लाइव टीवी

HIV पीड़ित परिवार को गांव से निकालने की मुहिम


Updated: November 20, 2009, 2:37 PM IST
HIV पीड़ित परिवार को गांव से निकालने की मुहिम
हैंडपम्पों तक से पानी नहीं भरने दिया जा रहा।

हैंडपम्पों तक से पानी नहीं भरने दिया जा रहा।

  • Share this:
बांदा। उत्तर प्रदेश में चित्रकूट जिले के हडहा गांव में एक परिवार के सभी 10 सदस्य एचआईवी पॉजिटिव हैं। भयभीत ग्रामीण इस परिवार को गांव से निकालने की मुहिम छेड़े हुए हैं। हैंडपम्पों तक से पानी नहीं भरने दिया जा रहा।
जिले के बरगढ़ क्षेत्र के तुर्गवां ग्राम पंचायत के मजरा हडहा गांव में इस परिवार को फुटकर दुकानदार रोजमर्रा का सामान देने से मना कर चुके हैं। बेहद गरीबी का दंश झेल रहे इस परिवार का मुखिया, उसकी पत्नी, दो बेटे, बेटी, बड़ा भाई, भाभी, मंझला भाई, भतीजा और भतीजी एचआईवी पॉजिटिव पाए गए हैं।
पीड़ित ने बताया कि उनके पास इलाज के लिए पैसे नहीं हैं। सरकारी अस्पताल से दवाइयां तो मुफ्त में मिल जाती हैं, पर अस्पताल तक जाने के लिए किराये के लाले पड़ जाते हैं। उसकी पत्नी का कहना है कि गांव के लोग हैण्डपम्प से पानी तक नहीं भरने देते और दुकानदार कुछ भी सामान देने से मना कर चुके हैं। वे गांव से निकल जाने को भी कहते है।
वह इसकी शिकायत तहसील दिवस में आठ बार कर चुकी है। लेकिन किसी भी अधिकारी ने ग्रामीणों को नहीं समझाया। मुख्य चिकित्साधिकारी चित्रकूट डॉ आर.डी. राम ने बताया कि एचआईवी पॉजिटिव परिवार का इलाज कमला नेहरू अस्पताल इलाहाबाद में कराया जा रहा है।



जिलाधिकारी वीएन राय का कहना है कि एचआईवी ग्रस्त परिवार के साथ किए जा रहे व्यवहार की जांच कराई जा रही है। गांव से निकालने की मुहिम छेड़ने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। मरीजों से हमदर्दी दिखाने की जरूरत है।


News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सिटी खबरें से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 20, 2009, 2:37 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर