों के सहारे बैंक को लगाया करोड़ों का चूना

वार्ता
Updated: February 28, 2013, 3:31 PM IST
फर्जी दस्तावेजों के सहारे बैंक को लगाया करोड़ों का चूना
कोटा शहर में बैंक ऑफ बड़ौदा से फर्जी दस्तावेजों के सहारे करोड़ों रुपये का कर्ज लेने वाले परिवार के दो सदस्यों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

कोटा शहर में बैंक ऑफ बड़ौदा से फर्जी दस्तावेजों के सहारे करोड़ों रुपये का कर्ज लेने वाले परिवार के दो सदस्यों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

  • Share this:
कोटा। कोटा शहर पुलिस ने बहुत बड़ी सफलता अर्जित करते हुए फर्जी दस्तावेजों के आधार पर करोड़ों रुपये का कर्ज लेने के मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जबकि मुख्य आरोपी अभी फरार हैं।

पुलिस अधीक्षक कोटा शहर प्रफुल्ल कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि रामपुरा कोतवाली ऐरिया स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा से संदीप सिंह निवासी लक्ष्मीपुरा बांरा अपनी पत्नी रमनजीत कौर के साथ मिलकर एसआर इंटरप्राईजेज के नाम से फर्म बनाकर 2011 में अपने पिता अजीत सिंह और चाचा रघुवीर सिंह को गारंटर बना बैंक से लोन प्राप्त कर लिया था। संदीप सिंह उर्फ रिन्कल ने साल 2012 में बैंक मैंनेजर अशोक गुप्ता के फर्जी हस्ताक्षर बनाकर 31 अक्टूबर 2012 को आठ करोड़ रुपये की मशीनरी डिलीवरी के दो कोटेशन पश्चिम मिदनापुर वेस्ट बंगाल में भेजे।

कुमार ने बताया कि बैंक ऑफ बडोदा रामपुरा कोटा के मुख्य प्रबंधक अशोक कुमार शर्मा के फर्जी हस्ताक्षर से तैयार डिलेवरी पत्र के संबंध में पता कर डिलेवरी पत्र का फैक्स किया तो बैक प्रबंधक द्वारा फर्जी होना बताया। इससे फर्जी भुगतान नहीं हुआ। बर्ना बैंक के आठ करोड रुपये को भी अभियुक्त फर्जी तरीके से प्राप्त करने में सफल हो जाते।

उन्होंने बताया कि मुख्य आरोपी संदीप और रमनदीप कौर की तलाश में पुलिस ने उसके स्थित ठिकानों पर शिवपुरी, ग्वॉलियर, धौलपुर, आगरा में दबिश दी लेकिन नहीं मिले। संदीप सिंह और रमनजीत कौर द्वारा 26 लाख 50 हजार रुपये के अलग अलग ऋण भी बैंक ऑफ बडौदा से ले रखे है। उक्त ऋण लेने के बाद इन दोनो ने नियमित किस्ते भी अदा नहीं की और बैंक खातों से समस्त राशि निकाल लेने के कारण किस्त अदायगी के लिए बैंक प्रबंधक को दिए गए चैक भी बाउंस हो गए।



कुमार ने बताया कि अनुसंधान से पता चला है कि उक्त राशि से सड़क निर्माण मे काम आने वाली मशीनरी खरीदकर संदीप सिंह द्वारा मध्यप्रदेश मे सड़क निर्माण का ठेका ले रखा है। बांरा मे 150 बीघा जमीन और 50 भैस की डेयरी संचालन करने वाला नवीं पास आरोपी संदीप सिंह अटवाल षडयंत्रपूर्वक अपने पिता अजीत सिंह और चाचा रघुवीर सिंह को षडयंत्र में शामिल कर फर्जी तरीके से बैंक से सवा तीन करोड़ रुपये लेकर फरार हो गया।

पुलिस उप निरीक्षक भगवान सिंह जादौन द्वारा समस्त रिकॉर्ड प्राप्त कर अजीत सिंह व रघुवीर सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। जिनसे पूछताछ जारी है।

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सिटी खबरें से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 28, 2013, 3:31 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

भारत

  • एक्टिव केस

    5,709

     
  • कुल केस

    6,412

     
  • ठीक हुए

    503

     
  • मृत्यु

    199

     
स्रोत: स्वास्थ्य मंत्रालय, भारत सरकार
अपडेटेड: April 10 (08:00 AM)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर

दुनिया

  • एक्टिव केस

    1,152,323

     
  • कुल केस

    1,604,718

    +1,066
  • ठीक हुए

    356,660

     
  • मृत्यु

    95,735

    +42
स्रोत: जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी, U.S. (www.jhu.edu)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर