अहमदाबाद : पहला आशिक कायर निकला तो दूसरे से करवाया पति का कत्ल

गुजरात के अहमदाबाद में एक आदमी की लाश नहर के पास मिलने के बाद हुई तफ्तीश में खुलासा हुआ कि इस हत्याकांड के पीछे पत्नी के एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर की कहानी है. पति की हत्या के लिए पत्नी ने अपने आशिकों को इस्तेमाल करने की साज़िश रची.

Bhavesh Saxena | News18Hindi
Updated: September 4, 2018, 7:13 PM IST
अहमदाबाद : पहला आशिक कायर निकला तो दूसरे से करवाया पति का कत्ल
सांकेतिक चित्र
Bhavesh Saxena | News18Hindi
Updated: September 4, 2018, 7:13 PM IST
अपने शौहर और शादी से परेशान हो चुकी एक औरत ने निजात पाने के लिए अपने आशिक को इस्तेमाल करना चाहा. अपने शौहर को रास्ते से हटाने के लिए जब उसने अपने आशिक को उकसाया तो उसका आशिक पीछे हट गया. उस औरत के मंसूबे नाकाम हो गए लेकिन उसने हार नहीं मानी. उसने फिर एक चाल चली और दूसरे आदमी से दिलफरेब वादे किए. ये आदमी इस जाल में फंस गया और आखिरकार उस औरत ने अपने शौहर से मुक्ति पा ही ली.

कहानी गुजरात के अहमदाबाद की रहने वाली शिल्पा की है जिसने अपने नापाक मंसूबे को अंजाम देने के लिए जो रास्ता इख्तियार किया उसे समाज की नज़रों में धोखा कहा जाता है. बापूनगर की रहवासी 36 वर्षीय शिल्पा की शादी को कई साल हो चुके थे और वह अपने पति दिलीप और दो टीनेजर बेटियों के साथ रहा करती थी. दिलीप के साथ शिल्पा का रिश्ता महज़ एक रस्म अदायगी जैसा रह गया था.

घर गृहस्थी की मामूली बातों को लेकर शिल्पा का आए—दिन दिलीप के साथ झगड़ा हुआ करता था. शिल्पा को ऐसा लगने लगा था कि वह ज़िंदगी और इस रिश्ते को ढो रही है. दो साल पहले 2016 में शिल्पा की ज़िंदगी में एक आदमी आया जिसका नाम गोपाल था. गोपाल पड़ोसी था और दिखने में आकर्षक आदमी था. शिल्पा उसकी तरफ आकर्षित हुई और जब उसे पता चला कि गोपाल की माली हालत उसके पति दिलीप से बेहतर है तो वह और ज़्यादा आकर्षित हुई.

शिल्पा ने अपनी बातों और अदाओं से गोपाल को रिझाना शुरू किया. देखते ही देखते दोनों एक दूसरे के करीब आने लगे. रोज़मर्रा की ज़िंदगी में अक्सर ऐसा होने लगा कि दिलीप अपने काम से जिस वक्त बाहर जाता और बेटियां स्कूल में होतीं तब शिल्पा और गोपाल की मुलाकात होती. शुरुआत में ये मुलाकातें मोहल्ले के बाहर किसी जगह हुआ करती थीं, फिर नज़दीकियां बढ़ीं तो गोपाल और शिल्पा घर में भी मिलने लगे.

ये मुलाकातें दोनों के बीच प्रेम संबंध में बदल गईं. तकरीबन दो साल तक यह रिश्ता चला और फिर एक दिन शिल्पा ने गोपाल से अपने मन की बात कही कि वह दिलीप को छोड़कर हमेशा के लिए उसकी हो जाना चाहती है. तलाक के आॅप्शन पर जब बातचीत हुई तो दो बेटियों की मां के लिए अपने उस पति को छोड़ना बड़ा मुश्किल था जिसके खिलाफ किसी तरह की चरित्रहीनता का कोई सबूत नहीं था.

Murder in Ahmedabad, Gujarat news, love sex aur dhokha, extra marital affair, wife killed husband, अहमदाबाद हत्याकांड, गुजरात समाचार, लव सेक्स और धोखा, अवैध संबंध, पति की हत्या

समाज और अपनी बंदिशों का हवाला देते हुए शिल्पा ने गोपाल से कह ही दिया कि दिलीप को रास्ते से हटाना पड़ेगा, तभी दोनों एक दूसरे के हो सकते हैं. गोपाल इस बात से हैरान रह गया और उसने शिल्पा से कहा कि वह किसी का खून नहीं कर सकता. शिल्पा ने उस वक्त बात टाल दी और बाद में दो एक बार फिर गोपाल को राज़ी करने की कोशिश की लेकिन गोपाल नहीं माना. शिल्पा हर अदा, हर तरीका अपना चुकी थी कि गोपाल को किसी तरह फुसला सके लेकिन गोपाल के इनकार करने पर वह नाराज़ हो गई.

शिल्पा : तो तुम मेरी बात नहीं मानोगे?
गोपाल : बात कायदे की हो तो मानी भी जाए. तुम मुझसे खून करने को कह रही हो, मैं कोई खूनी नहीं हूं.
शिल्पा : ऐसे तो बड़े मर्द बनते हो, बस धरी रह गई मर्दानगी अब?
गोपाल : तुम पागल हो गई हो शिल्पा. मर्दानगी साबित करने के लिए खून करना पड़ेगा क्या?
शिल्पा : रहने दो तुम. आज के बाद मिलना मत मुझसे. बड़ा प्यार करते हो, एक काम तो कर नहीं पा रहे. ऐसे संबंध का क्या मतलब जिसके भविष्य के लिए कोई जोखिम उठाने को तैयार ही नहीं हो तुम.

फिर शिल्पा एक तरह से गोपाल के साथ सारे रिश्ते तोड़ बैठी. मिलना—जुलना, बातचीत सब बंद होता चला गया. गोपाल ने कुछ कोशिशें कीं लेकिन शिल्पा उससे दूरी बनाती चली गई. इसी बीच, कालोल में रहने वाला शिल्पा का एक रिश्तेदार हरेश अपने काम के सिलसिले में अक्सर यहां आने लगा और दोनों का मिलना जल्दी होने लगा. अब अपनी रिश्ते की बहन के पति हरेश में शिल्पा ने अपना आशिक खोजना शुरू किया.

एक दिन उसने कुछ इस तरह से अपने अंदाज और अदाएं दिखाईं कि हरेश अपनी हिचक छोड़कर शिल्पा पर रीझ ही गया. जल्द ही दोनों के बीच करीबियां बढ़ने लगीं और फिर शिल्पा ने उसी तरह के जाल हरेश पर फेंके जिनमें पहले गोपाल फंसते फंसते बचा था. दो बच्चों के बाप हरेश के साथ जल्द ही शिल्पा का प्रेम प्रसंग चल पड़ा और अब शिल्पा ने दिलीप के कत्ल के लिए हरेश को मनाना शुरू किया.

Murder in Ahmedabad, Gujarat news, love sex aur dhokha, extra marital affair, wife killed husband, अहमदाबाद हत्याकांड, गुजरात समाचार, लव सेक्स और धोखा, अवैध संबंध, पति की हत्या

पहले पहल तो हरेश भी इस बात से हिचका लेकिन शिल्पा ने उसे अपना शरीर सौंपते हुए एक ऐसा वादा किया, जो हरेश के लिए एक दिलकश बहाना बन गया. शिल्पा ने जज़्बाती होकर उसे अपने दुख सुनाए और फिर उससे कहा -

मुझे किसी भी तरह इस नरक से आज़ाद कर दो हरेश. मैं इस आदमी के साथ बहुत परेशान हो गई हूं, दम घुटने लगा है मेरा. तुम अगर दिलीप को रास्ते से हटा दो तो तुम जो कहोगे, मैं करूंगी. मैं पूरी ज़िंदगी के लिए तुम्हारी गुलाम बनकर रहूंगी. पत्नी बनाना चाहे न बनाना, ऐसे ही रख लेना, बस तुम्हारी होकर रहना चाहती हूं.


शिल्पा की इस तरह की बातों से एक गारमेंट शॉप का काम करने वाला हरेश जल्द ही दिलीप का कत्ल करने के लिए राज़ी हो गया. उसने पिछली 27—28 जुलाई की रात एक प्लैन बनाया और एक पार्सल देने के बहाने दिलीप को जगतपुर के बाहरी सुनसान इलाके में आने को कहा. हरेश अपने साथ एक धारदार चाकू लेकर वहां मौजूद था और उसने तय कर रखा था कि मौका देखते ही वह दिलीप का गला रेत देगा.

लेकिन, कत्ल करना इतना आसान नहीं होता. हथियार से ज़्यादा हिम्मत की ज़रूरत होती है. दिलीप आया, हरेश से मुलाकात की और दिलीप को मारने के लिए मौका भी मिला लेकिन हरेश का हाथ चाकू तक जाकर भी रुक गया. हरेश की हिम्मत ही नहीं हुई कि वह दिलीप का खून कर दे. हरेश अपनी उधेड़बुन में पसीने से तर हुआ जा रहा था और दिलीप ने उसे देखकर उसकी तबीयत के बारे में पूछा. फिर दोनों अपने अपने रास्ते चले गए.

अगले दिन हरेश ने इस पूरी घटना के बारे में शिल्पा को बताया तो एक पल के लिए शिल्पा को लगा कि हरेश भी गोपाल की तरह ही कायर निकला. लेकिन, शिल्पा ने हिम्मत नहीं हारी थी और उसने हरेश को और उकसाया. उसे हर तरह से संतुष्ट करने के बाद उसे हिम्मत बंधाई और एक कोशिश और करने को कहा. हरेश अगली बार के लिए राज़ी हुआ और फिर एक और प्लैन बनाया गया.

हरेश ने 31 जुलाई की रात फिर दिलीप को उसी जगह बुलाया और इस बार वह पूरी तरह तैयार था. इस बार दिलीप पहुंचा तो हरेश ने उसे एक पार्सल दिया और बातचीत के दौरान जैसे ही मौका मिला, हरेश ने चाकू निकालकर पीछे से दिलीप के गले पर चला दिया. बहते हुए खून को रोकने की कोशिश में अपना गला पकड़े दिलीप घुटनों पर गिर गया लेकिन वह हैरानी से हरेश को देख रहा था. हरेश उससे आंखें मिलाने से बचना चाहता था इसलिए उसने और दो बार दिलीप के गले पर चाकू से हमला किया.

Murder in Ahmedabad, Gujarat news, love sex aur dhokha, extra marital affair, wife killed husband, अहमदाबाद हत्याकांड, गुजरात समाचार, लव सेक्स और धोखा, अवैध संबंध, पति की हत्या

अगले ही पल दिलीप की लहूलुहान लाश उस सुनसान जगह पर पड़ी थी. हरेश ने दिलीप की धड़कन और नब्ज़ जांची और फिर खून से सना चाकू पास ही नर्मदा की एक नहर में फेंक दिया. नहर के पानी से अपना मुंह धोकर हरेश अपने घर लौट गया. उसने शिल्पा को जैसे ही बताया कि 'काम हो गया' तो शिल्पा की खुशी का ठिकाना नहीं रहा और उसे एक आज़ादी का एहसास हुआ.

इधर, हरेश और शिल्पा आगे की प्लैनिंग करने में मसरूफ थे और उधर, लाश मिलने के बाद सीसीटीवी और लोगों से पूछताछ करती हुई पुलिस दो दिन में ही हरेश तक पहुंच गई. हरेश को गिरफ्तार करने के बाद सख्त पूछताछ में हरेश ने पछतावे के साथ गुनाह पुलिस के सामने कबूल कर लिया. हरेश के बयान के आधार पर 14 और 17 साल की दो बेटियों की मां शिल्पा को भी हिरासत में ले लिया गया.

ये भी पढ़ें

LoveSexaurDhokha: हमबिस्तर होने से क्यों कतराता था उसका पति?
मेजर के कत्ल के पीछे था गैर मर्द के साथ बीवी के 'Gang Bang' का ट्विस्ट
LoveSexaurDhokha: शादी कर चुकी प्रेमिका से बदला लेना चाहता था आशिक
LoveSexaurDhokha: कत्ल की वजह था बीवी का एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर
माशूका का कत्ल करने के बाद गलती ये थी कि उसके फोन से मैसेज कर दिया

PHOTO GALLERY : रात ढाई बजे लड़की पर एसिड फेंकने वाला कौन था - प्रेमी या प्रेमिका?
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर