अपना शहर चुनें

States

EOW की बड़ी कार्रवाई: 42 हजार करोड़ का फ्रॉड करने वाली नोएडा की कंपनी के 7 और डायरेक्टर गिरफ्तार

धोखाधड़ी के मामले में EOW ने बड़ी कार्रवाई की है.
धोखाधड़ी के मामले में EOW ने बड़ी कार्रवाई की है.

दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (EOW) ने 42 हजार करोड़ रुपये का घोटाला करने वाली नोएडा की एक कंपनी के 7 और डायरेक्टर्स को गिरफ्तार कर लिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 25, 2020, 8:12 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (EOW) ने धोखाधड़ी (Fraud) के मामले में एक बड़ी कार्रवाई की है. बाइक बोट योजना के नाम पर लोगों से 42 हजार करोड़ रुपये का फ्रॉड करने वाली नोएडा की एमएस गर्विट इनोवेटिव कंपनी के 7 और डायरेक्टर्स को गिरफ्तार कर लिया गया है. दरअसल, बाइक बोट घोटाले का शिकार कुछ हजार नहीं बल्कि लाखों लोग हुए. जल्दी पैसा कमाने और पूंजी को डबल करने के चक्कर ने लोगों को धोखे का शिकार बनाया गया. पैसा गंवाने वाले लोगों की शिकायत के बाद इनोवेटिव प्रमोटर्स लिमिटेड के खिलाफ दिल्ली में भी एफआईआर दर्ज की गई. कंपनी का मालिक फिलहाल जेल में है.

पुलिस में दर्ज एफआईआर के मुताबिक, 42 हजार करोड़ का घोटाला करने वाली इस कंपनी ने लाखों लोगों को अपना शिकार बनाया. इस पूरे मामले में दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) में एक बीएसपी नेता सहित कई आरोपियों का नाम दर्ज है. फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है. फर्जीवाड़ा कितने का हुआ है इसकी सही तरह से जानकारी नहीं मिल पाई है. हजारों लोगों की शिकायत के बाद शनिवार को पुलिस ने एफआईआर दर्ज की थी.


कंपनी पर लोगों को धमकाने का भी आरोप



पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, कंपनी ने बाइक बोट स्कीम के नाम पर लोगों से इनवेस्टमेंट कराया और अच्छे रिटर्न देने का सपना दिखाया. एक दो महीने निवेशकों के रिटर्न भी आए, फिर बाद में कंपनी ने अचानक रिटर्न देना बंद क दिया. पैसा डूबता देख लोगों ने शिकायत करने चाही तो कंपनी ने उन्हें धमाका. कई लोगों से शिकायत मिलने के बाद एफआईआर दर्ज की गई. फिलहाल, मामले की जांच आर्थिक अपराध शाखा कर रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज