गोड्डा जिले में हुई बर्ड फ्लू की पुष्टि, जिला प्रशासन ने जारी किया अलर्ट

बर्ड फ्लू की खबर के बाद मुर्गा बाजार में आई मंदी

बर्ड फ्लू की खबर के बाद मुर्गा बाजार में आई मंदी

जिला पशुपालन विभाग के अनुसार रेपिड रिस्पोंस टीम का गठन पूरे जिले भर के लिए कर दिया गया है. साथ ही यह हिदायत भी जारी की गई है कि अगले दो से तीन माह तक मुर्गियों, खासकर पोल्ट्री फार्म की मुर्गियों का सेवन लोग नहीं करें.

  • Share this:

झारखंड के गोड्डा जिले में बर्ड फ्लू की पुष्टि हो गई है. विगत 21 जनवरी को न्यूज़18 ने कौओं और मुर्गियों की अचानक हो रही मौतों पर एक खबर दिखाई थी. उसके बाद जिला प्रशासन और पशुपालन विभाग हरकत में आया था. विभाग द्वारा मृत कौओं और मुर्गियों के सैंपल को भोपाल जांच के लिए भेजा था, जहां से इन पक्षियों की बर्ड फ्लू से ही मौत की पुष्टि हो गई है. राज्य सरकार के स्वास्थ्य सचिव द्वारा जारी किए गए निर्देश के बाद जिला पशुपालन विभाग भी हरकत में आ गया है. बोकारो में भी इसी तरह कौओं के बड़ी संख्या में मृत मिलने से वहां के लोगों में दहशत है.

जिला पशुपालन विभाग के अनुसार रेपिड रिस्पोंस टीम का गठन पूरे जिले भर के लिए कर दिया गया है. साथ ही यह हिदायत भी जारी की गई है कि अगले दो से तीन माह तक मुर्गियों, खासकर पोल्ट्री फार्म की मुर्गियों का सेवन लोग नहीं करें. विदित हो कि जिला मुख्यालय स्थित उपायुक्त आवास और मेहरमा के कुछ गांवों में कौवों की मौत होने के बाद ये कार्यवाही शुरू हुई थी. वहीं बोकारो के गोमिया प्रखंड में भी इसी तरह से कौवों के बड़ी संख्या में मिलने के बाद वहां पशु पालन विभाग ने मृत कौओं के साथ पोल्ट्री फार्मों से मुर्गियों के मांस और रक्त के नमूने जांच को भेजे हैं.

यह भी पढ़ें - गांधी परिवार से लेकर ममता बनर्जी तक, तमाम विपक्ष पर खूब बरसे संबित पात्रा



यह भी पढ़ें - झारखंड विधानसभा का बजट सत्र समाप्त, सत्तापक्ष का वार- चुनाव के कारण विपक्ष ने चलने दिया सदन

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज