Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    रायबरेली: दबंगों ने देर रात शिक्षा अधिकारी के घर बोला हमला, SP से लगाई सुरक्षा की गुहार

    पुलिस पीड़ित शिक्षा अधिकारी के बयान पर केस दर्ज कर मामले की छानबीन में जुटी है.
    पुलिस पीड़ित शिक्षा अधिकारी के बयान पर केस दर्ज कर मामले की छानबीन में जुटी है.

    रायबरेली (Rae Bareli) में जिला विद्यालय निरीक्षक डॉ. चंद्रशेखर मालवीय के हॉस्टल में कुछ दबंग आ धमके और उनको गालियां देनी शुरू कर दीं. हालांकि पुलिस (Police) के आने से पहले दबंग मौके से भाग निकले.

    • Share this:
    रायबरेली. यूपी सरकार कानून व्यवस्था (Law & Order) को दुरुस्त करने को लेकर लगातार दावा कर रही है. वहीं विपक्ष लगातार कानून-व्यवस्था को लेकर सरकार को घेरे हुए है. इन सबके बीच दबंग (Bullies) अधिकारियों पर हमला करने से बाज नहीं आ रहे हैं. ऐसा ही एक मामला डिप्टी सीएम के प्रभार वाले जिले रायबरेली में सामने आया, जहां शुक्रवार देर रात दबंगों ने फिल्ड हॉस्टल में रह रहे डीआईओएस (DIOS) के घर धावा बोल दिया. कार से पहुंचे दबंगों ने डीआइओएस का नाम लेकर गाली गलौज की. और जान से मारने तक की धमकी दी. शोर सुनकर आसपास के कमरों में सो रहे अफसर भी जाग गए. पुलिस (Police) के पहुंचने से पहले आरोपित फरार हो गए. कोतवाली पुलिस मामले की पड़ताल में जुटी है.

    कोतवाली थानाक्षेत्र स्थित सिविल लाइन पुलिस चौकी से चंद कदम दूर पीडब्ल्यूडी गेस्ट हाॅउस से सटे फिल्ड हॉस्टल में जिले के कई विभागों के अफसर रहते हैं. इसी फिल्ड हॉस्टल के दूसरे माले पर जिला विद्यालय निरीक्षक डॉ. चंद्रशेखर मालवीय का आवासीय कक्ष है. शुक्रवार रात करीब दस बजे कुछ लोग काली कार से उनके घर पर आ धमके और डीआइओएस का नाम लेते हुए गालियां देनी शुरू कर दीं. कमरे का दरवाजा खटखटाने लगे. फिल्ड हॉस्टल में दबंगों की गुंडई देखकर परिसर में रहने वाले अफसरों ने इसकी सूचना कोतवाली पुलिस को दी. पुलिस के पहुंचने से पहले ही अराजकतत्व मौके से फरार हो गए.

    शहर के सबसे वीआईपी में घटना से हड़कंप



    शहर के सबसे वीआईपी और सुरक्षित इलाके में इस घटना से पुलिस महकमा में हड़कंप मच गया. काफी देर तक कार सवारों की तलाश की गई, लेकिन दबंगों का पता नहीं चला. देर रात तक पुलिस का पहरा लगा रहा. हालांकि अभी तक डीआइओएस की ओर से कोई तहरीर पुलिस को नहीं मिली है, लेकिन डीआईओएस ने एसपी से मिलकर मामले की जानकारी दी और अपने लिए सुरक्षा गार्ड की मांग की. एसपी से मिलने के बाद डीआइओएस ने बताया कि कुछ लोगों द्वारा दरवाजा खटखटाने, गाली गलौज और जान से मारने की धमकी देकर फरार हो गए.
    पुलिस अधीक्षक ने कहा कि डीआईओएस ने प्रार्थना पत्र दिया है कि उनके घर पर कुछ लोगों ने हमला बोल दिया और गालियां दीं. इस मामले की जांच सीओ सिटी को सौंपी गई है. डीआईओएस की सुरक्षा बढ़ा दी गयी है.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज