जयपुर बम ब्लास्ट के आरोपी शाहबाज को हाईकोर्ट से राहत, 12 साल बाद मिली जमानत

पाकिस्तान परस्त आतंकवादियों ने 13 मई, 2008 में पिंक सिटी जयपुर में सीरियल ब्लास्ट की वारदता को अंजाम दिया था (फाइल फोटो)

पाकिस्तान परस्त आतंकवादियों ने 13 मई, 2008 में पिंक सिटी जयपुर में सीरियल ब्लास्ट की वारदता को अंजाम दिया था (फाइल फोटो)

जयपुर बम ब्लास्ट के आरोपी शाहबाज के वकील निशांत व्यास ने हाईकोर्ट में इसे ही ग्राउंड बनाया है. उन्होंने कहा कि इस मामले में भी शेष मामलों की तरह ही आरोप हैं. जो ट्रायल कोर्ट आठ मामलों में खारिज कर चुका है. वहीं एटीएस ने चार्जशीट जानबूझकर देरी से पेश की है

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 24, 2021, 10:29 PM IST
  • Share this:
जयपुर. जयपुर बम ब्लास्ट (Jaipur Bomb Blast) मामले में आरोपी शाहबाज को जमानत मिल (Bail Granted) गई है. उसे लगभग 12 साल बाद हाईकोर्ट (High Court) से यह जमानत मिली है. शाहबाज आठ सीरियल ब्लास्ट मामले में बरी हो चुका है. लेकिन जिंदा बम मामले में वो गिरफ्तार था. एटीएस ने इस मामले में करीब 12 साल बाद चार्जशीट पेश की थी. आरोपी के वकील निशांत व्यास ने कोर्ट में इसे ही ग्राउंड बनाया है. उन्होंने कहा कि इस मामले में भी शेष मामलों की तरह ही आरोप हैं. जो ट्रायल कोर्ट आठ मामलों में खारिज कर चुका है. वहीं एटीएस ने चार्जशीट जानबूझकर देरी से पेश की है.

बता दें कि 13 मई, 2008 के दिन जयपुर शहर के आठ स्थानों पर सिलसिलेवार एक के बाद एक धमाके हुए थे. इन धमाकों में 176 लोग घायल हुए थे. जबकि कई लोगों की मौत हो गई थी. जयपुर को दहलाने वाले चार आंतकियों सैफुर्रहमान, सरवर आजमी, मोहम्मद सैफ और सलमान को घटना के ग्यारह साल बाद वर्ष 2019 में फांसी की सजा दे दी गई थी. इन लोगों ने साइकिल में बम फिट कर सीरियल ब्लास्ट किया था. आतंकियों ने चांदपोल हनुमान मंदिर, माणक चौक थाना एरिया, मणिहारों का रास्ता एरिया, छोटी चौपड़, सांगानेरी गेट, रामचंद्र मंदिर और जौहरी बाजार इलाके में बम धमाका किया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज