नंगा घुमाने को लेकर हाई कोर्ट में रिपोर्ट तलब

वार्ता
Updated: August 1, 2013, 5:40 AM IST
नंगा घुमाने को लेकर हाई कोर्ट में रिपोर्ट तलब
इलाहाबाद हाई कोर्ट ने गोरखपुर पुलिस द्वारा एक आरोपी को नंगा कर हथकड़ी के साथ कचहरी में घुमाने को गंभीरता से लिया है।

इलाहाबाद हाई कोर्ट ने गोरखपुर पुलिस द्वारा एक आरोपी को नंगा कर हथकड़ी के साथ कचहरी में घुमाने को गंभीरता से लिया है।

  • Share this:
इलाहाबाद। इलाहाबाद हाई कोर्ट ने गोरखपुर पुलिस द्वारा एक आरोपी को नंगा कर हथकड़ी के साथ कचहरी में घुमाने को गंभीरता से लिया है। अदालत ने इस मामले में राज्य मानवाधिकार आयोग की सिफारिशों पर राज्य सरकार द्वारा की गई कार्रवाई का तीन सप्ताह में जवाब मांगा है।

मानवाधिकार आयोग ने घटना की जांच कर पुलिसकर्मियों को जिम्मेदार ठहराया है और कहा है कि पुलिसकर्मियों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाए। कोर्ट ने कहा है कि प्रकरण की जांच कर आपराधिक केस दर्ज किया जाए। मानवाधिकार आयोग ने पीड़ित को 25 हजार रुपये देने को भी कहा है।

पीड़ित धर्मेंद्र मांझी ने मुख्य न्यायाधीश को पत्र लिखकर पुलिस ज्यादती का खुलासा कर न्याय की मांग की है। अदालत ने पीड़ित के पत्र को जनहित याचिका के रूप में माना है। गोरखपुर के पुलिस अधीक्षक नगर ने जो अदालत को जानकारी दी उसमें बताया कि आयोग ने कार्रवाई की संस्तुति की है। मुख्य न्यायाधीश शिवकीर्ति सिंह और न्यायमूर्ति विक्रम नाथ ने इस घटना पर मानवाधिकार आयोग की संस्तुति पर कार्रवाई का निर्देश दिया है।

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सिटी खबरें से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 1, 2013, 5:40 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...