BSP सांसद मलूक नागर के घर IT की छापेमारी, 50 लाख कैश और 3 किलो ज्वेलरी बरामद

BSP सांसद मलूक नागर के घर IT की छापेमारी (File photo)
BSP सांसद मलूक नागर के घर IT की छापेमारी (File photo)

आपको बता दें कि बहुजन समाज पार्टी (BSP) सुप्रीमो मायावती ने सितंबर में नागर को लोकसभा में पार्टी के उपनेता के पद से हटा दिया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 30, 2020, 1:25 PM IST
  • Share this:
बिजनौर. उत्तर प्रदेश के बिजनौर से बीएसपी (BSP MP) सांसद मलूक नागर से जुड़े व्यवसायों पर आयकर विभाग (Income Tax) ने छापा मारकर 50 लाख रुपये से अधिक की नकदी और 3 किलो आभूषण बरामद किए हैं. बता दें कि बीएसपी सांसद मलूक सिंह नागर की समूह कंपनियों के खिलाफ बुधवार को छापेमारी की गई थी. वहीं छापेमारी के दौरान फर्जी फैक्ट्री पकड़ी गयी है. सूत्र बताते हैं कि एक ही नाम से कई फर्ज़ी फैक्ट्री चल रही थी, जिसके कागजात आयकर विभाग के अफसरों के हाथ लगे है.

बिजनौर लोकसभा सीट से बसपा और सपा गठबंधन से इस सीट पर मलूक नागर ने जीत दर्ज की थी. और इस सीट पर सांसद बने थे. सांसद बनने के बाद एक दो बार छोड़कर मलूक नागर यहां की जनता के बीच नहीं आये. आज मलूक नागर और उसके भाई लखीराम नागर के नोएडा और हापुड़ और बिजनौर में बने आवास पर इनकम टैक्स की छापेमारी चल रही है.सभी जगहों पर इनकम टैक्स की टीम अलग -अलग छापेमारी कर रही है. सांसद मलूक नागर के बड़े भाई लक्खी राम नागर पूर्व की बीएसपी सरकार में मंत्री रह चुके हैं इसके अलावा वह बड़े व्यापारी भी हैं.

ये भी पढे़ं- Covid प्रोटोकॉल के साथ एक नवंबर से खुलेंगे यूपी के नेशनल पार्क, छोटे बच्चों की एंट्री बैन



आपको बता दें कि बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) सुप्रीमो मायावती ने सितंबर में नागर को लोकसभा में पार्टी के उपनेता के पद से हटा दिया था और उनकी जगह राम शिरोमणि वर्मा को नियुक्त किया था. संसद के निचले सदन में बीएसपी के नौ सांसद हैं. सांसद मलूक नागर के बड़े भाई लक्खी राम नागर पूर्व की बीएसपी सरकार में मंत्री रह चुके हैं इसके अलावा बिजनौर के बड़े व्यापारी भी हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज