अपना शहर चुनें

States

हल्द्वानी में चलती गाड़ी में चल रहा था सेक्स रैकेट, चार लड़कियों समेत छह लोग गिरफ्तार

पुलिस ने सड़क किनारे खड़े एक वाहन पर छापेमारी कर चार लड़कियों और उनके लिए ग्राहक लाने वाले दो युवकों को गिरफ्तार किया है
पुलिस ने सड़क किनारे खड़े एक वाहन पर छापेमारी कर चार लड़कियों और उनके लिए ग्राहक लाने वाले दो युवकों को गिरफ्तार किया है

एंटी ट्रैफिकिंग ह्यूमन सेल ने सूचना मिलने पर छापा मारकर चार लड़कियों और दो युवकों को गिरफ्तार किया है. इनके पास से 11 मोबाइल फोन (Mobile Phone) और कई आपत्तिजनक चीजें बरामद की. पुलिस के मुताबिक यह सभी चलती गाड़ियों में ग्राहकों के साथ फोन कॉल पर लड़कियों का सौदा (Sex Racket) करते थे

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 26, 2021, 9:38 PM IST
  • Share this:
देहरादून. उत्तराखंड के हल्द्वानी (Haldwani) में सेक्स रैकेट (Sex Racket) का पर्दाफाश हुआ है. पुलिस ने रेड (Raid) डालकर मौके से छह लोगों को गिरफ्तार किया है. इन पर सेक्स रैकेट में शामिल होने का आरोप है. पकड़े गए आरोपियों में से चार पश्चिम बंगाल और दो उत्तर प्रदेश के निवासी हैं. पुलिस के मुताबिक ऊधम सिंह नगर के रुद्रपुर में किराए का मकान लेकर कुमाऊं में सेक्स रैकेट (Flesh Trade) चलाया जा रहा था. खास बात है कि यह पूरा सेक्स रैकेट चलती गाड़ी में चलाया जा रहा था. एक फोन कॉल पर ग्राहकों तक लड़कियां पहुंचाई जाती थीं. आरोपियों ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि हफ्ते में वो दो से तीन दिन कार से हल्द्वानी आते थे. कार को यहां कहीं भी खड़ा कर लिया जाता था और ग्राहक का मोबाइल पर फोन आते ही उस तक लड़की की डिलिवरी हो जाती थी.

कोतवाली पुलिस के मुताबिक उसे गुप्त सूचना मिली थी कि टीपी नगर इलाके में संदिग्ध हालत में एक गाड़ी में लड़के-लड़कियां हैं. पुलिस ने एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग सेल को इसकी जानकारी दी. जिसके बाद एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग सेल की प्रभारी लता बिष्ट अपनी टीम को लेकर उस इलाके में पहुंची जहां इनोवा कार में छह लोग सवार थे. जिसमें चार लड़कियां और दो लड़के शामिल थे. पुलिस ने जैसे ही इनसे पूछताछ की सच्चाई सामने आ गई. पुलिस ने इनके पास से 11 मोबाइल फोन और कई आपत्तिजनक चीजें बरामद की. पुलिस ने सारे सबूत मिलने के बाद चारों लड़कियों समेत सभी छह लोगों को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने इनपर धारा 294/34 आईपीसी और 5/7 अनैतिक व्यापार (निवारण ) अधिनियम 1956 ​के तहत केस दर्ज किया है.

पूछताछ में एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग सेल को पता लगा कि देह व्यापार में शामिल चार लड़कियों के लिए पकड़े गए दोनों लड़के ग्राहक लाने (दलाली) का काम करते थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज