Home /News /crime /

Delhi Police के ऑपरेशन म‍िलाप के जर‍िए पर‍िजनों से म‍िली बिछुड़ी बच्‍ची, पर‍िवार के ख‍िले चेहरे

Delhi Police के ऑपरेशन म‍िलाप के जर‍िए पर‍िजनों से म‍िली बिछुड़ी बच्‍ची, पर‍िवार के ख‍िले चेहरे

द‍िल्‍ली पुल‍िस ने शाहीन बाग इलाके की 07 वर्षीय लापता बच्‍ची को पर‍िजनों से म‍िलवाया है. (Twitter-Delhi Police)

द‍िल्‍ली पुल‍िस ने शाहीन बाग इलाके की 07 वर्षीय लापता बच्‍ची को पर‍िजनों से म‍िलवाया है. (Twitter-Delhi Police)

Delhi Police: द‍िल्‍ली पुल‍िस का ऑपरेशन म‍िलान अभियान इन द‍िनों उन परेशान पर‍िवारों के चेहरों पर मुस्‍कान ब‍िखेर रहा है ज‍िनके बच्‍चे लापता हो जा रहे हैं. उनका कोई सुराग नहीं लग पाने पर बहुत बुरा हाल हो रहा है. ऐसे पर‍िवारों के चेहरे पर मुस्‍कुराहट लाने का काम द‍िल्‍ली पुल‍िस का ऑपरेशन म‍िलाप अभ‍ियान कर रहा है.

अधिक पढ़ें ...
  • News18Hindi
  • Last Updated :

    नई द‍िल्‍ली. द‍िल्‍ली पुल‍िस (Delhi Police) का ऑपरेशन म‍िलान (Operation Milap) अभियान इन द‍िनों उन परेशान पर‍िवारों के चेहरों पर मुस्‍कान ब‍िखेर रहा है ज‍िनके बच्‍चे लापता हो जा रहे हैं. उनका कोई सुराग नहीं लग पाने पर बहुत बुरा हाल हो रहा है. ऐसे पर‍िवारों के चेहरे पर मुस्‍कुराहट लाने का काम द‍िल्‍ली पुल‍िस का ऑपरेशन म‍िलाप अभ‍ियान कर रहा है ज‍ोक‍ि बिछुड़े हुए बच्‍चों को उनके मात‍ा-प‍िता से सकुशल म‍िलवा रहा है. ताजा मामला साउथ-ईस्‍ट ज‍िला के शाहीन बाग थाना (Shaheen Bagh Police Station) अंतर्गत इलाके का सामने आया है.

    साउथ-ईस्‍ट ज‍िला डीसीपी ईशा पांडेय के मुताब‍िक ज‍िले में लापता बच्चों के मामलों में वृद्धि को ध्यान में रखते हुए एक टीम का गठन क‍िया गया. इस टीम में एसआई जनक सिंह, एएसआई रामकिशोर, प्रधान सिपाही राकेश और सिपाही रहमान शामिल थे. साउथ ईस्‍ट ज‍िला की एएचटीयू टीम ने 07 साल की एक लापता नाबालिग लड़की का पता लगाया है और उसे उसके परिवार से मिला दिया है.

    डीसीपी के मुताबि‍क 26 स‍ितंबर को थाना शाहीन बाग में 07 वर्ष की एक नाबालिग लड़की के लापता होने की सूचना प्राप्त हुई थी. इसके बाद थाना शाहीन बाग में इस मामले में आईपीसी धारा 363 के तहत मामला दर्ज क‍िया है.

    ये भी पढ़ें: Delhi High Court के अंदर कॉन्‍स्‍टेबल ने खुुद को मारी गोली, आज ही ड्यूटी पर लौटा था…

    टीम ने नेक काम के लिए लापता/अपहृत बच्चों का पता लगाने के लिए टीम ने गुप्त स्रोतों से प्राप्त जानकारी का उपयोग किया. टीम ने ZIPNET पर लापता बच्चों के बारे में अधिकतम उपलब्ध जानकारी साझा की. गुमशुदा बच्चे का डोर टू डोर वेरिफिकेशन किया गया. उसके करीबी दोस्तों को भी विश्वास में लिया गया.

    टीम ने रेलवे स्टेशनों पर उसकी तलाश की. काफी मशक्कत के बाद टीम ने कालिंदी कुंज पार्क से लापता बच्ची का पता लगाया. लापता लड़की को आगे की आवश्यक कार्रवाई के लिए सुरक्षित रूप से संबंधित जांच अधिकारी को सौंप दिया गया. नि:स्वार्थ ऑपरेशन के तहत एएचटीयू/एसईडी की टीम ने न केवल परिवार के पुनर्मिलन में बल्कि “ऑपरेशन मिलाप” के मकसद को भी पूरा किया.

    Tags: Crime News, Delhi Crime, Delhi news, Delhi police

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर