शादी के तीसरे दिन सवाल खड़ा हुआ कि दुल्हन का पति है कौन?

एक आदमी ने मंदिर में लोगों की मौजूदगी में एक लड़की से शादी की और शादी के तीसरे दिन ही एक आदमी उसके घर आकर कहने लगा कि उसकी बीवी से जबरन शादी कैसे कर ली? उत्तर प्रदेश के बांदा में पुलिस ने इस केस में सच सामने आने का दावा किया.

Bhavesh Saxena
Updated: July 18, 2018, 7:42 PM IST
शादी के तीसरे दिन सवाल खड़ा हुआ कि दुल्हन का पति है कौन?
सांकेतिक चित्र
Bhavesh Saxena
Updated: July 18, 2018, 7:42 PM IST
दो दिन पहले ही शादी हुई थी और तीसरे दिन दुल्हन थाने में बैठी अपने नये नवेले दूल्हे पर संगीन इल्ज़ाम लगा रही थी. एक और आदमी भी था जो इस दुल्हन को अपनी बीवी बता रहा था और कह रहा था कि उसकी बीवी से जबरन शादी की गई है, उसकी बीवी के साथ गैंगरेप किया गया है. कहानी इतनी उलझ रही थी कि पुलिस ने तीन दिन पहले दूल्हा बने आदमी को इन संगीन आरोपों में हिरासत में ले लिया जबकि वह कह रहा था कि वह बेकसूर है.

यह कहानी करीब एक महीने पहले शुरू हुई थी जब घनश्याम की मुलाकात निरंजन से हुई थी. घनश्याम की उम्र बढ़ती जा रही थी और वह शादी के लिए उतावला भी था. अपने दोस्तों और परिचितों के बीच वह कई बार यह ज़िक्र छेड़ चुका था कि उसे शादी करनी है और एक अच्छी लड़की की तलाश है. इसी सिलसिले में उसे किसी ने निरंजन से मिलवाया जो शादी करवाने का काम किया करता था.

निरंजन ने घनश्याम की आर्थिक स्थिति, उम्मीदें वगैरह पूछने के बाद उसे एक लड़की की तस्वीर दिखाई और कहा कि उसके लिए यह लड़की ठीक रहेगी. 'मिडिल क्लास फैमिली की लड़की है और इसकी शादी के लिए भी इसके परिवार वाले जल्दबाज़ी में हैं क्योंकि इसकी भी उम्र बढ़ रही है. आप चाहो तो जल्द ही शादी हो सकती है.' घनश्याम ने कहा कि तस्वीर नहीं बल्कि वह लड़की को एक बार देखना चाहता है तो निरंजन राज़ी हो गया.

घनश्याम लड़की यानी निर्मला को देखने पहुंचा तो साथ में कुछ और लोग भी थे जैसे मालती, ममता और कुलदीप जो निर्मला के रिश्तेदार थे. निरंजन ने छोटी सी मुलाकात करवाई और सब कुछ तय हो गया. उत्तर प्रदेश के बांदा ज़िले के रहने वाले घनश्याम को अब अपना घर बसता दिख रहा था और वह मन ही मन खुश था. फिर निरंजन ने कहा कि शादी करवाना उसका धंधा है इसलिए कमीशन के तौर पर वह पचास हज़ार रुपये लेगा और इसी शर्त पर शादी होगी.

झूठी शादी, लुटेरी दुल्हन, लूट, उत्तर प्रदेश समाचार, बांदा, fake marriage, fake bride, loot, uttar pradesh news, banda

घनश्याम अपनी खुशी में चूर था इसलिए उसने यह शर्त मान ली और शादी की तैयारियां करने लगा. पिछली 10 जुलाई को शहर के संकटमोचन मंदिर में शादी का इंतज़ाम हुआ और घनश्याम व निर्मला दूल्हा दुल्हन बने. पूरे पूजा पाठ के साथ दोनों की शादी हो गई जिसका वीडियो और फोटो शूट सब कुछ हुआ. इसके बाद परिवार और रिश्तेदारों ने मिलकर शादी का भोजन किया और अपनी दुल्हन को लेकर घनश्याम अपने घर आ गया.

घनश्याम का घर बस चुका था और अब वह आगे के जीवन के सपने देख रहा था और अपनी नयी नवेली पत्नी को अपने इन सपनों के साथ ही अपने और अपने परिवार के बारे में कई बातें बता रहा था. इसी तरह दो दिन गुज़र गए और तीसरे दिन घनश्याम के घर के दरवाज़े पर एक दस्तक हुई. जैसे ही घनश्याम ने दरवाज़ा खोला तो एक आदमी तैश में भीतर घुसा और घनश्याम को गालियां देकर ज़ोर ज़ोर से निर्मला को पुकारने लगा.

घनश्याम कुछ समझ पाता इससे पहले ही निर्मला ने उस आदमी का साथ दिया जो घर में घुसा था यानी कुलदीप. कुलदीप धमकी दिए जा रहा था कि घनश्याम ने धोखे से और जबरन उसकी बीवी निर्मला से शादी कर ली है इसलिए वह उसे जेल भिजवा देगा. घनश्याम समझाने की कोशिश करता रहा लेकिन निर्मला भी कुलदीप के सुर में सुर मिलाती रही और तीनों खींचातानी करते हुए थाने पहुंच गए.


थाने में कुलदीप ने कहा कि उसकी ब्याहता बीवी को जबरन अगवा कर शादी कर ली गई और पिछले दो दिनों से उसकी बीवी के साथ बलात्कार किया गया. घनश्याम ने इन आरोपों को झूठ करार दिया और पुलिस को बताया कि उसने बाकायदा शादी की है और कई लोगों की मौजूदगी में मंदिर में सात फेरे लिये हैं. घनश्याम ने यह भी बताया कि उसने शादी कराने वाले एजेंट को 50 हज़ार रुपये भी दिए हैं. यह सुनते ही कुलदीप ने कहा कि इसका मतलब है कि उसकी बीवी की खरीद फरोख्त भी की गई है.

झूठी शादी, लुटेरी दुल्हन, लूट, उत्तर प्रदेश समाचार, बांदा, fake marriage, fake bride, loot, uttar pradesh news, banda

इधर, निर्मला ने कुलदीप का साथ देते हुए कहा कि वह तो पहले से शादीशुदा है और उसे तो किसी किस्म की पूजा की बात कहकर मंदिर में बिठा दिया गया था. उसे पता ही नहीं था कि उसकी शादी हो रही है. घनश्याम कहता रहा कि वह बेकसूर है, लेकिन उसकी बात में कोई दम नहीं था. पुलिस ने घनश्याम को पकड़ लिया और उससे सच कबूल करने की बात कही लेकिन घनश्याम अपने बयान पर कायम रहा.

अब गुत्थी उलझी और पुलिस को भी समझ नहीं आ रहा था कि कौन सही कह रहा है, कौन झूठ. जैसे ही यह खबर अखबार में छपी तब इस मामले में खुलासा होना शुरू हुआ. एक और आदमी दिनेश यह खबर पढ़कर पुलिस के पास पहुंचा और उसने पूछा कि इस मामले की जांच जो अफसर कर रहा है, वह उससे मिलना चाहता है. अब दिनेश ने उस अफसर से मुलाकात कर एक और कहानी सुनाई.


दिनेश ने पुलिस को बताया कि तकरीबन इसी तरह शादी करवाने वाले एक एजेंट ने एक लड़की के साथ महीने भर पहले उसकी शादी करवाई थी. उसे भी लड़की और उसके कुछ रिश्तेदारों से मिलवाया गया था और एक मंदिर में शादी हुई थी. शादी के बाद वह अपनी दुल्हन को लेकर घर पहुंचा था और शादी की पहली ही रात वह दुल्हन लाखों रुपये के ज़ेवर लेकर फरार हो गई थी. अब दिनेश ने कहा कि उसे शक है कि उसकी और घनश्याम की कहानियों में धोखा देने वाले लोग एक ही हैं.

दिनेश की कहानी सामने आने के बाद पुलिस ने तफ्तीश की तो पता चला कि एक गैंग है जो इसी तरह शादियां करवाता है और दुल्हन यानी निर्मला उस घर से ज़ेवर या कैश वगैरह लूटकर फरार हो जाती है और खुद को पहले से शादीशुदा बताती है. पुलिस ने निर्मला और कुलदीप सहित इस गैंग के कुछ लोगों को जल्द ही हिरासत में ले लिया और यह भी पता चला कि यह गैंग छत्तीसगढ़ से संचालित होता है और अब तक ऐसी तीन-चार दर्जन वारदातों को अलग अलग राज्यों में अंजाम दे चुका है.

ये भी पढ़ें

#LoveSexaurDhokha: बीवी थी बेवफा और 'बेवफाई' के इल्ज़ाम में तिहाड़ में था पति
आश्रम में बलात्कार के बाद जब घर पहुंची तो बूढ़े से कराई जाने लगी शादी
लव मैरिज में शक आया तो 'लव' खो गया और मिला 'कत्ल का प्लॉट'
कसौली से कैथल तक ड्राइवर को पता नहीं चला कि टैक्सी में थी एक लाश
#SerialKillers: वह सुनता था 'Highway To Hell' और कहता था 'शैतान ज़िंदाबाद'

Gallery - पाकिस्तान चुनाव : डेमोक्रेसी चुनना है तो 'हथियार' चुनो
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर