Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    बुलंदशहर में LLB छात्रा का अपहरण कर गैंगरेप, इंसाफ नहीं मिलने पर पीड़िता ने लगाई फांसी

    पीड़ित लॉ छात्रा ने जो सुसाइड नोट लिख छोड़ा है उसके मुताबिक उसके साथ गैंगरेप हुआ लेकिन पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की (प्रतीकात्मक तस्वीर)
    पीड़ित लॉ छात्रा ने जो सुसाइड नोट लिख छोड़ा है उसके मुताबिक उसके साथ गैंगरेप हुआ लेकिन पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की (प्रतीकात्मक तस्वीर)

    छात्रा के पिता ने बताया कि तीन युवकों ने अक्टूबर महीने में उनकी बेटी का अपहरण कर उसके साथ गलत काम (गैंगरेप) किया था. लेकिन पुलिस ने उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की. इससे क्षुब्ध होकर उनकी बेटी ने सोमवार को आत्महत्या कर ली

    • News18Hindi
    • Last Updated: November 17, 2020, 12:01 AM IST
    • Share this:
    बुलंदशहर. उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर (Bulandshahr) में एक लॉ स्टूडेंट के फांसी लगाकर आत्महत्या करने का मामला सामने आया है. छात्रा ने खुदकुशी करने से पहले कमरे में सुसाइड नोट (Suicide Note) लिखकर छोड़ा है जिसमें उसने कहा कि बीते तीन अक्टूबर को कमरुद्दीन नाम के युवक ने अपने दोस्तों के साथ उसका अपहरण कर गलत काम (रेप) करने की कोशिश की थी. इसकी शिकायत उसने अनूपशहर कोतवाली में की थी. लेकिन आरोपी कमरुद्दीन ने उससे माफी मांग ली थी और शादी करने का वायदा किया था. इसके बाद युवती ने आरोपी कमरुद्दीन को माफ कर दिया था.

    सुसाइड नोट में युवती के लिखे के मुताबिक 16 अक्टूबर को कमरुद्दीन ने उसे बहला-फुसलाकर मिलने के लिए बाहर बुलाया और अपने दोस्तों के साथ उठाकर ले गया. इसके बाद कमरुद्दीन और उसके दोस्तों ने  उसके साथ गैंगरेप किया. पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने 24 अक्टूबर को मुकदमा दर्ज करने के बाद भी आरोपियों के खिलाफ अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की. इंसाफ नहीं मिलता देख पीड़ित युवती ने अपने कमरे में फांसी लगाकर जान दे दी. मृतका के पिता ने बताया कि तीन युवकों ने उनकी बेटी के साथ गलत काम किया था लेकिन पुलिस ने उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की. इससे क्षुब्ध होकर उनकी बेटी ने सोमवार को आत्महत्या कर ली.

    मृतक एलएलबी छात्रा के कमरे से मिला सुसाइड नोट जिसमें उसने अपनी आपबीती बयां की है




    इस पर बुलंदशहर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) संतोष कुमार सिंह ने कहा कि पूरे मामले की गहनता से जांच कराई जा रही है. सोमवार को पीड़िता के द्वारा आत्महत्या के बाद मुकदमे के विवेचक (IO) को सस्पेंड कर दिया गया है. साथ ही अनूपशहर कोतवाली के इंस्पेक्टर और अनूपशहर सीओ की एसपी क्राइम के द्वारा पूरे घटनाक्रम की जांच कराई जा रही है. उन्होंने बताया कि 24 घंटे में इसकी रिपोर्ट देने के आदेश किए गए हैं, जो भी तथ्य सामने आएंगे, उनके आधार पर आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज