असम: डॉक्टर ने सो रहे बच्चे पर डाल दिया खौलता पानी, खड़ी-खड़ी देखती रही पत्नी

असम: डॉक्टर ने सो रहे बच्चे पर डाल दिया खौलता पानी, खड़ी-खड़ी देखती रही पत्नी
माइनर हाउस हेल्पर पर गर्म पानी डालने के आरोप में पुलिस ने डिब्रूगढ़ के एक डॉक्टर और उसकी पत्नी को गिरफ्तार किया. (फोटो - सौजन्य से सोशल मीडिया)

पुलिस ने बताया कि असम मेडिकल कॉलेज व हॉस्पिटल के डॉक्टर सिद्धि प्रसाद देउरी और मोरन कॉलेज की प्रिंसिपल उनकी पत्नी मिताली कुंवर घटना के बाद मौके से फरार हो गए थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 6, 2020, 12:53 PM IST
  • Share this:
गुवहाटी. असम के नगांव में एक डॉक्टर और उनकी पत्नी को घर में सो रहे 12 वर्षीय घरेलू सहायक पर उबलता पानी उंडेलने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने शनिवार रात यह जानकारी देते हुए बताया कि असम मेडिकल कॉलेज व हॉस्पिटल के डॉक्टर सिद्धि प्रसाद देउरी और मोरन कॉलेज की प्रिंसिपल उनकी पत्नी मिताली कुंवर घटना के बाद मौके से फरार हो गए थे. पुलिस ने उनकी धरपकड़ के लिए दबिश दी, जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया.

पुलिस के मुताबिक, देउरी पर आरोप है कि डिब्रुगढ़ स्थित अपने घर में सो रहे नाबालिग घरेलू सहायक पर उबलता पानी डाल दिया. इससे वह बुरी तरह झुलस गया. वहीं इस घटना की चश्मदीद उनकी पत्नी पर लड़के की कोई मदद या उपचार न कराने का आरोप है. बताया जाता है कि घटना के वक्त देउरी नशे में धुत्त थे.

जब इस मामले की जानकारी जिला बाल कल्याण समिति को मिली तो उन्होंने बच्चें को रेस्क्यू कराया और पुलिस को सूचित किया. बताया जा रहा है कि जिला बाल कल्याण समिति को इस मामले की जानकारी 29 अगस्त को एक अज्ञात स्त्रोत के जरिए मिली थी, जिसने इस पूरी वारदात का वीडियो जिला बाल कल्याण समिति के पास भेजा. वहीं फिलहाल बच्चे को चाइल्ड केयर सेंटर में रखा गया है, जहां पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ बच्चे का बयान दर्ज किया.







अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) जीपी सिंह ने कहा, 'डिब्रूगढ़ के दंपति जिन्होंने हाउस हेल्पर पर गर्म पानी डाला था, उन्हें नगांव से गिरफ्तार कर लिया गया है.' दंपति के खिलाफ बाल और किशोर श्रम निषेध अधिनियम और जुवेनाइल जस्टिस एक्ट विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है.

उन्होंने बताया कि पुलिस दंपती के घर पहुंची थी, ताकि उनसे पूछताछ की जा सके, लेकिन वहां पहुंचकर पता चला कि आरोपी डॉक्टर देउरी कैंसर का मरीज है और उसे सैलाइन चढ़ाया जा रहा था. दोनों को जल्द से जल्द स्थानीय पुलिस स्टेशन पर रिपोर्ट करने के लिए कहा गया था. हालांकि, दंपति वहां से फरार हो गए, जिसके बाद पुलिस ने उनकी तलाश कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज