लाइव टीवी

महिलाओं के नाइटी पहन कर जाने पर बैन, प्रशासन ने कहा- अशुद्ध होने से बचाया मंदिर

भाषा
Updated: May 5, 2016, 11:40 AM IST
महिलाओं के नाइटी पहन कर जाने पर बैन, प्रशासन ने कहा- अशुद्ध होने से बचाया मंदिर
मुंबई के डोंबिवीली के तीन मंदिरों में नाइटगाउन पहने हुए महिलाओं की एंट्री को बैन कर दिया गया है। मंदिर प्रशासन का मानना है कि ऐसा करने के पीछे की वजह मंदिर को अशुद्ध होने से बचाना है।

मुंबई के डोंबिवीली के तीन मंदिरों में नाइटगाउन पहने हुए महिलाओं की एंट्री को बैन कर दिया गया है। मंदिर प्रशासन का मानना है कि ऐसा करने के पीछे की वजह मंदिर को अशुद्ध होने से बचाना है।

  • Share this:
मुंबई। मुंबई के डोंबिवीली के तीन मंदिरों में नाइटगाउन पहने हुए महिलाओं की एंट्री को बैन कर दिया गया है। मंदिर प्रशासन का मानना है कि ऐसा करने के पीछे की वजह मंदिर को अशुद्ध होने से बचाना है। गामदेवी, महादेओ और हनुमान मंदिरों के प्रशासन का कहना है कि नाइटी में महिला की मंदिर में एंट्री करने से मंदिर अशुद्ध हो सकता है।

प्रशासन ने अपने इस अजीबोगरीब फैसले के पीछे तर्क दिया है कि महिलाएं घरों में नाइटी पहन कर नॉन वेज बनाती हैं और घर के अन्य काम करती हैं। ऐसे में उनका नाइटी पहन कर मंदिर में घुसना अशुद्ध है।

शिवसेना के रामेश महात्रे जो मंदिर की देखरेख करते हैं का कहना है कि हमें इस फैसले में स्थानीय लोगों का समर्थन भी मिला है। लोगों को हमारे इस फैसले पर कोई आपत्ति नहीं है।

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सिटी खबरें से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 5, 2016, 11:20 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर