होम /न्यूज /crime /PFI Banned: द‍िल्‍ली में UAPA के तहत दूसरा मामला दर्ज, दो पीएफआई कार्यकर्ताओं पर देश के ख‍िलाफ साज‍िश रचने का आरोप

PFI Banned: द‍िल्‍ली में UAPA के तहत दूसरा मामला दर्ज, दो पीएफआई कार्यकर्ताओं पर देश के ख‍िलाफ साज‍िश रचने का आरोप

द‍िल्‍ली पुलिस ने पीएफआई के दो और 'सदस्यों' के खिलाफ कथित संदिग्ध गतिविधियों के चलते UAPA के तहत मामला दर्ज किया है. (File Photo)

द‍िल्‍ली पुलिस ने पीएफआई के दो और 'सदस्यों' के खिलाफ कथित संदिग्ध गतिविधियों के चलते UAPA के तहत मामला दर्ज किया है. (File Photo)

PFI Khajuri Khas: सीन‍ियर पुल‍िस अध‍िकारी ने बताया क‍ि खजूरी खास पुलिस थाने में गैरकानूनी गतिविधि (निरोधक) अधिनियम की ध ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

दोनों सदस्यों पर कथित संदिग्ध गतिविधियों में संल‍िप्‍त होने के आरोप
गैरकानूनी गतिविधि (निरोधक) अधिनियम व आईपीसी की धाराओं में दर्ज हुआ मामला
6 जिलों में फैली PFI यून‍िट्स पर छापेमारी कर 33 लोगों को हिरासत में लिया जा चुका है

नई दिल्ली. पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) को गैर कानूनी गत‍िव‍िध‍ियों के साथ-साथ टेरर फंड‍िंग (Terror Funding) आद‍ि के मामलों में संल‍िप्‍त होने के पुख्‍ता सबूत म‍िलने के बाद प्रत‍िबंध‍ित कर द‍िया गया है. गृह मंत्रालय (Home Ministry) द्वारा प्रत‍िबंध लगाए जाने के बाद अब इस पर स्‍थानीय पुलि‍स प्रशासन भी पूरी तरह से सख्‍ती बरतते हुए कार्रवाई कर रहा है.

द‍ेश की राजधानी द‍िल्‍ली में लगातार पीएफआई के सदस्‍यों पर श‍िकंजा कसा जा रहा है. द‍िल्‍ली पुलिस (Delhi Police) ने पीएफआई के दो और ‘सदस्यों’ के खिलाफ संदिग्ध गतिविधियों के चलते गैरकानूनी गतिविधि (निरोधक) अधिनियम (UAPA) के तहत मामला दर्ज किया है.

PFI Ban: पीएफआई पर एक और बड़ा एक्‍शन, दिल्‍ली पुल‍िस ने UAPA की धाराओं में दर्ज किया केस

द‍िल्‍ली पुल‍िस के एक सीन‍ियर अध‍िकारी ने बुधवार को बताया क‍ि खजूरी खास पुलिस थाने में गैरकानूनी गतिविधि (निरोधक) अधिनियम की धारा 10/13 के साथ आईपीसी की धारा 120 बी (आपराधिक साजिश) और 153 ए (विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देना) के तहत दो पीएफआई कार्यकर्ताओं के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है. इन पर कथित तौर पर सरकार और देश के खिलाफ साजिश रचने का आरोप है.

उन्होंने कहा कि मामले में अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं की गई है और जांच जारी है. राष्ट्रीय राजधानी में पीएफआई सदस्यों के खिलाफ यूएपीए के तहत दर्ज यह दूसरा मामला है. इससे पहले, कथित रूप से संगठन से जुड़े चार लोगों को दिल्ली पुलिस ने अधिनियम के तहत गिरफ्तार किया था.

केंद्र ने 28 सितंबर को पीएफआई पर प्रतिबंध लगा दिया था. इसके बाद, दिल्ली पुलिस ने शहर के 6 जिलों में फैली पीएफआई इकाइयों पर छापेमारी की और कथित रूप से समूह से जुड़े 33 लोगों को हिरासत में लिया.

Tags: Delhi Crime, Delhi police, Home ministry, PFI

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें