Home /News /city-khabrain /

बैंक लूटने आया लूटेरा, महिला कैशियर ने ऐसे किया भागने पर मजबूर

बैंक लूटने आया लूटेरा, महिला कैशियर ने ऐसे किया भागने पर मजबूर

उत्तराखंड की राजधानी देहरादून से एक बैंक लूट का मामला सामने आया जहां एक महिला कैशियर की वजह से डकैती आखिरी वक्त में पूरी नहीं हो पाई।

    देहरादून। उत्तराखंड की राजधानी देहरादून से एक बैंक लूट का मामला सामने आया जहां एक महिला कैशियर की वजह से डकैती आखिरी वक्त में पूरी नहीं हो पाई। देहरादून के यूको बैंक में इस लूट को अंजाम देने की कोशिश की गई थी, जहां कुछ ऐसा हुआ कि पैंतालिस सैकेंड की लूट अधूरी ही रह गई।

    दरअसल बैंक में कैश काउंटर पर बैठी महिला की ओर बंदूक तानते हुए लूटेरे ने सारे पैसे इकट्ठा करने का हुक्म दे दिया। लूटेरे के डर से महिला ने दराज में रखे नोटों के बंडल निकालकर कैश काउंटर पर इकट्ठा करना शुरू कर दिया और लुटेरा भी पैसे लेने के लिए पूरी तैयारी से आया था, क्योंकि उसके पास एक बैग भी था। इसके बाद कैशियर ने लुटेरे से कहा कि बैग मुझे दे दो लाओ इसमें नोट डाल देती हूं, लेकिन लुटेरा घबरा गया और उसने बैग को पीछे खींच लिया।

    इसके तीन सैकेंड बाद लुटेरे ने अपना हाथ नोटों की तरफ बढ़ाकर उन्हें समेटना चाहा। लेकिन कैशियर उससे ज्यादा फुतच्ली साबित हुई। उसने महज पांच सैकेंड में नोटों के बंडलों को समेटा और वापस उसी दराज में डाल दिया जहां से उन्हें निकाला था। अचानक हुए इस बदलाव से लुटेरा दहशत में आ गया और बैंक से बाहर भाग निकला।

    वीडियो में साप दिख रहा है कि जिस वक्त लुटेरे ने नोटों को समेटने के लिए हाथ आगे बढ़ाया उस वक्त कैमरे की घड़ी में एक बजकर 6 मिनट और 42 सैकेंड हुए थे। लेकिन महिला कैशियर ने बेहद फुर्ती के साथ नोटों को समेटकर वापस दराज में डाल दिया। इसके बाद पलक झपकते ही लुटेरा भी कैमरे की आंखों से गायब हो गया।

    बता दें ये लूट 90 फीसदी तक कामयाब हो चुकी थी। लेकिन लेडी कैशियर की सूझबूझ ने लुटेरे को भागने पर मजबूर कर दिया। दरअसल ये लुटेरा अनाड़ी था इस बात का सबूत उसने बैंक में दाखिल होते ही दे दिया था। लुटेरा लेडी कैशियर को धमकी दे रहा था लेकिन खुद भी बहुत दहशत में था। लेडी कैशियर ने बहुत चालाकी से हालात का सामना किया। वो पहले नोटों को दराज से निकालने के नाम पर टाइम पास करती रही। इसके बाद जब लुटेरे ने नोटों को बैग में भरने का हुक्म दिया तब भी कैशियर ने नोटों को इकट्ठा करने के नाम पर काफी वक्त लगाया।

    इसी बीच वो लुटेरे के पिस्तौल वाले हाथ को भी बहुत गौर से देख रही थी। उसे अंदाजा हुआ कि शायद पिस्तौल नकली है। उसके बाद महिला ने नोटों को समेटकर दराज में वापस डाला और सायरन बजा दिया। बहरहाल इस पूरे घटनाक्रम ने साबित कर दिया कि अगर बुरे हालात में भी धैर्ये से काम लिया जाए तो मुसीबत का सामना किया जा सकता है। आपने देख ही लिया कैसे उस लेडी कैशियर की बहादुरी और समझदारी ने बैंक को लुटने से बचा लिया।

     

    Tags: उत्तराखंड, देहरादून

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर