लाइव टीवी

JNU में देश विरोधी नारेबाजी के आरोपी भी डाल सकेंगे वोट

ओम प्रकाश | News18India.com
Updated: September 8, 2016, 9:38 PM IST
JNU में देश विरोधी नारेबाजी के आरोपी भी डाल सकेंगे वोट
जेएनयू इलेक्शन कमेटी की चेयरपर्सन इशिता माना ने बताया की जेएनयू प्रशासन ने 30 लोगों के नाम मतदाता सूची में दर्ज करने के लिए कहा था, उसमें नौ फरवरी की नारेबाजी के आरोपी भी हो सकते हैं।

जेएनयू इलेक्शन कमेटी की चेयरपर्सन इशिता माना ने बताया की जेएनयू प्रशासन ने 30 लोगों के नाम मतदाता सूची में दर्ज करने के लिए कहा था, उसमें नौ फरवरी की नारेबाजी के आरोपी भी हो सकते हैं।

  • Share this:
नई दिल्ली। जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में नौ फरवरी को हुई देश विरोधी नारेबाजी के आरोपियों को भी छात्र संघ चुनाव में वोटिंग करने का अधिकार मिल गया है। 9 सितंबर को जेएनयू छात्र संघ का चुनाव है। नौ फरवरी को इसके कैंपस में हुई देश विरोधी नारेबाजी ने देश की राजनीति में जबरदस्त चर्चा छेड़ दी थी।

आइसा के पदाधिकारी ओम प्रसाद ने बताया कि जेएनयू प्रशासन की कार्रवाई पर कोर्ट ने रोक लगा दी थी, इसलिए छात्रों को मतदान की इजाजत दी गई है। लेफ्ट के कुल 20 छात्र आरोपी बनाए गए थे। जबकि उनके खिलाफ प्रदर्शन करने वाले एबीवीपी नेता सौरभ शर्मा को भी मतदान करने की इजाजत मिल गई है।

सौरभ ने बताया कि उन्हें पहले वोटिंग के अधिकार से वंचित किया गया था लेकिन बाद में यह अधिकार बहाल कर दिया गया। जेएनयू इलेक्शन कमेटी की चेयरपर्सन इशिता माना ने बताया की जेएनयू प्रशासन ने 30 लोगों के नाम मतदाता सूची में दर्ज करने के लिए कहा था, उसमें नौ फरवरी की नारेबाजी के आरोपी भी हो सकते हैं। मैं उनके नाम नहीं बता सकती। जेएनयू में कुल 8300 वोट हैं। 
First published: September 8, 2016, 8:50 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading