खुद को CID बता 2 युवतियों को जबरन फ्लैट में ले गए 5 रेपिस्ट

गोवा में छुट्टी बिताने के मकसद से पहुंची दिल्ली की दो युवतियां एक गैंग का शिकार इस तरह हुईं कि अब उन्हें गोवा हॉलिडे का नहीं बल्कि ट्रैजडी और कई तरह के भयानक अपराधों की जगह लगती है और अब दोनों गोवा के नाम से डर जाती हैं.

Bhavesh Saxena | News18Hindi
Updated: July 3, 2018, 7:55 PM IST
खुद को CID बता 2 युवतियों को जबरन फ्लैट में ले गए 5 रेपिस्ट
सांकेतिक चित्र
Bhavesh Saxena | News18Hindi
Updated: July 3, 2018, 7:55 PM IST
दिल्ली की रहने वाली संगीता और खुशी ने मौज मस्ती के लिए छुट्टियां गोवा में बिताने का मन बनाया और दोनों गोवा पहुंच गईं. समन्दर की खूबसूरती और खाने-पीने के साथ ही कई एक्टिविटीज़ के लिए मशहूर इस हॉलिडे डेस्टिनेशन पहुंचकर दोनों खूब मस्ती में थीं तभी अचानक खुद को सीआईडी अफसर बताने वाले कुछ लोग दोनों को पकड़कर ले गए और अगले 18 घंटे दोनों ऐसी प्रताड़ना से गुज़रीं कि अब गोवा उनके लिए एक भयानक जगह का नाम है.

तीन साल पहले 2015 के जून महीने की पहली तारीख थी जब संगीता और खुशी गोवा में मस्ती कर रही थीं. दोनों कुछ ही रोज़ पहले छुट्टियां बिताने के लिए यहां आई थीं और अब तक कई बार बीच, रेस्तरां और बोटिंग का आनंद ले चुकी थीं. 1 जून की देर शाम दोनों ने गोवा के बागा बीच पर डिनर करने का मन बनाया था. अपने होटल रूम से तैयार होकर दोनों हायर की हुई टैक्सी से बागा बीच की तरफ गईं.

अंधेरा हो चुका था. रात के करीब 8 बज रहे थे. बागा बीच की तरफ जा रही 34 साल की संगीता और 28 साल की खुशी की टैक्सी के सामने अचानक एक गाड़ी आकर रुकी और उसमें से एक आदमी निकला. फुर्ती से वह आदमी टैक्सी की तरफ बढ़ा और टैक्सी के ड्राइवर को बाहर निकालकर उसकी पिटाई कर दी. चार-पांच और बाइक सवार इसी वक्त वहां रुके और उस ड्राइवर को काबू किया. जिस आदमी ने टैक्सी को रोका था, वह ड्राइविंग सीट पर बैठा और बगल की सीट पर दूसरा आदमी.

इन दोनों ने संगीता और खुशी को चुपचाप टैक्सी की पिछली सीट पर बैठे रहने की हिदायत दी. दोनों ने खुद को नारकोटिक्स विभाग का अफसर बताया और कहा कि पूछताछ के सिलसिले में दोनों को हेडक्वार्टर ले जाया जा रहा है. संगीता और खुशी के बैग छीन लिये गए. उनके सवालों का कोई जवाब नहीं दिया गया और टैक्सी तेज़ रफ्तार में चलती रही. देखते ही देखते एक सुनसान जगह पर बने एक मकान में संगीता और खुशी को ले जाया गया. यहां एक महिला भी थी जिसका परिचय सीआईडी अफसर के तौर पर दिया गया.

गोवा समाचार, गोवा हॉलिडे, ड्रग्स, बलात्कार, गैंग रेप, goa news, goa holiday, drugs, rape, gang rape

अपार्टमेंट में पहुंचते ही बाइक सवार भी वहां पहुंच गए. अब एक महिला और पांच आदमी संगीता और खुशी के सामने थे. सबने सीआईडी और नारकोटिक्स अफसर के रूप मे अपना परिचय दिया. उनमें से एक आदमी ने एक डेबिट कार्ड निकाला और दूसरे से बोला कि यह उस टैक्सी ड्राइवर का कार्ड है और पिन नंबर भी है. एक और आदमी ने संगीता और खुशी के पर्स से कार्ड निकाले और दोनों से पिन नंबर पूछा गया. पहले दोनों ने मना किया लेकिन धमकियां सुनने के बाद बता दिया. अब दो लोग एटीएम से रकम निकालने चले गए.

संगीता और खुशी के फोन छीने जा चुके थे और जैसे ही दोनों ने सवाल पूछा तो उनके साथ मारपीट की गई और दोनों से चुपचाप बैठे रहने को कहा गया. दोनों के हाथ बांध दिये गए. कुछ ही देर में दो लोग ड्राइवर के कार्ड से दस और इन दोनों के कार्ड से करीब तीस हज़ार रुपये निकालकर ले आए. इसके बाद संगीता और खुशी को फिर गाड़ी में बैठाकर ले जाया गया और अब दोनों एक अपार्टमेंट में थी जहां दोनों को ज़बरदस्ती शराब पिलाई जाने लगी.

थोड़ी देर सबने मिलकर छेड़खानी की और शराब पिलाने को लेकर संगीता और खुशी के मना करने पर उनके साथ मारपीट भी की गई. दोनों को डराया धमकाया जाने लगा. अब एक आदमी ने साथी महिला को इशारा किया तो उस महिला ने संगीता और खुशी से कपड़े उतारने को कहा. दोनों ने मना किया तो उस महिला ने तलाशी लिये जाने की बात कही लेकिन संगीता और खुशी को कुछ नहीं बताया कि मामला क्या है. दोनों को डर लगने लगा था. दोनों ने चीखना चाहा लेकिन हथियार और धमकियां लगातार दोनों के सामने थीं.

गोवा समाचार, गोवा हॉलिडे, ड्रग्स, बलात्कार, गैंग रेप, goa news, goa holiday, drugs, rape, gang rape

दोनों कपड़े उतारने से मना कर रही थीं तभी दोनों से ड्रग्स लेने को कहा गया. एक आदमी लगातार दोनों की तस्वीरें और वीडियो शूट कर रहा था. ज़बरदस्ती दोनों के हाथ में ड्रग्स दे दी गई और ड्रग्स लिये हुए दोनों का वीडियो बनाया गया. देर रात तक संगीता और खुशी को ज़बरदस्ती ड्रग्स दी जा चुकी थी ताकि दोनों के चीखने की गुंजाइश खत्म हो जाए. इस वक्त संगीता और खुशी को लगा कि किसी केस में उन्हें नकली ड्रग्स तस्कर के रूप में फंसाने की साज़िश हो रही है.

दोनों का वहम कुछ ही देर में दूर हो गया जब उस महिला ने दोनों के कपड़े ज़बरदस्ती उतारने शुरू कर दिए. कपड़े उतारे जाने के वक्त संगीता और खुशी उन आदमियों को देख रही थीं जिनके चेहरे के भाव बता रहे थे कि अब कुछ भयानक होने वाला है. दोनों के कपड़े उतारने के बाद वह महिला वहां से चली गई.

अब एक के बाद एक इन पांचों आदमियों ने संगीता और खुशी के साथ बलात्कार करना शुरू किया. जब एक आदमी बलात्कार करता तो दूसरा चाकू दिखाता और कोई शोर मचाने पर मार डालने की धमकी देता. रात भर रेप का सिलसिला चलता रहा. इस बीच दोनों के कई वीडियो शूट किए गए कभी ड्रग्स के साथ, कभी बिना कपड़ों के और कभी रेप के भी.


सुबह हुई लेकिन सिलसिला थमा नहीं बल्कि दोपहर तक संगीता और खुशी के साथ कई बार बलात्कार किया गया. दोनों लहूलुहान हो चुकी थीं और भूख-प्यास व लगातार रोते हुए अधमरी भी. बार-बार दोनों को ड्रग्स के इंजेक्शन लगाए गए तो कभी पाउडर खिलाया गया.

2 जून की दोपहर तकरीबन 3 बजे उस फ्लैट के दरवाज़े पर दस्तक हुई. सब चौकन्ने हुए और पूरी तैयारी के साथ जब दरवाज़ा खोलने को हुए वैसे ही दरवाज़ा पीटा जाने लगा. अब सबकी समझ में आ चुका था कि खतरा आ चुका है. इससे पहले कि वो सब कुछ और समझ पाते, दरवाज़ा टूटा और असली पुलिस वालों ने इन पांचों को गिरफ्त में ले लिया. संगीता और खुशी को कुछ कपड़ों में लपेटकर तुरंत अस्पताल पहुंचाया गया.

गोवा समाचार, गोवा हॉलिडे, ड्रग्स, बलात्कार, गैंग रेप, goa news, goa holiday, drugs, rape, gang rape

कुछ समय इलाज के बाद दोनों पीड़िताओं ने पूरी कहानी सुनाई कि कैसे गोवा में उनकी छुट्टियां रेप की भयानक यादों में तब्दील हो गईं. पुलिस ने दोनों पीड़िताओं की वास्तविक पहचान को गुप्त रखते हुए गिरफ्तार किए गए आरोपियों पर कार्रवाई की. दोषियों को जो भी सज़ा मिली लेकिन इन दोनों को बिन गलती के जीवन भर के लिए ऐसी सज़ा मिल चुकी थी जिसे भुलाया नहीं जा सकता.

ये भी पढ़ेंः

उस रेपिस्ट-कातिल को क्या पता था कि 26 साल बाद पकड़ लेगी पुलिस
गर्लफ्रेंड को मारते वक्त ज़हन में कौंधे HORROR नॉवेल में लिखे कत्ल के सीन
#SerialKillers: हर शिकार के लिए एक नया गमछा खरीदता था ये रिक्शेवाला
#SerialKillers: ‘मुझे अफ़सोस है मैं पूरे 64 कत्ल नहीं कर पाया’
उड़ता हिंदोस्तान-3 : दोस्तों के साथ PARTY के दौरान 2 दिन DRUGS माफिया के साथ

Gallery - PAKISTAN: लड़की ने शादी से किया इनकार तो सनकी ने मार दी गोली
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर