Home /News /city-khabrain /

पिता ने कहा,हत्या के बाद राम सिंह का शव फंदे से लटकाया

पिता ने कहा,हत्या के बाद राम सिंह का शव फंदे से लटकाया

दिल्ली गैंगरेप मामले में मुख्य आरोपी राम सिंह के परिजनों ने कहा कि तिहाड़ जेल में राम सिंह ने खुदकुशी नहीं की, बल्कि उसकी हत्या की गई है।

दिल्ली गैंगरेप मामले में मुख्य आरोपी राम सिंह के परिजनों ने कहा कि तिहाड़ जेल में राम सिंह ने खुदकुशी नहीं की, बल्कि उसकी हत्या की गई है।

दिल्ली गैंगरेप मामले में मुख्य आरोपी राम सिंह के परिजनों ने कहा कि तिहाड़ जेल में राम सिंह ने खुदकुशी नहीं की, बल्कि उसकी हत्या की गई है।

    नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में 16 दिसंबर, 2012 की रात चलती बस में 23 साल की युवती के साथ हुए गैंगरेप के मामले में मुख्य आरोपी राम सिंह के परिजनों ने सोमवार को कहा कि तिहाड़ जेल में राम सिंह ने खुदकुशी नहीं की, बल्कि उसकी हत्या की गई है।

    रामसिंह के पिता मांगे लाल ने कहा कि मेरे बेटे ने आत्महत्या नहीं की है।. उसकी मां कल्याणी देवी ने आरोप लगाया कि उसके बेटे ने दिखाया था कि गिरफ्तारी के बाद से ही उसे प्रताडित किया जा रहा है। उसके बदन पर कटे के निशान थे। रामसिंह की मां ने कहा कि मेरे बेटे ने गलती की थी। उसने हमारे सामने यह गलती कबूल की थी, लेकिन एक बार गलती करने पर भगवान भी माफ कर देता है। उसे पश्चाताप का मौका भी नहीं दिया गया।

    राम सिंह के पिता मांगे लाल ने तिहाड़ जेल के बाहर संवाददाताओं से कहा कि राम सिंह की हत्या की गई है और बाद में उसे जेल में फंदे से लटका दिया गया। राम सिंह के पिता ने कहा कि उसने हमसे कई बार कहा था कि उसे जेल में खतरा है। उसने इस संबंध में शिकायत भी दर्ज कराई थी।

    मांगे लाल ने कहा कि वह पहले ही गैंगरेप का आरोप स्वीकार कर चुका था और उसने खुद मौत की सजा मांगी थी। हमने भी कहा कि उसे फांसी दी जानी चाहिए। तिहाड़ के कैदियों ने उसे कई बार पीटा था। परिवार ने इस मामले की जांच कराने की मांग की है। जेल के बाहर राम सिंह की मां ने कहा कि वह खुदकुशी नहीं कर सकता। उसने अपना अपराध कबूल किया था। हम इस मामले की जांच चाहते हैं।

    बता दें कि दिल्ली गैंगेरप कांड के मुख्य आरोपी राम सिंह ने तिहाड़ जेल में आज सुबह पांच बजे फांसी के फंदे से लटक कर खुदकुशी कर ली। राम सिंह 16 दिसंबर को दिल्ली में हुए गैंगरेप कांड का मुख्य आरोपी था। राम सिंह वारदात के बाद से ही तिहाड़ जेल में बंद था।

    राम सिंह को सुरक्षा के लिहाज से तिहाड़ जेल के बैरक नंबर तीन में रखा गया था। उसको मिलकर जेल नंबर तीन में सिर्फ तीन ही कैदी थे। राम सिंह को अतिसुरक्षित रखा जा रहा था। जेल के एक वार्डन को खासतौर से उसकी निगरानी के लिए रात में रखा गया था उस पर भी सवाल उठ रहे हैं कि वो आखिर क्या कर रहा था?

    आरोपी राम सिंह के वकील वी के आनंद का कहना है कि खुदकुशी जांच का विषय है और इसके पीछे किसी की साजिश हो सकती है। उनका कहना था कि वो डिप्रेशन में नहीं था। वो बिल्कुल खुश था। उसकी खुदकुशी जांच का विषय है। इसकी जांच होनी चाहिए। तीन महीने के ट्रायल, 45-46 गवाहों से पूछताछ हो गई थी। जिस व्यक्ति को ये विश्वास हो जाए कि वो निर्दोष है, वो आत्महत्या नहीं कर सकता है। सवाल उठता है कि जेल में हत्या होगी तो फिर कैदी कहां सुरक्षित रहेंगे। उनको झूठा फंसाया गया था। ये तो राजनीतिक हत्या है।

    गौरतलब है कि राम सिंह को आज कोर्ट में पेश होना था। लेकिन राम सिंह ने तिहाड़ जेल में ग्रिल से लटकर खुदकुशी कर ली है। राम सिंह जो कपड़े पहने हुए था उसीको फंदा बनाकर उसने फांसी लगा ली। फिलहाल जेल में इस खुदकुशी पर कई सवाल उठ रहे हैं।


    राम सिंह से जुड़ी खबरें

    पढ़ें:कौन था राम सिंह

    पढ़ें:कड़ी निगरानी के बावजूद कैसे लगा ली राम सिंह ने फांसी?

    पढ़ें:13 दिनों तक थमी रही थी दिल्ली की रफ्तार

    पढ़ें: दिल्ली गैंगरेप केस फास्ट ट्रैक कोर्ट में ट्रांसफर

    पढ़ें:5 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल

    Tags: Family members, Suicide, Tihar jail

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर