होम /न्यूज /crime /MURDER: दूसरे पति को छोड़ने को तैयार नहीं हुई प्रेमिका तो भड़क गया आशिक

MURDER: दूसरे पति को छोड़ने को तैयार नहीं हुई प्रेमिका तो भड़क गया आशिक

नवी मुंबई में एक बिज़नेसमैन की हत्या की कहानी कुछ इस तरह सामने आ रही है कि एक महिला अपने पति को छोड़कर प्रेमी के साथ भा ...अधिक पढ़ें

    वृशाली अपने पति को छोड़कर अनिल के साथ भाग गई. उसके पति को एक सदमा सा लगा क्योंकि उसे इस बात की कोई भनक तक नहीं थी कि वृशाली का किसी के साथ कोई प्रेम संबंध है. उधर, अनिल के साथ भाग जाने के बाद वृशाली को एक बेहतर जीवन की उम्मीद जागी थी. उस वक्त वृशाली को भी नहीं पता था जिस प्रेमी के लिए उसने अपने पति को छोड़ दिया, एक दिन उस प्रेमी को वह किसी और की चाहत में छोड़ देगी. प्यार के इसी खेल के बीच जन्मी एक साज़िश और फिर एक कत्ल हुआ.

    ये कहानी कुछ साल पहले हुई थी जब वृशाली की शादी हुई. वृशाली का पति इस बात से अनजान ही रहा कि उसकी पत्नी के संबंध उसके एक रिश्तेदार के साथ बन गए हैं. नवी मुंबई के अनिल ने वृशाली की शादी में शिरकत की थी और तभी से वह वृशाली की तरफ आकर्षित हो चुका था. चूंकि वृशाली के घर रिश्तेदारी के कारण आना-जाना रहा तो अनिल ने फ्लर्ट करना शुरू किया और वृशाली भी उसकी तरफ खिंचती चली गई.

    दोनों के बीच प्यार का एक रिश्ता पनप चुका था और दोनों चोरी छिपे मोबाइल फोन के ज़रिये बात करते. जब वृशाली का पति घर पर नहीं होता तब दोनों मिलते. कभी अनिल घर ही आ जाता तो कभी दोनों कहीं बाहर मुलाकात करते. इन्हीं मुलाकातों के दौरान वृशाली और अनिल के बीच शारीरिक संबंध बने. अब आलम यह हो गया कि दोनों एक-दूसरे के बगैर जीने के लिए तैयार नहीं थे. दोनों को मालूम था कि उनका रिश्ता उनका परिवार और समाज कभी स्वीकार नहीं करेगा.

    कई तरह से जुगत लगाने के बाद दोनों के पास एक ही रास्ता था कि बिन बताए दोनों कहीं और चले जाएं और साथ में अपना जीवन शुरू करें. वृशाली ने पूरी योजना के तहत अनिल का साथ दिया और दो साल पहले यानी 2016 में एक दिन वह अपने पति के घर से किसी बहाने से चली गई. वृशाली के जाने के बाद उसके पति को झटका लगा क्योंकि उसे वृशाली से ऐसे किसी कदम की भनक तक नहीं थी. उधर, वृशाली ने अनिल के साथ अपने बेहतर भविष्य के सपने देखना शुरू किए.

    नवी मुंबई, कत्ल, हत्याकांड, अवैध संबंध, लव सेक्स धोखा, navi mumbai, murder, murder case, illicit relationship, love sex dhokha

    अनिल और वृशाली को साथ रहते कुछ महीने हो चुके थे लेकिन दोनों ने शादी नहीं की थी. लिव इन रिलेशन में रह रहे अनिल और वृशाली का जीवन सामान्य ही चल रहा था तभी शांताराम की एंट्री हुई. 33 साल का शांताराम एक बिज़नेसमैन था और अपने बिज़नेस के सिलसिले में उसकी मुलाकात दोनों से हुई थी. इसी वक्त शांताराम और वृशाली एक-दूसरे की तरफ खिंचे. अब अनिल जब अपने काम में बिज़ी रहता तो शांताराम के साथ वृशाली की बातचीत होती.

    कुछ ही समय में वृशाली और शांताराम के बीच गहरी दोस्ती हो गई और फिर प्यार हो गया. अनिल गरीब नहीं था लेकिन शांताराम के पास ऐशो-आराम की सुविधाएं ज़्यादा थीं. वृशाली इसलिए भी शांताराम के साथ रिश्ते में बहती चली गई थी. शांताराम को पता नहीं था कि वृशाली की शादी हुई थी और अनिल के साथ भागी थी. वह अनिल और वृशाली को दोस्त की तरह जानता था. नवी मुंबई के कामोठे में गाड़ियों के बैटरी स्टोर के मालिक शांताराम ने एक दिन वृशाली के सामने शादी का प्रस्ताव रख दिया. यह शादी का प्रस्ताव वृशाली को नयी खुशियों के मौके की तरह लगा और उसने मंज़ूर कर लिया.

    अनिल ने उसके फैसले पर ऐतराज़ जताया लेकिन तब वृशाली ने बात टाल दी. एक दिन मौका देखकर वह अनिल को छोड़कर शांताराम के पास चली आई और कुछ ही दिनों में शांताराम के साथ शादी कर ली. अब मिसेज़ शांताराम बनकर रह रही वृशाली के लिए अनिल समस्या बनने लगा क्योंकि वह उस पर शांताराम को छोड़ने के लिए दबाव बना रहा था.


    अनिल को टालने के लिए वृशाली शुरुआत में कहती रही कि वह इस बारे में सोचेगी और जल्द ही अनिल के पास चली आएगी. दिन बीते और महीने बीतने लगे तो अनिल की बेचैनी बढ़ गई और उसने वृशाली के साथ जब तैश में बातचीत की तो वृशाली ने साफ कह दिया कि वह शांताराम को नहीं छोड़ेगी और अनिल अब उसे भूल जाए. अनिल इतना नाराज़ हो गया कि अब उसने वृशाली को अपना बनाने और फिर हासिल करने की कसम खा ली.

    उधर, वृशाली अपनी नयी ज़िंदगी में खुश थी और इधर, अनिल ऐसे लोगों को तलाश रहा था जो उसके रास्ते के रोड़े को हटा सकें. इसी सिलसिले में अपने कुछ परिचितों के ज़रिये अनिल की मुलाकात दो लोगों से हुई जो कीमत लेकर कत्ल कर सकते थे. अनिल ने उन दोनों को काम समझाया और लोकेशन व टाइम बताने के साथ ही, शिकार को पहचानने के लिए उसका फोटो और पता वगैरह सब कुछ दे दिया.

    नवी मुंबई, कत्ल, हत्याकांड, अवैध संबंध, लव सेक्स धोखा, navi mumbai, murder, murder case, illicit relationship, love sex dhokha

    अब वह दिन था जब 36 वर्षीय अनिल के इस प्लैन को अंजाम दिया जाना था. कामोठे के दुधे चौक के पास 4 जुलाई की रात जब शांताराम अपने बैटरी स्टोर से निकलकर पास ही अपने घर जा रहा था तभी दो नकाबपोश बाइक से वहां आए. सड़क और आसपास कई गाड़ियों की आवाजाही लगी हुई थी. इसी बीच पैदल चल रहे शांताराम को धक्का देकर इन नकाबपोशों ने उसे गिरा दिया. फिर दोनों ने बाइक से उतरकर शांताराम को चाकू मार दिया.

    चाकू का पहला वार ठीक से नहीं हुआ. शांताराम बचने की कोशिश कर रहा था इसलिए चाकू से जानलेवा हमला हो नहीं पा रहा था. दोनों ने कई बार चाकू से हमला किया लेकिन शांताराम के ज़िंदा बचने की सूरत में एक नकाबपोश ने पिस्तौल निकाली और सरेआम गोली मार दी. गोली लगते ही शांताराम जिस तरह ज़मीन पर गिरा और तड़पकर शांत हो गया, दोनों को यकीन हो गया कि वह मर गया है. दोनों नकाबपोश बाइक पर बैठे और वहां से फरार हो गए.

    अनिल के रास्ते का कांटा तो निकल चुका था लेकिन गलती यह हो गई कि करीब एक मिनट में कत्ल को अंजाम देने की यह पूरी वारदात चौक पर एक दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई. इस फुटेज की मदद से पुलिस कातिलों को पहचान गई और हत्या के मास्टरमाइंड अनिल तक पहुंच गई. अनिल को हिरासत में लेने के बाद पुलिस दोनों फरार हमलावरों की तलाश कर रही है. घटना के तुरंत बाद पुलिस ने न्यूज़18 के साथ बातचीत कर घटना और सीसीटीवी के बारे में जानकारी दी.

     

    Tags: Love Sex aur Dhokha, Maharashtra, Mumbai, Murder

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें