लाइव टीवी

शीना मर्डर केस: इंद्राणी से सच उगलवाने में पुलिस के छूटे पसीने

भाषा
Updated: September 5, 2015, 8:05 PM IST
शीना मर्डर केस: इंद्राणी से सच उगलवाने में पुलिस के छूटे पसीने
शीना बोरा हत्याकांड की मुख्य आरोपी इंद्राणी से सच उगलवाने में अब तक नाकाम रही मुंबई पुलिस को आखिरकार कहना पड़ा कि यह बेहद मुश्किल काम है।

शीना बोरा हत्याकांड की मुख्य आरोपी इंद्राणी से सच उगलवाने में अब तक नाकाम रही मुंबई पुलिस को आखिरकार कहना पड़ा कि यह बेहद मुश्किल काम है।

  • Share this:
मुंबई। शीना बोरा हत्याकांड की मुख्य आरोपी इंद्राणी से सच उगलवाने में अब तक नाकाम रही मुंबई पुलिस को आखिरकार कहना पड़ा कि यह बेहद मुश्किल काम है। मुंबई पुलिस को कहना पड़ा कि इंद्राणी सहयोग नहीं कर रही हैं और उनसे कुछ उगलवाना बहुत मुश्किल है। अभियोजन का कहना है कि इस मामले में अभी भी एक बड़े दायरे को जांच में समेटना बाकी है।

इससे पहले इंद्राणी, ड्राइवर और संजीव खन्ना को पुलिस हिरासत की 14 दिन की समय सीमा खत्म होने से दो दिन पहले आज दोपहर कड़ी सुरक्षा के बीच उपनगर बांद्रा में न्यायाधीश एसएम चांदगडे की अदालत में पेश किया गया। अदालती कार्यवाही के बाद उन्हें फिर से आगे की पूछताछ के लिए खार पुलिस थाने ले जाया गया।

हिरासत का अनुरोध करते हुए विशेष लोक अभियोजक वैभव बागडे ने कहा कि आरोपी इंद्राणी सहयोग नहीं कर रही हैं। बागडे ने कहा कि जांच का दायरा बड़ा है। आरोपी से कुछ उगलवाना बहुत मुश्किल है। उन्होंने हत्या की साजिश के लिए ईमेल और इंटरनेट का प्रयोग किया है। अब तक हुई प्रगति पहले से ही सामने है। हमने एक भी दिन व्यर्थ नहीं किया है। उन्होंने पीड़ित के नाम से झूठे ईमेल भेजे। इंद्राणी ने फर्जी ईमेल आईडी बनाई। जांच के दायरे को देखते हुए हिरासत कम है। उन्होंने कहा कि यह पता करने की कोशिश की जा रही है कि और किस-किस ने इंद्राणी की मदद की। ऐसे में पुलिस को जांच के लिए और समय चाहिए।



बागडे ने कहा कि हमें ईमेल का अध्ययन करना है। अपराध अलग-अलग क्षेत्रों में हुआ। आरोपी इंद्राणी और संजीव खन्ना के बैंक खाते ब्रिटेन और मुंबई में हैं। हमें इन खातों से हुए भुगतान की जांच करनी है। हमें इंद्राणी का क्रेडिट कार्ड बरामद करना है। आरोपी ने सहयोग को लेकर पूरी तरह से अनिच्छा दिखाई है। धारा 307 (हत्या का प्रयास) के तहत अतिरिक्त आरोप जोड़ा गया है। ऐसे में पुलिस को और समय चाहिए।



अभियोजन की दलीलों को खारिज करते हुए बचाव पक्ष ने कहा कि इंद्राणी कट्टर अपराधी नहीं हैं। उन्होंने पुलिस पर मीडिया ट्रायल करने और पूर्वाग्रह के साथ कार्रवाई का आरोप लगाया। इंद्राणी, उनके पूर्व पति संजीव खन्ना और पूर्व चालक श्यामवर राय को अप्रैल 2012 में शीना की हत्या करने और उसका शव रायगढ़ के जंगलों में फेंकने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सिटी खबरें से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 5, 2015, 8:05 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading