आश्रम में बलात्कार के बाद जब घर पहुंची तो बूढ़े से कराई जाने लगी शादी

आश्रम में बलात्कार के बाद जब घर पहुंची तो बूढ़े से कराई जाने लगी शादी
सां​केतिक चित्र

हरियाणा के जींद ज़िले की एक लड़की की कहानी जो घर छोड़कर एक आश्रम में पहुंची तो वहां बलात्कार की शिकार होती रही और आश्रम से किसी तरह वापस घर पहुंची तो उसे परिवार ने ही बंधक बनाकर उसकी मर्ज़ी के खिलाफ बाल विवाह करना चाहा.

  • Share this:
गरीब घर की नेहा जिस बाल आश्रम में रह रही थी, वह उसके लिए जहन्नुम बन चुका था. नेहा को लगने लगा था कि इस दुनिया में गरीब और बेसहारा होना ही गुनाह है. जिस आश्रम की ज़िम्मेदारी थी नाबालिगों को पनाह देने की वहीं घर छोड़कर आई नेहा को सिर्फ शरीर समझकर भोगा जा रहा था और उसकी सुनने वाला कोई नहीं था.

कहानी शुरू हुई पिछले साल यानी 6 जून 2017 को जब 16 साल की नेहा को जिला चाइल्ड प्रोटेक्शन की तरफ से गांव निर्जन के प्रयास कुंज आश्रम में छोड़ा गया. यहां पहुंची नेहा को देखकर ही आश्रम के संचालक राममेहर की नीयत डोल गई. मन ही मन उसने तभी तय कर लिया था कि नेहा को वह जल्द ही इस्तेमाल करेगा. जिला चाइल्ड प्रोटेक्शन की टीम नेहा को यहां छोड़कर चली गई और अब इस आश्रम में नेहा को नये लोगों और माहौल के साथ एडजस्ट होना था.

हरियाणा के जींद ज़िले के इस आश्रम में एक कर्मचारी था सोनू और चौकीदार था प्यारेलाल. एक दो दिन में ही नेहा को पता चल गया कि सोनू हो या प्यारेलाल, यहां सब पर संचालक राममेहर की हुकूमत चलती है और जैसा वह कहता है, सबको वैसा ही करना होता है. यह सब कुछ पता चलने के बाद नेहा कुछ डर सी गई थी. राममेहर ने नेहा को अपने कमरे में बुलवाया और फिर उसे आश्रम के कायदे कानून समझाने के बहाने वह उसे गलत ढंग से छूता रहा. नेहा को अजीब लग रहा था लेकिन वह राममेहर से कुछ डरी हुई थी.



कुछ ही दिन हुए थे और दूसरे बच्चों की तरह नेहा को भी इस आश्रम की चार दीवारी में कैद कर दिया गया था. किसी को कहीं बाहर जाने की इजाज़त नहीं थी. किसी से बातचीत करने की इजाज़त नहीं थी. एक रात राममेहर आश्रम में पहुंचा और सब बच्चों का जायज़ा लेकर उसने नेहा को अपने कमरे में आने को कहा. सब बच्चे सोने के लिए लेट चुके थे और नेहा उठकर राममेहर के कमरे में पहुंची.
कमरे में नेहा के दाखिल होते ही राममेहर ने दरवाज़ा बंद कर दिया. नेहा ने ऐतराज़ किया तो राममेहर ने उसे गुस्से से भरी और रौबदार आवाज़ में डांट दिया. राममेहर ने उसे सख्त हिदायत दी कि अगर उसने कोई शोर मचाया तो अच्छा नहीं होगा. नेहा बुरी तरह डर गई थी. अब राममेहर ने नेहा के साथ ज़बरदस्ती करना शुरू की. डरा-धमकाकर राममेहर ने उस रात नेहा के साथ बलात्कार किया और डरी हुई नेहा चाहकर भी शोर तक नहीं मचा सकी.

बलात्कार, यौन शोषण, चाइल्ड अब्यूज़, हरियाणा समाचार, जींद, rape, sexual assault, child abuse, haryana news, jeend

यह पहली रात थी लेकिन आखिरी नहीं. नेहा को यह बात जल्द ही समझ आ गई जब दोबारा उसके साथ ऐसा हुआ. अब उसने अगली बार पुरज़ोर विरोध करने की ठान ली थी. अगली बार जब राममेहर ने नेहा के साथ ज़बरदस्ती करने की कोशिश की तो नेहा चीखने लगी. दूसरे कमरे में सब बच्चे नेहा की चीखें सुनकर सहम चुके थे. जब चीखती हुई नेहा को काबू करने में राममेहर नाकाम रहा तो उसने नेहा को बेल्ट, जूतों और डंडे जैसी चीज़ों से पीटा और फिर बलात्कार किया.

नेहा के इस विरोध से राममेहर नाराज़ था और उसने सोनू व प्यारेलाल को हिदायत दे दी कि नेहा को काबू में रखा जाए. अब जब भी राममेहर को नेहा के साथ बलात्कार करना होता तो सोनू व प्यारेलाल की मदद से पहले उसकी पिटाई की जाती और फिर रेप. किसी को कुछ भी बताने पर नेहा को जान से मारने की धमकी भी दी जाती. नेहा के साथ हो रहे अत्याचार की पूरी सोनू और प्यारेलाल को थी इसलिए उनके हौसले भी बुलंद थे. राममेहर की गैर मौजूदगी में वो दोनों भी नेहा के साथ छेड़छाड़ करने लगे थे.

एक दिन सोनू और प्यारेलाल ने भी नेहा की हालत पर बजाय तरस खाने के, उसका फायदा उठाने की कोशिश की. दोनों ने नेहा के साथ बलात्कार करना चाहा लेकिन किसी तरह नेहा बच्चों के कमरे में जाकर खुद को बचाने में कामयाब हो गई. यह बात राममेहर को जब पता चली तो उसने सोनू व प्यारेलाल को समझा दिया कि नेहा उसका शिकार है, उस पर नज़र न डालें. नेहा के साथ छेड़छाड़, मारपीट और रेप का यह सिलसिला डेढ़ महीने से ज़्यादा चला.

अपने परिवार की ज़्यादतियों से परेशान होकर घर से इस आश्रम में आई नेहा खुद को कोसती तो कभी अपनी मजबूरियों को. इस प्रताड़ना से परेशान होकर वह यहां से निकलने का रास्ता सोचती रहती थी. फिर एक कोर्ट ने 28 जुलाई 2017 को नेहा को किसी तरह समझा बुझाकर उसके परिवार के साथ भेज दिया. नेहा की ज़िंदगी में मुसीबतें इस फैसले से कम नहीं हुईं बल्कि और बढ़ गईं.

बलात्कार, यौन शोषण, चाइल्ड अब्यूज़, हरियाणा समाचार, जींद, rape, sexual assault, child abuse, haryana news, jeend

नेहा पहले भी अपना घर छोड़कर इसलिए चली गई थी क्योंकि उसे जबरन किसी और के मत्थे मढ़ा जा रहा था. इस बार भी वही हुआ. नेहा के घर वालों ने पैसों के लालच में एक बूढ़े आदमी के साथ नेहा को जबरन ब्याहने का फैसला कर लिया. घर में चल रही तैयारियों से जब नेहा को यह खबर हुई तो उसने विरोध किया. नेहा की एक न सुनते हुए उसके परिवार ने उसे घर में ही बंधक बना डाला. इधर, परिवार कोशिश में था कि जल्दी उसकी शादी कर दी जाए उधर, नेहा को तलाश थी एक मौके की.

एक सहेली जब नेहा से मिलने आई तो उसे मौका मिला और उसने पुलिस को फोन कर आपबीती सुना दी. पुलिस आई और नेहा को जिला चाइल्ड प्रोटेक्शन के दफ्तर लेकर गई. नेहा की हिस्ट्री जानने के बाद उसे दूसरे बाल आश्रम में छोड़ दिया गया. नेहा खुद को कटी हुई पतंग जैसा महसूस कर रही थी और उसे कुछ नहीं पता था कि उसके साथ अब क्या होने वाला है क्योंकि फिर किसी आश्रम का नाम सुनकर वह घबरा चुकी थी.

जैसे ही नेहा इस दूसरे आश्रम में पहुंची, वैसे ही उसने पिछले आश्रम में हुए अत्याचारों के बारे में और फिर घर में बंधक बनाए जाने की कहानी सुना दी. वहां एक हमदर्द तो मिला लेकिन नेहा की सुनवाई नहीं हुई. जिला चाइल्ड प्रोटेक्शन को इस बारे में खबर की गई लेकिन नेहा की मदद के लिए कोई आगे नहीं आया. फिर आश्रम के एक कर्मचारी ने नेहा की कहानी सुनकर उसकी मदद करने का फैसला किया. उसने नेहा की मुलाकात पुलिस के आला अफसर से करवाने की जुगाड़ लगाई.



आखिरकार, नेहा ने जब सारे अत्याचारों की कहानी एसएसपी को सुनाई तब जाकर कार्रवाई हुई. पिछले बाल आश्रम के संचालक राममेहर सहित सोनू और प्यारेलाल को पकड़ा गया. इस केस में पीड़िता के वास्तविक नाम का खुलासा नहीं हुआ है लेकिन केस दर्ज हुआ है और पीड़िता के आरोपों के बारे में जांच और पूछताछ जारी है.

ये भी पढ़ें

लव मैरिज में शक आया तो 'लव' खो गया और मिला 'कत्ल का प्लॉट'
कसौली से कैथल तक ड्राइवर को पता नहीं चला कि टैक्सी में थी एक लाश
#SerialKillers: वह सुनता था 'Highway To Hell' और कहता था 'शैतान ज़िंदाबाद'
#SerialKillers: उसे मंदिरों में मिलते थे शिकार और पूजापाठ था उसका हथियार
लाश के टुकड़े करने के बाद कटा हुआ सिर लेकर चला गया था वो

Gallery - पाकिस्तान चुनाव : डेमोक्रेसी चुनना है तो 'हथियार' चुनो
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading