अजीत सिंह हत्याकांड: मुख्य साजिशकर्ता प्रदीप सिंह कबूतरा ने आजमगढ़ कोर्ट में किया सरेंडर

अदालत ने आत्मसमर्पण करने वाले आरोपी प्रदीप सिंह कबूतरा को पुलिस अभिरक्षा में जेल भेज दिया है

अदालत ने आत्मसमर्पण करने वाले आरोपी प्रदीप सिंह कबूतरा को पुलिस अभिरक्षा में जेल भेज दिया है

अजीत सिंह हत्याकांड (Ajit Singh Murder) में शामिल अपराधियों को शरण देने और उन्हें मदद पहुंचाने के मामले में आजमगढ़ (Azamgarh) के तरंवा थाना क्षेत्र के कबूतरा गांव निवासी प्रदीप सिंह कबूतरा आरोपित है. इस मामले में वारदात के बाद से ही वो फरार चल रहा था

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 17, 2021, 4:48 PM IST
  • Share this:
आजमगढ़. बीते छह जनवरी को लखनऊ में मऊ जिले के मोहम्मदाबाद के ब्लॉक प्रमुख अजीत सिंह की ताबड़तोड़ गोली मारकर हुई हत्या (Ajit Singh Murder) मामले में आरोपी प्रदीप सिंह कबूतरा ने आजमगढ़ दीवानी न्यायालय में सरेंडर (Surrender) कर दिया है. अपर सत्र न्यायाधीश कोर्ट से ही बहुचर्चित धनराज हत्याकांड के मामले में वारंट जारी हुआ था. अदालत ने आरोपी को पुलिस अभिरक्षा में जेल भेज दिया है.

अजीत सिंह हत्याकांड में शामिल अपराधियों को शरण देने और उन्हें मदद पहुंचाने के मामले में आजमगढ़ के तरंवा थाना क्षेत्र के कबूतरा गांव निवासी प्रदीप सिंह कबूतरा आरोपित है. इस मामले में वारदात के बाद से ही वो फरार चल रहा था. पुलिस लगातार उसकी तलाश कर रही थी. पुलिस की बढ़ती घेराबंदी के बीच प्रदीप ने बीते पांच अप्रैल को लखनऊ स्थित सीजेएम कोर्ट में आत्मसमर्पण की अर्जी डाली थी लेकिन वो कचहरी नहीं पहुंचा. इस बीच, लखनऊ पुलिस ने बीते गुरूवार को लखनऊ, जौनपुर और आजमगढ़ में शूटरों के मददगार विपुल सिंह और कुणाल की गिरफ्तारी के लिए भी छापेमारी की थी.

पुलिस की दबिश से घबराया प्रदीप सिंह कबूतरा शनिवार की दोपहर दीवानी न्यायालय में पहुंचा और अपर सत्र न्यायाधीश कोर्ट नंबर एक की अदालत में आत्मसपर्ण कर दिया. अपर सत्र न्यायाधीश कोर्ट नम्बर एक से ही बहुचर्चित ट्रासपार्टर धनराज की 11 मई, 2013 में हुई हत्या के मामले में प्रदीप सिंह कबूतरा के खिलाफ वारंट जारी हुआ था. इसी मामले में प्रदीप सिंह कबूतरा कोर्ट में हाजिर हुआ है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज