Home /News /crime /

Delhi: ऑनलाइन इन्‍वेस्‍टमेंट के नाम पर दो करोड़ की धोखाधड़ी, 21 लोगों को बनाया ठगी का श‍िकार

Delhi: ऑनलाइन इन्‍वेस्‍टमेंट के नाम पर दो करोड़ की धोखाधड़ी, 21 लोगों को बनाया ठगी का श‍िकार

ऑनलाइन इनवेस्टमेंट स्कीम के नाम पर दो करोड़ रुपए से ज्यादा की ठगी करने वाले आरोपी को गिरफ्तार कर ल‍िया है.

ऑनलाइन इनवेस्टमेंट स्कीम के नाम पर दो करोड़ रुपए से ज्यादा की ठगी करने वाले आरोपी को गिरफ्तार कर ल‍िया है.

Delhi Crime News: आर्थिक अपराध शाखा ने ऑनलाइन इनवेस्टमेंट स्कीम के नाम पर दो करोड़ रुपए से ज्यादा की ठगी करने वाले आरोपी को गिरफ्तार कर ल‍िया है. आरोपी अब तक 21 लोगों को अपनी ठगी का श‍िकार बना चुका है. वह चंडीगढ़ की एक कोर्ट में टाइपिस्ट का काम करता था.

अधिक पढ़ें ...

    नई द‍िल्‍ली. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की आर्थिक अपराध शाखा (Economic Offences Wing) ने ऑनलाइन इनवेस्टमेंट स्कीम के नाम पर दो करोड़ रुपए से ज्यादा की ठगी करने वाले आरोपी को गिरफ्तार कर ल‍िया है. आरोपी अब तक 21 लोगों को अपनी ठगी का श‍िकार बना चुका है.

    द‍िल्‍ली पुल‍िस द्वारा ग‍िरफ्तार शख्‍स की पहचान मुकेश बाबू (48) के तौर पर हुई है. जालसाज मुकेश ने चंडीगढ़ से स्नातक किया है. वह चंडीगढ़ की एक कोर्ट में टाइपिस्ट का काम करता था. उसके खिलाफ पंजाब में भी धोखाधड़ी का एक मामला भी दर्ज है.

    आर्थिक अपराध शाखा के एडिशनल सीपी आरके सिंह के अनुसार शिकायतकर्ता भूपेंद्र सिंह ने पुलिस को दी शिकायत में बताया था कि जालसाज ने अपनी कंपनी ईपीसी वॉलेट में 200 दिन में रकम दोगुनी करने की स्कीम के बारे में बताया था जिस पर उन्होंने कंपनी में दो इनवेस्टमेंट किए थे. जालसाज ने इनवेस्टमेंट करवाने के लिए एजेंट भी रखे थे. एजेंट लोगों को बताते थे कि निवेशक जो पैसा कंपनी में लगाएंगे, कंपनी उसे अन्य कंपनियों में निवेश करके पैसे कमाएगी और उन्हें उनकी रकम का दोगुना पैसा दिया जाएगा.

    ये भी पढ़ें: Delhi: सब्‍जी बेचते-बेचते फर्जी दस्‍तावेज बनवाकर बेच डाले रेज‍िडेंश‍ियल प्‍लॉट, अब चढ़ा पुल‍िस के हत्‍थे

    आरोपियों ने यह भी कहा था कि रोजाना आधार पर बोनस के रूप में भी अच्छा रिटर्न मिलेगा. एजेंट निवेशकों को यह भी बताते थे कि कंपनी बीएसई व एनएसई के साथ भी काम करती है. कम समय में रकम दोगुना होने के लालच में आकर लोगों ने करोड़ों रुपए का निवेश कर दिया. लेकिन जब पैसे वापस करने का समय आया तो जालसाज ऑफिस बंद करके भाग गया. इस पर 21 लोगों ने ईओडब्ल्यू को शिकायत की जिस पर मामला दर्ज किया गया.

    Tags: Crime News, Delhi Crime, Delhi news, Delhi police, EOW

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर