Home /News /crime /

Duranto Express से वेस्‍ट बंगाल की जा रही थी पांच लड़कि‍यों की तस्‍करी, DCW ने कराया रेस्‍क्‍यू

Duranto Express से वेस्‍ट बंगाल की जा रही थी पांच लड़कि‍यों की तस्‍करी, DCW ने कराया रेस्‍क्‍यू

DCW की टीम ने उन 5 लड़कियों को रेस्‍क्‍यू कराया है जोक‍ि दुरंतो एक्सप्रेस से दिल्ली से पश्चिम बंगाल भेजी जा रही थीं.

DCW की टीम ने उन 5 लड़कियों को रेस्‍क्‍यू कराया है जोक‍ि दुरंतो एक्सप्रेस से दिल्ली से पश्चिम बंगाल भेजी जा रही थीं.

Delhi Commission for Women: पांच लड़कियों को दुरंतो एक्सप्रेस से दिल्ली से पश्चिम बंगाल भेजा जा रहा है. सूचना मिलने के बाद आयोग ने फौरन एक टीम बनाई जो चाइल्डलाइन और दिल्ली पुलिस के साथ नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पहुंची. वहां पहुंचकर 2 नाबालिग समेत 5 लड़कियों को नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर 5 से छुड़ाया गया.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. दिल्ली महिला आयोग (Delhi Commission for Women) ने 2 नाबालिग लड़कियों सहित 5 लड़कियों को मानव तस्करी से छुड़ाया है. आयोग को 19 अक्‍टूबर को एनजीओ शक्ति वाहिनी से सूचना मिली जिसमें बताया गया कि 5 लड़कियों को दुरंतो एक्सप्रेस (Duranto Express) से दिल्ली से पश्चिम बंगाल (West Bengal) भेजा जा रहा है.

    सूचना मिलने के बाद आयोग ने फौरन एक टीम बनाई जो चाइल्डलाइन और दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के साथ नई दिल्ली रेलवे स्टेशन (New Delhi Railway Station) पहुंची. वहां पहुंचकर 2 नाबालिग समेत 5 लड़कियों को नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर 5 से छुड़ाया गया.

    बचाई गई लड़कियों की उम्र क्रमश: 15 साल, 17 साल, 19 साल, 20 साल और 19 साल की थी. सभी लड़कियों ने बताया कि उन्हें नौकरी दिलाने का झांसा देकर जैना नाम की महिला और लादेन नाम का आदमी दिल्ली लेकर आये थे.

    ये भी पढ़ें: Delhi Police में अब मह‍िला स्‍टाफ का दबदबा, इस क्राइम को रोकने की म‍िली बड़ी ज‍िम्‍मेदारी 

    लड़कियों ने बताया कि उन्हें मदनपुर खादर गांव के एक कमरे में बंद करके रखा गया था, लेकिन उन्हें उस घर का पता याद नहीं था. उन लड़कियों में से एक अपने घर पर फोन करने में कामयाब हुई, उसने अपने परिवार को अपने साथ हुई घटना के बारे में बताया. इसके बाद लड़की के घरवालों ने अभियुक्त महिला जैना के खिलाफ शिकायत की.

    नौकरी दिलाने का झांसा देकर जैना नाम की महिला और लादेन नाम का आदमी इनको दिल्ली लेकर आये थे.दिल्ली महिला आयोग, स्वाति मालीवाल, द‍िल्‍ली पु‍ल‍िस, पश्‍च‍िम बंगाल, नई दिल्ली रेलवे स्टेशन, दुरंतो एक्सप्रेस, Delhi Commission for Women, DCW, West Bengal, Delhi Police, New Delhi Railway Station, Swati Maliwal

    नौकरी दिलाने का झांसा देकर जैना नाम की महिला और लादेन नाम का आदमी इनको दिल्ली लेकर आये थे.

    उसके खिलाफ थाना धोलाहाट, जिला दक्षिण 24 परगना, पश्चिम बंगाल में आईपीसी की धारा 367/368/370 के तहत एफआईआर दर्ज की गई. लड़कियों ने बताया कि आरोपियों को एफआईआर (FIR) दर्ज होने की सूचना मिल गई थी. इसलिए उन्होंने उन्हें दिल्ली से बाहर ले जाने का फैसला किया.

    लड़कियों ने आगे बताया कि आरोपियों ने उन्हें दिल्ली में बेचने की भी कोशिश की. एक लड़की ने आयोग को बताया कि उसके साथ एक व्यक्ति ने छेड़छाड़ की थी. 20 साल की एक अन्य लड़की ने बताया कि वह 1 महीने से अधिक समय से दिल्ली में रह रही है और उसने एक घर में घरेलू सहायिका के रूप में काम किया, जिसमें उसे मात्र 1000 रुपए मिले. 19 साल की एक अन्य लड़की ने बताया कि एक व्यक्ति ने उसका यौन शोषण करने की कोशिश की लेकिन वह असफल रहा. उसने यह भी बताया कि आरोपी ने उसे बेचने की भी कोशिश की. 15 साल की एक लड़की ने आयोग को बताया कि इस दौरान उसके साथ बलात्कार हुआ.

    दिल्ली महिला आयोग (DCW) ने लड़कियों की काउंसलिंग की और उनकी मेडिकल जांच कराई गई. इसके बाद उन्हें शेल्टर होम में रखा गया. रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान मौके से एक आरोपी संजू हलधर को गिरफ्तार किया गया. 15 और 17 वर्ष की आयु की नाबालिग लड़कियों को 21 अक्‍टूबर को सीडब्ल्यूसी के सामने पेश किया गया, जहां उन्हें पश्चिम बंगाल पुलिस को सौंप दिया गया, जो लड़कियों को छुड़ाने के बाद दिल्ली आई थी. पश्चिम बंगाल पुलिस ने बताया कि सभी लड़कियों को उनके घर वापस भेज दिया जाएगा और पश्चिम बंगाल पुलिस द्वारा पहले से दर्ज की गई एफआईआर में यौन उत्पीड़न से संबंधित संबंधित धाराओं को जोड़ा जाएगा.

    दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने कहा क‍ि हम अक्सर मानव तस्करी के ऐसे कई मामले देखते हैं, जिसमें गरीब पृष्ठभूमि की लड़कियों को नौकरी दिलाने के बहाने मानव तस्करी का शिकार बना दिया जाता है. इसके बाद वे व्यावसायिक और यौन शोषण की शिकार होती हैं. यह बहुत जरूरी है कि मानव तस्करी को पूरी तरह से रोका जाए और इसके लिए हमें मानव तस्करी विरोधी कानूनों को मजबूत बनाना होगा और सख्ती से लागू करना होगा. आरोपियों की जल्द से जल्द पहचान कर उन्हें तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए.

    Tags: Delhi Commission for Women, Delhi Crime, Delhi police, Human trafficking, New delhi railway station, Swati Maliwal, Trains

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर