Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    कोरोना ने बनाया चोर... लॉकडाउन के दौरान कर्ज में डूबे 5 युवकों ने रुड़की से चोरी किए थे 42 लैपटॉप, 2 गिरफ़्तार

    हरिद्वार पुलिस ने नारसन बॉर्डर से एक कार सवार दो युवकों के पास से 40 लैपटॉप बरामद कर उन्हें गिरफ़्तार कर लिया.
    हरिद्वार पुलिस ने नारसन बॉर्डर से एक कार सवार दो युवकों के पास से 40 लैपटॉप बरामद कर उन्हें गिरफ़्तार कर लिया.

    इस वारदात में शामिल तीन आरोपी अभी फ़रार हैं और दो लैपटॉप भी कम हैं.

    • Share this:
    रुड़की. 27 अक्टूबर को रुड़की से 42 लैपटॉप की चोरी का मामला हरिद्वार पुलिस ने सुलझा लिया है. पुलिस ने इस मामले में गाड़ी के ड्राइवर समेत दो लोगों को गिरफ़्तार कर उनसे 40 लैपटॉप बरामद भी कर लिए हैं. पुलिस के अनुसार इस वारदात में शामिल तीन आरोपी अभी फ़रार हैं और दो लैपटॉप भी कम हैं. आरोपियों ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि लॉकडाउन के दौरान काम न होने की वजह से वह कर्ज़ में डूब गए थे और इसी से बाहर आने के लिए उन्होंने चोरी की योजना बनाई थी.

    देहरादून के कर रहे थे गाड़ी का पीछा 

    बता दें कि 27 अक्टूबर को देहरादून से एक वाहन लैपटॉप की डिलीवरी करने के लिए रुड़की पहुंचा था लेकिन वाहन चालक ने अपने चार साथियों के साथ गाड़ी में रखे 42 लैपटॉप चोरी कर लिए थे और सभी फ़रार हो गए थे. पुलिस के अनुसार पकड़े गए आरोपी प्लान के मुताबिक वाहन का पीछा देहरादून से ही कर रहे थे. रुड़की में मौका देखते ही उन्होंने वाहन से लैपटॉप उड़ा लिए.



    हरिद्वार के एसएसपी सेंथिल अब्बुदाई कृष्णराज एस ने कहा कि आरोपियों ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि बताया कि लॉकडाउन के दौरान उनका काम छूट गया था और वे कर्ज़ में डूब गए थे. उन्होंने एक युवक का नकली ड्राइविंग लाइसेंस बना एक ट्रांसपोर्टर के पास नौकरी पर लगवा दिया था. धीरे-धीरे वह बतौर ड्राइवर मालिक का विश्वास जीतने में कामयाब हो गया था. इसके बाद उन्होंने लैपटॉप चोरी करने की योजना बनाई और रुड़की मौका देखते ही घटना को अंजाम दे डाला था.
    दिल्ली बेचने की फ़िराक़ में थे

    पुलिस ने आज नारसन बॉर्डर पर चेकिंग के दौरान एक कार से 40 लैपटॉप बरामद कर दो आरोपियों को गिरफ़्तार कर लिया. बरामद किए गए लैपटापों की कीमत 23 लाख बताई जा रही है. उन्होंने बताया कि आरोपी युवक नामी कम्पनी के लैपटॉपों दिल्ली में बेचने की फिराक में थे लेकिन समय रहते हुए पुलिस ने उन्हें बॉर्डर पर ही गिरफ्तार कर लिया.

    इस वारदात में शामिल तीन आरोपी अभी फरार चल रहे हैं, जिनकी सरगर्मी से तलाश की जा रही है. पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ कर रही है. पुलिस पकड़े गए आरोपियों की आपराधिक कुंडली भी खंगाल रही है.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज