बाड़मेर में सेना के फर्जी ID कार्ड के साथ दो लोग गिरफ्तार, गुजरात नंबर की कार भी जब्त

पुलिस के द्वारा यह पूछे जाने पर कि वो सेना की फर्जी आईडी कार्ड क्यों ले जा रहे थे, इस पर दोनों आरोपी कोई जवाब नहीं दे सके
पुलिस के द्वारा यह पूछे जाने पर कि वो सेना की फर्जी आईडी कार्ड क्यों ले जा रहे थे, इस पर दोनों आरोपी कोई जवाब नहीं दे सके

सोमवार को बाड़मेर-अहमदाबाद राष्ट्रीय राजमार्ग (National Highway) के टोल नाके पर सेना की गुप्तचर विंग ने इन युवकों की गतिविधियों पर संदेह जताया था. इसकी सूचना मिलने पर बाड़मेर पुलिस (Barmer Police) ने नाकाबंदी लगाई और वहां से गुजरने वाले दो लोगों को सेना के फर्जी आईकार्ड (Fake ID Card) के साथ धर दबोचा

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 17, 2020, 10:19 PM IST
  • Share this:
बाड़मेर. राजस्थान के बाड़मेर (Barmer) में सेना की फर्जी आईडी (Fake Army ID) बनाने वाले गिरोह का पर्दाफाश हुआ है. पुलिस ने सूचना मिलने पर कार्रवाई करते हुए गुजरात (Gujarat) निवासी दो लोगों को सेना के फर्जी आईकार्ड (Fake ID Card) के साथ गिरफ्तार किया है. सरहदी बाड़मेर में सेना के फर्जी आईकार्ड लेकर जा रहे दो लोगों की गिरफ्तारी से हड़कंप मच गया है. सदर थाना पुलिस ने नाकेबंदी लगा कर गुजरात के रहने वाले दो संदिग्धों को पकड़ा है. गिरफ्तार युवकों के पास पुलिस को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) के फर्जी आईडी कार्ड मिले हैं. साथ ही गुजरात नंबर का एक सैंट्रो कार (Santro Car) भी जब्त किया है.

सदर थाने के कार्यवाहक थानाधिकारी सब-इंस्पेक्टर (SI) जाकिर अली के नेतृत्व में यह बड़ी कार्रवाई की गई है. उन्होंने बताया कि गिरफ्तार नवगुण भाई देसाई और विक्रम भाई खोडला गुजरात के बनासकांठा जिले के निवासी है. सोमवार को बाड़मेर-अहमदाबाद राष्ट्रीय राजमार्ग (National Highway) के टोल नाके पर सेना की गुप्तचर विंग ने इन युवकों की गतिविधियों पर संदेह जताया था. इसकी सूचना मिलने पर बाड़मेर पुलिस ने नाकाबंदी लगाई और वहां से गुजरने वाले दो लोगों को धर दबोचा.





अली के मुताबिक पुलिस के द्वारा यह पूछे जाने पर कि वो सेना की फर्जी आईडी कार्ड क्यों ले जा रहे थे, इस पर दोनों आरोपी कोई जवाब नहीं दे सके. सरहदी इलाके में सेना के फर्जी आईकार्ड के साथ अन्य राज्य के लोगों की गिरफ्तारी का यह पहला मामला है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज