लाइव टीवी

फर्जी वीजा पर विदेश भेजता था ये गैंग, मुंबई पुलिस ने किया गिरफ्तार

News18India
Updated: September 12, 2016, 12:21 AM IST

मुंबई पुलिस एक ऐसे गैंग को पकड़ा है जो फर्जी तरीके से वर्किंग वीजा पर लोगों को विदेश भेजता था, और इसके बदले उनसे लाखों रुपए ऐंठ लेता था।

  • News18India
  • Last Updated: September 12, 2016, 12:21 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली।  अगर आप वर्किंग वीजा पर विदेश जाने की चाहत रखते हैं, तो ये खबर आपके लिए है। कहीं ऐसा ना हो कि कोई एजेंट आपको अपने जाल में फंसाकर फर्जी वीजा पर विदेश भेजने की कोशिश करे, और आप मुसीबत में पड़ जाएं। मुंबई पुलिस एक ऐसे गैंग को पकड़ा है जो फर्जी तरीके से वर्किंग वीजा पर लोगों को विदेश भेजता था, और इसके बदले उनसे लाखों रुपए ऐंठ लेता था।

चौंकाने वाली बात तो ये है कि जिन लोगों को वर्किंग वीजा पर विदेश भेजा जाता था, उन लोगों को पता ही नहीं होता था कि उनको गलत तरीके से विदेश भेजा जा रहा है। इस मामले में मुंबई पुलिस ने कई ट्रैवेल एजेंट्स के दफ्तरों पर छापेमारी कर तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपी ट्रैवल एजेंट विदेश जाने की चाहत रखने वाले शख्स से 1 से 2 लाख रुपए तक लेते थे।

पैसे लेने के बाद एजेंट ग्राहक को वर्किंग वीजा पर भेजने का दावा करते थे, लेकिन हकीकत में वो टूरिस्ट वीजा होता था। पहले ग्राहक टूरिस्ट वीजा पर विदेश पहुंच जाता था, बाद में उसी के कागजात पर वर्किंग वीजा बनवाया जाता था, और उस वीजा पर ट्रैवल एजेंट के आदमी विदेश जाते थे क्योंकि उन्हें इमिग्रेशन अधिकारियों को चकमा देने का तरीका पता होता था  फिर ग्राहक के टूरिस्ट वीजा को हटाकर उस पर वर्किंग वीजा चिपका दिया जाता था

पुलिस के मुताबिक इस मामले में वर्किंग वीजा मिलने की तमाम नियमों का उल्लंघन होता था। वर्किंग वीजा हासिल करने के लिए जरूरी है कि विदेश जाने वाले शख्स के खिलाफ कोई पुलिस केस ना हो, वो 12वीं पास हो और दिमागी रूप से ठीक हो।



पुलिस को आरोपियों के पास से सैकड़ों पासपोर्ट और गल्फ देशों के वीजा मिले हैं। मुंबई पुलिस के मुताबिक इस गिरोह के तार मुंबई के अलावा दूसरे शहरों से भी जुड़ें हो सकते हैं। पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ कर पुलिस दूसरे आरोपी ट्रैवल एजेंट्स की धरपकड़ में जुट गई है।

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सिटी खबरें से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 11, 2016, 9:46 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर