Home /News /city-khabrain /

सोने के मुकुट बनाने वाले कारोबारी पर इनकम टैक्स का छापा, फर्जी कंपनी बना जमा किए करोड़ों

सोने के मुकुट बनाने वाले कारोबारी पर इनकम टैक्स का छापा, फर्जी कंपनी बना जमा किए करोड़ों

आयकर विभाग (इनकम टैक्स) की टीम ने वाराणसी में सोने-चांदी का मुकुट बनाने वाले एक कारोबारी के यहां छापा मारा जिसने फर्जी कंपनी बनाकर बैंक में 2.35 करोड़ रुपये जमा कराये थे।

आयकर विभाग (इनकम टैक्स) की टीम ने वाराणसी में सोने-चांदी का मुकुट बनाने वाले एक कारोबारी के यहां छापा मारा जिसने फर्जी कंपनी बनाकर बैंक में 2.35 करोड़ रुपये जमा कराये थे।

आयकर विभाग (इनकम टैक्स) की टीम ने वाराणसी में सोने-चांदी का मुकुट बनाने वाले एक कारोबारी के यहां छापा मारा जिसने फर्जी कंपनी बनाकर बैंक में 2.35 करोड़ रुपये जमा कराये थे।

    वाराणसी। आयकर विभाग (इनकम टैक्स) की टीम ने वाराणसी में सोने-चांदी का मुकुट बनाने वाले एक कारोबारी के यहां छापा मारा जिसने फर्जी कंपनी बनाकर बैंक में 2.35 करोड़ रुपये जमा कराये थे। ये रुपये नोटबंदी की घोषणा के बाद दस से 29 नवंबर के बीच जमा किये गये थे। इनमें से 1.78 करोड़ रुपये आयकर टीम ने जब्त करते हुए उसे सरकारी खजाने में जमा करा दिया है। शेष लेन-देन की जांच की जा रही है।

    आयकर विभाग के सहायक निदेशक (जांच) जी.एस. निर्वाण ने यह जानकारी दी। निर्वाण ने बताया कि चौखंभा निवासी कारोबारी सुधीर रस्तोगी ने कोलकाता में हिमाद्रि विनकॉम प्रा. लि. नामक एक फर्जी कंपनी बनाई थी और उसके निदेशक की हैसियत से वाराणसी में एक्सिस बैंक की चौक शाखा में 2.35 करोड़ रुपये जमा कराये थे। बैंक के रिकॉर्ड में कंपनी का जो पता दर्ज कराया गया है, उसकी कोलकाता में जांच कराई गई तो उस पते पर कोई कंपनी नहीं मिली।

    उन्होंने बताया कि सुधीर ने शुरुआती पूछताछ में यह कहते हुए बचने की कोशिश की कि उसने कंपनी से पहले ही इस्तीफा दे दिया है। कोलकाता के पते पर भी इस नाम की कोई कंपनी नहीं मिली। लेकिन बैंक के रिकॉर्ड खंगाले गये तो अथॉरिटी लेटर पर भी सुधीर और उसकी पत्नी के हस्ताक्षर थे। जांच-पड़ताल में यह भी जानकारी मिली कि इन लोगों ने कई खातों में रुपये ट्रांसफर भी कर दिए थे। खाते में एक करोड़ 78 लाख 22 हजार 548 रुपये बचे थे।

    निर्वाण ने बताया कि खाते में बचे रुपयों का डीडी बनवाकर उसे सरकारी खजाने में जमा करा दिया गया है। बाकी रुपये कहां ट्रांसफर किये गये, इसकी जांच की जा रही है। इसके अलावा अन्य खातों की जांच की जा रही है। आयकर विभाग ने बैंक से सीसीटीवी फुटेज समेत अन्य रिकॉर्ड भी तलब किए हैं।

    Tags: Income tax, Raid, वाराणसी

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर