Home /News /crime /

Delhi: सब्‍जी बेचते-बेचते फर्जी दस्‍तावेज बनवाकर बेच डाले रेज‍िडेंश‍ियल प्‍लॉट, अब चढ़ा पुल‍िस के हत्‍थे

Delhi: सब्‍जी बेचते-बेचते फर्जी दस्‍तावेज बनवाकर बेच डाले रेज‍िडेंश‍ियल प्‍लॉट, अब चढ़ा पुल‍िस के हत्‍थे

आर्थ‍िक अपराध शाखा ने फर्जी दस्तावेज के आधार पर प्लॉट बेचने वाले एक जालसाज को गिरफ्तार किया है.

आर्थ‍िक अपराध शाखा ने फर्जी दस्तावेज के आधार पर प्लॉट बेचने वाले एक जालसाज को गिरफ्तार किया है.

Delhi Crime: शाहदरा के कैलाश नगर कालोनी के 81 बीघा और 14 बिस्वा की कुछ प्रॉपर्टी को फर्जी दस्तावेजों पर कुछ लोगों ने बेच दिया था. इसे लेकर 17 मामले दर्ज करवाए गए थे. आर्थिक अपराध शाखा में अब शमशुद्दीन नामक आरोपी के ऊपर ई-45 प्लॉट को फर्जी दस्तावेजों के आधार पर बेचने पर ग‍िरफ्तार कर ल‍िया है.

अधिक पढ़ें ...

    नई द‍िल्‍ली. द‍िल्‍ली पुल‍िस (Delhi Police) की आर्थ‍िक अपराध शाखा (Economic Offences Wing) ने फर्जी दस्तावेज के आधार पर प्लॉट बेचने वाले एक जालसाज को गिरफ्तार किया है. आरोपी शमशुद्दीन ने शाहदरा इलाके में एक प्रॉपर्टी के फर्जी दस्तावेज तैयार कर उसे बेच दिया था. इस बाबत वर्ष 2017 में मामला दर्ज किया गया था, पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है.

    आरोपी शम्सुद्दीन पुत्र स्वर्गीय जमालुद्दीन, निवासी मकान नंबर-132, गली नंबर-03, ऋषि कर्दम पुरी, ज्योति नगर, शाहदरा, दिल्ली न‍िवासी उम्र 51 वर्ष के ख‍िलाफ जालसाजी से प्रॉपर्टी बेचने के ख‍िलाफ धारा 420/467/468/471/120-बी आईपीसी के तहत 161/17 प्राथम‍िक‍ी दर्ज की गई थी.

    ईओडब्‍लू के अतिरिक्त आयुक्त आरके सिंह के मुताब‍िक कडकडडूमा कोर्ट के आदेश पर शाखा ने ठगी और जालसाजी का एक मामला दर्ज किया था. शिकायत में एक कंपनी की तरफ से बताया गया कि गोकुलपुरी इलाके में वह कॉलोनी बनाते हैं.

    ये भी पढ़ें: Delhi: लग्‍जरी लाइफ स्‍टाइल जीने की चाहत में ल‍िव इन में रहने वाला जोड़ा बना वाहन चोर, अरेस्‍ट

    उन्होंने लोनी रोड, शाहदरा, दिल्ली में स्‍थित कैलाश नगर कॉलोनी नामक एक आवासीय कॉलोनी विकसित की थी. इसके अलावा कंपनी ने 81 बीघा और 14 बिस्वा के पूरे क्षेत्र को विभिन्न आकारों के कई भूखंडों में विभाजित कर दिया. उन्हें बाद में पता चला कि इनमें से कुछ प्रॉपर्टी को फर्जी दस्तावेजों पर कुछ लोगों ने बेच दिया है. इसे लेकर 17 मामले उन्होंने दर्ज करवाए थे. आर्थिक अपराध शाखा में शमशुद्दीन नामक आरोपी के ऊपर ई-45 प्लॉट को फर्जी दस्तावेजों के आधार पर बनवा कर बेचने के मामले में एफआईआर दर्ज की थी. दस्तावेजों की जांच की गई तो पता चला कि फर्जी दस्तावेज आरोपी द्वारा तैयार किए गए हैं.

    ईओडब्‍लू में दर्ज मामले में शमशुद्दीन ने फर्जी तरीके से डील दूसरे शख्स के नाम पर की थी. यह प्रॉपर्टी शमशुद्दीन ने साल 2012 में बेबी जैन और रेखा चौधरी के नाम पर की थी, शमशुद्दीन ने स्‍वयं को साल 2002 से इसका मालिक बताया था. पुलिस टीम को यह भी पता चला कि शमशुद्दीन इस तरीके से कई फर्जी प्लॉट बेच चुका है.

    हाल ही में एक गुप्त सूचना पर डीसीपी ईओडब्‍लू राजीव रंजन के न‍िरीक्षण में एसीपी नगीन कौशिक की देखरेख में इंस्पेक्टर शिवदेव की टीम ने शमशुद्दीन को गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तार किया गया शमसुद्दीन इटावा का रहने वाला है, वह पहले सब्जी कारोबारी था. इस दौरान कुछ जालसाजों से मिला जो फर्जी तरीके से प्रॉपर्टी को बेचते थे. वह ऐसी प्रॉपर्टी को निशाना बनाते थे जिस पर किसी का मालिकाना हक न हो और उसके फर्जी दस्तावेज तैयार कर उन्हें बेच देता था.

    Tags: Crime News, Delhi Crime, Delhi police, EOW

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर