• Home
  • »
  • News
  • »
  • city-khabrain
  • »
  • योजना तैयार, उत्तर प्रदेश बनेगा अब हरा-भरा

योजना तैयार, उत्तर प्रदेश बनेगा अब हरा-भरा

यूपी में हरियाली बढ़ाने के लिए वन विभाग ने इस साल होने वाले पौधरोपण की कार्य योजना तैयार कर ली है। अभियान के तहत इस साल 49.5 हेक्टेयर क्षेत्र में पौधे लगाए जाने हैं।

यूपी में हरियाली बढ़ाने के लिए वन विभाग ने इस साल होने वाले पौधरोपण की कार्य योजना तैयार कर ली है। अभियान के तहत इस साल 49.5 हेक्टेयर क्षेत्र में पौधे लगाए जाने हैं।

यूपी में हरियाली बढ़ाने के लिए वन विभाग ने इस साल होने वाले पौधरोपण की कार्य योजना तैयार कर ली है। अभियान के तहत इस साल 49.5 हेक्टेयर क्षेत्र में पौधे लगाए जाने हैं।

  • Share this:
    लखनऊ। उत्तर प्रदेश में हरियाली बढ़ाने के लिए वन विभाग ने इस साल होने वाले पौधरोपण की कार्य योजना तैयार कर ली है। पौधारोपण अभियान के तहत इस साल 49.5 हेक्टेयर क्षेत्र में पौधे लगाए जाने हैं। इसके अलावा 1800 हेक्टेयर भूमि पर विशेष ग्रीन बेल्ट विकसित की जाएगी। विशेष ग्रीन बेल्ट विकसित करने की योजना में मुख्यमंत्री द्वारा रुचि लेने के कारण वन विभाग के आला अफसर सारा ध्यान ग्रीन बेल्टों के लिए भूमि चयन व पौधारोपण के पूर्व में कराये जाने वाले कार्य (स्वाइल वर्क) पर केंद्रित किए हैं।

    प्रदेश को हरा-भरा करने के लिए सरकार ने ठोस कार्य योजना तैयार की है। सरकार का निर्देश है कि आने वाली बरसात में 20 जनपदों में एक ही स्थान पर 100 एकड़ और अन्य जनपदों में 5- 50 एकड़ भूमि पर हरियाली और पर्यावरण में विशेष योगदान देने वाले पौधों का रोपण करके ग्रीन बेल्ट तैयार की जाए। विशेष ग्रीन बेल्ट के लिए पौधरोपण प्रत्येक साल चलाए जाने वाले अभियान के अतिरिक्त होगा। शासन से निर्देश मिलने के बाद वन विभाग ने योजना को अमली जामा पहनाने के लिए युद्ध स्तर पर कार्य शुरू कर दिया है।

    पौधरोपण अभियान एक जुलाई से शुरू होगा और 15 जुलाई तक इसे पूरा कर लिया जाएगा। शासन और वन मुख्यालय का सख्त निर्देश मिलने के बाद सभी जनपदों में जमीन चिह्न्ति कर ली गई है। चयनित की गई जमीन पर पौधरोपण के पूर्व का कार्य शुरू कर दिया गया है। विशेष ग्रीन बेल्ट में पीपल, बरगद, पाकड़, नीम, जामुन, महुआ जैसी प्रजातियों के उच्च गुणवत्ता वाले पौधों का रोपण किया जाएगा। रोपित किए जाने वाले पौधों की लंबाई आठ फुट से कम नहीं होगी। विशेष अभियान में लगाए गए पौधों का जिले के साथ ही मुख्यालय स्तर से रख-रखाव की सघन मॉनीटरिंग की जाएगी।

    विशेष ग्रीन बेल्ट के साथ ही अन्य स्थानों पर पौधारोपण का कार्य भी एक जुलाई से शुरू कर दिया जाएगा। रोपित पौधों को जीवित रखने के लिए वनरक्षक स्तर से लेकर डीएफओ तक की सामूहिक जिम्मेदारी तय की गई है। इस बाबत वन विभाग के अपर प्रमुख वन संरक्षक एस के शर्मा ने बताया कि शासन की मंशा के अनुरूप सभी जनपदों में विशेष ग्रीन बेल्ट विकसित करने के साथ ही सामान्य पौधरोपण अभियान की तैयारी की जा रही है।


    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज