दाएं पैर में था फ्रैक्चर, डॉक्टरों ने बाएं पैर का कर दिया ऑपरेशन!

दिल्ली के शालीमार बाग में फोर्टिस अस्पताल की बड़ी लापरवाही सामने आई है। अस्पताल में दाहिने पैर की जगह बाएं पैर का ऑपरेशन कर दिया गया...

News18India.com
Updated: June 23, 2016, 12:56 PM IST
दाएं पैर में था फ्रैक्चर, डॉक्टरों ने बाएं पैर का कर दिया ऑपरेशन!
दिल्ली के शालीमार बाग में फोर्टिस अस्पताल की बड़ी लापरवाही सामने आई है। अस्पताल में दाहिने पैर की जगह बाएं पैर का ऑपरेशन कर दिया गया...
News18India.com
Updated: June 23, 2016, 12:56 PM IST
नई दिल्ली। दिल्ली के शालीमार बाग में फोर्टिस अस्पताल की बड़ी लापरवाही सामने आई है। अस्पताल में दाहिने पैर की जगह बाएं पैर का ऑपरेशन कर दिया गया। पुलिस में इसकी शिकायत तो दर्ज कराई गई है लेकिन इसपर FIR दर्ज नहीं हो सकी है। डॉक्टर्स की कमिटी इस मामले की जांच करेगी।

शालीमार बाग के फोर्टिस अस्पताल में ऑन कैमरा बोलने के लिए कोई आधिकारिक नहीं है इसलिए फोर्टिस ग्रुप ऑफ कंपनीज ने मेल के जरिए गलती मानकर एक्शन की बात कही है। अस्पताल ने अपने 5 स्टाफर को बर्खास्त भी कर दिया है।

दिल्ली के अशोक विहार में रहने वाला रवि राय अकाउंट की पढ़ाई कर रहा है। 19 जून को रवि का पैर सीढ़ियों पर स्लिप हो गया था औ उसमें फ्रैक्चर हो गया था। इसके इलाज के लिए वह दिल्ली के हाई प्रोफाइल अस्पताल फोर्टिस में गए। इलाज के लिए एक लाख रुपए का बिल मेडिक्लेम द्वारा भरा जाना था। रवि ने ये प्रक्रिया भी पूरी कर दी।

लेकिन रवि राय और उसके माता पिता के पैरों तले ज़मीन तब खिसक गई जब उन्हें मालूम हुआ कि डॉक्टर ने राइट साइड की जगह लेफ्ट साइड के पैर का ऑपरेशन कर दिया है। रवि के राइट साइड पैर में एड़ी के पास फ्रैक्चर था। अस्पताल के डॉक्टरों ने लेफ्ट साइड के पैर की एड़ी में स्क्रू भी डाल दिए। जैसे ही रवि और उसके परिजनों को यह पता लगा उनके होश उड गए। रवि के परिजनों के मुताबिक अस्पताल ने अपनी गलती मानी और फिर से दूसरा ऑपरेशन करने की बात कही।

इतनी बड़ी लापरवाही होने के बाद रवि के परिजन डर गए और उन्होंने अस्पताल से इलाज न कराकर ऑपरेशन के लिए अपने बेटे रवि को दूसरे अस्पताल में ले गए।
First published: June 23, 2016, 12:44 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...