Home /News /crime /

नदी में फेंकने से पहले लाश जलाई ताकि मिट जाएं सबूत

नदी में फेंकने से पहले लाश जलाई ताकि मिट जाएं सबूत

सांकेतिक चित्र

सांकेतिक चित्र

गुजरात के अहमदाबाद की एक महिला ने अपने प्रेमी और उसके दोस्त के साथ मिलकर अपने पति को मौत के घाट उतार दिया. एक्स्ट्रा मैरिटल संबंधों में हत्या के इस मामले में हत्या की पूरी साज़िश रची गई और उसके बाद सबूतों को मिटाने की पूरी कोशिश की गई.

अधिक पढ़ें ...
'तुम्हारे कहने का मतलब है मर्डर?' रेखा ने यह सवाल हैरानी से पूछा तो नितिन ने उसे धीरे बोलने की हिदायत देते हुए कहा कि 'इसके अलावा और क्या चारा बचा है? मैं तो तुम्हारे बिना अब रह नहीं सकता, तुम मेरे बिना रह सकती हो?' नितिन के यह कहते ही रेखा उसके गले लग गई और उसने हत्या के लिए सहमति जताते हुए पूछा कि 'लेकिन मर्डर करेगा कौन?'

35 साल की रेखा अपने 24 साल के प्रेमी नितिन के साथ इसी साल इस नतीजे पर पहुंची. दोनों के बीच तकरीबन एक साल से प्रेम संबंध चल रहा था और अब दोनों इतने बेचैन हो चुके थे कि अलग-अलग रहने के लिए तैयार नहीं थे. चूंकि रेखा शादीशुदा थी इसलिए उसका 38 साल का पति हर्ष दोनों के बीच अड़चन बन गया था. अब हर्ष को रास्ते से हटाने के लिए रेखा और नितिन राज़ी हो चुके थे. सवाल यही था कि यह काम करेगा कौन.

नितिन के कई तरह के तिकड़मबाज़ लोगों के साथ संपर्क थे. अहमदाबाद में उस दिन नितिन ने रेखा से परेशान न होने की बात कही और यह भी कहा कि वह कोई चक्कर चलाएगा. इसके बाद नितिन ने अपने संपर्कों से मुलाकातें कर जुगत निकालने की कोशिश की तो उसे दर्शित का खयाल आया. दर्शित पहले से ही रेखा का परिचित था और नितिन का दोस्त भी. नितिन ने दर्शित के नाम पर रेखा के साथ बातचीत की तो दोनों राज़ी हो गए और दर्शित को घर बुलाया.

अहमदाबाद में ही रेखा के घर तीनों ने मुलाकात की और दर्शित को पूरी कहानी समझाई. जब उससे मदद करने के लिए हर्ष की हत्या की बात की गई तो खोखरा का रहने वाला दर्शित अपनी शर्तों पर राज़ी हो गया. बात बन गई और अब वक्त, जगह और प्लैन के बारे में बातचीत की गई. तीनों ने 19 जून की शाम का वक्त मुकर्रर कर लिया और पूरी साज़िश भी.

अहमदाबाद समाचार, हत्या, कत्ल की साज़िश, गुजरात समाचार, अवैध संबंध, ahmedabad news, murder, murder conspiracy, gujarat news, extra marital affair

उस दिन रेखा ने हर्ष से शाम को आने का वक्त जान बूझकर पूछ लिया. हर्ष को कुछ अटपटा महसूस नहीं हुआ. नरोदा के एक स्कूल में बतौर ट्रस्टी हर्ष काम करने वाला हर्ष रोज़ की तरह स्कूल चला गया. उसके जाते ही रेखा ने नितिन को हर्ष के घर लौटने के वक्त के बारे में इत्तला कर दी. नितिन ने दर्शित को खबर की और हर्ष के घर लौटने से पहले ही तीनों अर्बुदाबाद के उस घर में मौजूद थे जहां हर्ष और रेखा रहते थे.

इलाका शांत था और चहल पहल वहां कम ही रहती थी. हर्ष घर लौटा और जैसे ही अंदर के कमरे में पहुंचा तो उसके सर पर पीछे से एक हमला हुआ. इससे पहले हर्ष कुछ समझ पाता दर्शित ने चाकू से पहला हमला किया. इसके बाद हर्ष पर पर तब तक चाकू से वार किए गए जब तक उसने दम नहीं तोड़ दिया. अब काम बचा था लाश को ठिकाने लगाने का.


कत्ल के बाद रेखा ने बाकी दोनों के साथ मिलकर कमरे में खून के निशान साफ किए. फिर तीनों ने कमरे से सारे सबूत मिटाने की कोशिश की. इतनी देर में अंधेरा हो चुका था और अब लाश को ठिकाने लगाने के लिए तीनों निकलने के लिए तैयार थे. तीनों गाड़ी में बैठकर निकले और अहमदाबाद-मेहमदाबाद हाईवे की तरफ गए. एक सुनसान जगह पर पहुंचकर तीनों ने लाश को बाहर निकाला और नदी की तरफ ले गए.

अहमदाबाद समाचार, हत्या, कत्ल की साज़िश, गुजरात समाचार, अवैध संबंध, ahmedabad news, murder, murder conspiracy, gujarat news, extra marital affair

लाश को नदी में फेंककर तीनों ने लाश को जलाने की कोशिश की. तीनों को शक था कि लाश पर उंगलियों के निशान या कोई सबूत छूट न जाए. आधी अधूरी जली लाश को खारी नदी में फेंक दिया. लाश को नदी में फेंकने के बाद रेखा और नितिन गले लग गए और अब हमेशा साथ रहने के खयाल से मन ही मन खुश हो गए. इसके बाद तीनों घर लौट आए. थोड़ी देर बाद दर्शित वहां से चला गया.

रेखा और नितिन अगले दिन आगे की योजना पर विचार कर रहे थे. दोनों सोच रहे थे कि अब शहर बदला जाए कि नहीं, रिश्तेदारों को क्या कहानी सुनाई जाए और हमेशा साथ रहने के लिए क्या तरकीब लगाई जाए. इसी सोच में दोनों डूबे हुए थे तभी घर के दरवाज़े पर दस्तक हुई और दरवाज़ा खुला तो बाहर पुलिस खड़ी थी. लाश बरामद हो चुकी थी और शिनाख़्त होने के बाद पुलिस यहां पहुंच गई थी.

पुलिस को देखते ही रेखा घबरा गई. पुलिस की पूछताछ में रेखा के अटपटे और बदलते जवाबों से पुलिस को शक हो गया. सख़्ती से पूछताछ करने पर कुछ ही देर में रेखा को गुनाह कबूल करना पड़ गया और पुलिस ने हर्षेश पटेल की हत्या के आरोप में तीनों रेखा पटेल, नितिन सोनकुसारे उर्फ मराठी और दर्शित पंड्या के खिलाफ हत्या, हत्या की साज़िश और सबूत मिटाने की कोशिश करने का मुकदमा दर्ज कर लिया.

ये भी पढ़ेंः

रेकी कर 1 करोड़ का डाका डाला और अय्याशी करने चले गए गोवा
प्रेमी को लिखी डायरी में Planning और पति के Murder का 'पॉइज़न प्लॉट'
दो मौके मिले नयी शुरुआत के, पूर्व रेसलर ने दोनों बार चुना जुर्म
उस रात के बाद मौत से बदतर थे ज़िंदगी के अगले 30 साल
पूरी रकम नहीं मिली तो मां-बाप ने की बेटी की दूसरी डील

Gallery - CAR हुई थी दुर्घटनाग्रस्त लेकिन उसकी मां का MURDER हुआ था

Tags: Ahmedabad, Gujarat news, Murder

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर