Home /News /crime /

kidnapping and extortion threat call to haldwani doctor uttarakhand police stunned as reaches to caller in up

'जान बचानी है तो 3 करोड़ दो' UP से आए इस कॉल से हल्द्वानी के डॉक्टर के पसीने छूटे, खुलासे ने किया सबको हैरान

हल्द्वानी के प्रतिष्ठित डॉक्टर को धमकी भरा कॉल मिलने के मामले में खुलासे से पुलिस भी हैरान हुई.

हल्द्वानी के प्रतिष्ठित डॉक्टर को धमकी भरा कॉल मिलने के मामले में खुलासे से पुलिस भी हैरान हुई.

उत्तराखंड पुलिस के सामने एक चौंकाने वाला मामला सामने आया. चूंकि मामला हल्द्वानी के हाई प्रोफाइल डॉक्टर दंपत्ति से जुड़ा था इसलिए फ़ौरन तफ़्तीश हुई और पुलिस यूपी में उस घर तक कुछ ही घंटों में पहुंच गई, जहां से कॉल किया गया था. फिर क्या हुआ? देखें पूरी कहानी.

अधिक पढ़ें ...

हल्द्वानी. प्रैंक का एक हैरान करने वाला मामला ऐसे सामने आया कि शहर के एक प्रसिद्ध डॉक्टर दो दिनों से परेशान होते रहे. मोबाइल फोन की 20 सेकेंड की कॉल ने डॉक्टर और उनके परिवार की नींद और चैन दोनों छीन लिये. यह कॉल उत्तर प्रदेश के हापुड़ से आया था, जिसमें डॉक्टर को जान से मारने की धमकी देकर भारी भरकम फिरौती की मांग की गई थी. घबराकर डॉक्टर ने जब पुलिस की शरण ली और पुलिस कॉलर तक पहुंची तो सभी दंग रह गए.

दरअसल हल्द्वानी के एक मशहूर ईएनटी स्पेशलिस्ट हैं डॉक्टर वैभव कुच्छल. डॉ. कुच्छल कुछ महीने पहले मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी के ईएनटी डिपार्टमेंट हेड की पोस्ट से इस्तीफा दे चुके हैं. अब व​ह रामपुर रोड पर अपना अस्पताल चलाते हैं, लेकिन सोमवार को कुछ ऐसा हुआ कि कुच्छल हड़बड़ाकर पुलिस थाने पहुंचे और सुरक्षा की गुहार लगाने लगे. कुच्छल के नंबर पर एक कॉल आया था, जिसमें उन्हें जान से मारने की धमकी देकर तीन करोड़ रुपये मांगे गए थे.

डॉ. कुच्छल इस कॉल से इसलिए भी घबराए हुए थे क्योंकि उनके बच्चे के अपहरण की भी धमकी दी गई थी. शहर के हाई प्रोफाइल डॉक्टर से जुड़ा मामला होने के कारण पुलिस ने जांच में देरी नहीं की. नैनीताल के एसएसपी पंकज भट्ट ने मामले की गंभीरता देखते हुए पांच स्पेशल टीमें बनाई और उन्हें घटना के खुलासे का जिम्मा सौंपा. फिर जांच के दौरान जो खुलासा हुआ, हर कोई हैरान रह गया.

नन्हे यू-ट्यूबर ने किया था फ़िरौती का कॉल!
पुलिस का दावा है कि कुच्छल को किसी अपहरणकर्ता या अपराधी ने फोन कॉल नहीं किया था बल्कि कॉल करने वाला कक्षा तीन का, आठ साल का एक नन्हा यू-ट्यूबर था. उसने प्रैंक कॉल करने के चक्कर में डॉक्टर साहब को धमका डाला. पुलिस के मुताबिक बच्चा उत्तर-प्रदेश के हापुड़ का रहने वाला है, जिसे माता-पिता के साथ पूछताछ के लिए हल्द्वानी लाया गया. यह मामला बाल विभाग को सौंपा गया और पूछताछ के दौरान बच्चे ने कॉल करना कबूल किया.

बच्चे ने पूछताछ में बताया कि डॉक्टर को कॉल पर डराकर उसे अच्छा लगा. उसने फिर कॉल किया, लेकिन डॉक्टर ने फोन नहीं उठाया. बच्चे ने कहा कि वह कन्फर्म हो गया कि उसका प्रैंक सफल हुआ. इसके बाद वह अपनी मस्ती में खो गया. पुलिस के घर पहुंचने पर बात खुली तो बच्चे के माता पिता ने माफी मांगी. राजमिस्त्री का काम करने वाले पिता का कहना है कि वह काम पर जाते हैं तो बच्चा फोन से खेलता है और यूट्यूब पर वीडियो भी बनाता है.

Tags: Crime News, Fake Call, Uttarakhand Police

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर