बंदूक लेकर बीवी का MURDER करने निकला तो पहले फूंक दी अपनी CARAVAN

आॅस्ट्रेलिया में एक आदमी को इसलिए 41 साल से ज़्यादा की सज़ा दी गई है क्योंकि उसने अपनी पत्नी की मारने का पूरा प्लैन बनाया और नृशंस तरीके से कत्ल को अंजाम दिया. इस केस के कारण आॅस्ट्रेलिया में बढ़ती घरेलू हिंसा पर खासी चर्चा शुरू हो चुकी है.

Bhavesh Saxena | News18Hindi
Updated: August 9, 2019, 5:38 PM IST
बंदूक लेकर बीवी का MURDER करने निकला तो पहले फूंक दी अपनी CARAVAN
सांकेतिक चित्र
Bhavesh Saxena | News18Hindi
Updated: August 9, 2019, 5:38 PM IST
6 अक्टूबर की देर शाम से कीथ ने शराब पीना शुरू की तो रात तक पीता रहा. शराब पीने के दौरान उसका चेहरा तमतमाया हुआ था और उसकी आंखें लाल हो चुकी थीं. उसके ज़हन में पुरानी यादें घूम रही थीं लेकिन अच्छा एक भी पल नहीं बल्कि हर बुरी याद उसे लगातार परेशान कर रही थी. रात के अंधेरे में कीथ अपने हथियार लेकर मॉली को कत्ल कर देने के इरादे से ही निकला था.

आॅस्ट्रेलिया के न्यू साउथ वेल्स का मेटलैंड शहर घनी हरियालियों के बीच बसा है और यहां शांति के कई कोने हैं. लेकिन इंसानों की खूंखार फितरत किसी भी शांत कोने में अशांति फैला सकती है, यही साबित किया 59 साल के कीथ गुडबन ने. एक ज़माना था जब इस शहर की खूबसूरती के बीच कीथ का खूबसूरत परिवार रहा करता था. कीथ अपनी बीवी मॉली और बेटी बियांका के साथ यहां खुश भी था लेकिन कीथ की शराब की लत और शराब पीने के बाद उसका हिंसक बर्ताव हर खूबसूरती को उजाड़ता चला गया.

कीथ कुछ हद तक अपनी आर्थिक हालत के लिए मॉली पर डिपेंड करता था क्योंकि अपने अजीब व्यवहार के कारण वह किसी जगह किसी व्यवसाय में बहुत समय तक टिक नहीं पाता था. इस पर नशे की उसकी आदत से अक्सर उसका परिवार खास तौर से मॉली बेहद परेशान होती थी. शराब पी लेने के बाद कीथ को होश नहीं रहता था और वह मॉली के साथ आएदिन हिंसा किया करता था.

इन्हीं हालात के कारण कुछ साल पहले मॉली अपनी बेटी बियांका को लेकर कीथ से अलग हो चुकी थी. मॉली को आएदिन की इस परेशानी से निजात चाहिए थी और वह कीथ के इस बर्ताव के कारण उसे पागल तक करार दे देती थी. खैर, मॉली अपनी जवान बेटी बियांका के साथ मेटलैंड के अपने बड़े से घर में रह रही थी और अपनी बहनों और परिवार के साथ खुश थी.

अलग हो जाने के बावजूद कीथ कभी-कभी नशे की हालत में इस पुराने घर में आ जाता था और मॉली के साथ उसी तरह हिंसक बर्ताव किया करता था. कुछेक बार कीथ को चेतावनी दी गई थी लेकिन कीथ पर इसका कोई असर नहीं हुआ. फिर, मॉली ने कानूनी कार्रवाई करते हुए पुलिस में इस मामले की शिकायत दर्ज करवाई तो करीब चार महीने पहले कीथ को कोर्ट ने आदेश दिया कि वह मॉली के जीवन में किसी तरह का खतरा पैदा न करे और मेटलैंड की सीमा से दूर चला जाए.

आॅस्ट्रेलिया, हत्याकांड, कत्ल, पत्नी की हत्या, घरेलू हिंसा, Australia, murder case, murder, husband killed wife, domestic violence
आॅस्ट्रेलिया में न्यू साउथ वेल्स के पास स्थित मेटलैंड शहर.


कोर्ट के आॅर्डर के अनुसार अब कीथ को मेटलैंड से दूर रहना था इसलिए उत्तर की तरफ वह टैरी नाम के कस्बे में रह रहा था. यहां वह अपने कैरवैन में रहता था और पुरानी यादों में घुटता रहता था. कुछ ही महीनों में उसकी जमा पूंजी भी खत्म हो रही थी और नशे की लत और बुरी तरह हावी हो रही थी. कीथ को अब यही लगने लगा था कि मॉली ने उसके साथ धोखा किया.
Loading...

मॉली के लिए कीथ अपने मन में बेतहाशा नफरत पाल चुका था. अपनी खराब होती हालत के लिए वह मॉली को ज़िम्मेदार मान रहा था और उसे लगने लगा था कि मॉली ने उससे उसकी खुशहाल ज़िंदगी और परिवार सब कुछ छीन लिया. कुछ ही दिनों में कीथ ने मॉली को मार डालने का निश्चय कर लिया था. वह पूरी तरह मान चुका था कि मॉली को इस दुनिया में जीने का कोई हक नहीं है क्योंकि उसने उसे पूरी तरह तबाह कर दिया है.

मॉली को मार डालने का कीथ का इरादा किस कदर खूंखार था यह ज़ाहिर हुआ 6 अक्टूबर 2016 की रात. शाम से ही कीथ ने रात तक शराब पी और फिर वह गुस्से से लाल हो चुका अपनी कैरवैन से बाहर निकला. इस कैरवैन को कुछ लमहों के लिए उसने घूरकर देखा. फिर कीथ कैरवैन के भीतर गया और एक कैन लेकर बाहर आया. कैन से पेट्रोल पूरी कैरवैन पर छिड़का और इस बड़ी सी गाड़ी को आग के हवाले कर दिया. कीथ तय कर चुका था कि अब उसे इस कैरवैन में नहीं रहना है. थोड़ी देर बाद वह वहां से चला गया.

आॅस्ट्रेलिया, हत्याकांड, कत्ल, पत्नी की हत्या, घरेलू हिंसा, Australia, murder case, murder, husband killed wife, domestic violence

6 और 7 अक्टूबर की दरमियानी रात करीब 3 बजे कीथ मेटलैंड के उस घर में पहुंचा जहां कभी वह मॉली के साथ रहता था. अब इस घर में मॉली और बियांका रह रहे थे. शीशे की खिड़की से कीथ ने देखा तो दोनों सो रही थीं. कीथ ने वरांडे की तरफ से घर में दाखिल होने का मन बनाया और वह घूमकर उस तरफ गया. नशे की हालत में वह दो एक चीज़ों से टकराया तो कुछ आहटें हुईं.

वरांडे में पहुंचकर कीथ ने लात मारकर एक दरवाज़े को तोड़ने की कोशिश की. इन आहटों से बियांका जाग चुकी थी और वह वरांडे की तरफ पहुंची. वहां पहुंचकर बियांका की आंखें एक सेकंड के लिए फटी की फटी रह गईं जब उसने कीथ को ऐसी हालत में देखा. कीथ दरवाज़ा तोड़ रहा था और उसके एक हाथ में एक राइफल थी और उसके पतलून में शिकार के लिए इस्तेमाल होने वाला एक बड़ा चाकू था.

बियांका को कुछ ही सेकंड्स लगे कीथ का इरादा भांप लेने में. दरवाज़ा जैसे ही तोड़ा वैसे ही बियांका ने कीथ को रोकने के लिए पूरा ज़ोर लगाया. उधर, ये आवाज़ें सुनकर मॉली की नींद भी खुल चुकी थी और वह कुछ समझने की कोशिश कर रही थी. इधर, कीथ के साथ गुत्थमगुत्था हो चुकी बियांका गिड़गिड़ा रही थी कि वह यहां से चला जाए. ‘डैड प्लीज़, डैड प्लीज़...’ दोहराती रही बियांका को किसी तरह कीथ ने धक्का देकर दूर किया और चीखकर बोला - ‘तुम यहां से चली जाओ, वरना मेरा अगला शिकार तुम भी हो सकती हो.’


कीथ ने बियांका पर बंदूक तानकर यह चेतावनी दी थी. बियांका समझ चुकी थी कि अब उसे बाहर से ही किसी को मदद के लिए बुलाना पड़ेगा. वह डरती हुई कुछ कदम पीछे हटी और अपनी मां मॉली का माथा चूमते हुए उसने कहा – ‘मां मुझे जाना पड़ेगा, आई लव यू.’ इसके बाद बियांका उस कमरे से बाहर निकली तो पूरी रफ्तार से उसने दौड़ लगाई ताकि किसी की मदद हासिल कर सके. इधर, इससे पहले मॉली कुछ विरोध करती, कीथ ने एक गोली मॉली की छाती में दाग दी.

आॅस्ट्रेलिया, हत्याकांड, कत्ल, पत्नी की हत्या, घरेलू हिंसा, Australia, murder case, murder, husband killed wife, domestic violence

गोली की आवाज़ सुनकर दौड़ रही बियांका के कदम थम गए और उसने घर की तरफ पलटकर देखा. आधे सेकंड के लिए उसने सोचा कि वह लौटे लेकिन पहले वह सामने के बूथ पर गई और वहां से उसने पुलिस को फोन किया. इसके बाद वह लौटने के लिए दौड़ी. दौड़कर बियांका जब तक उस कमरे में पहुंचती तब तक वह और तीन गोलियों की आवाज़ें सुन चुकी थी. कीथ ने मॉली के सिर में गोलियां दाग दी थीं ताकि मॉली के बचने की कोई गुंजाइश न रहे.

कमरे में आई बियांका ने फर्श पर लहूलुहान मॉली को पड़े देखा तो वह बिलखने लगी. कीथ का गुस्सा उतर चुका था और वह मॉली को गालियां देते हुए कुछ दूर रखी एक कुर्सी पर बैठने जा रहा था. इधर, बियांका हड़बड़ाकर फर्स्ट एड बॉक्स लेकर आई और उसने मॉली की जान बचाने के लिए कई नाकाम कोशिशें कीं. मां के ज़ख्मों की दवा करते हुए बियांका कुछ कुछ देर में कीथ को कोसते हुए चीख रही थी लेकिन 'शी इज़ ए **** बिच..' कहते हुए कीथ कुर्सी पर आराम से बैठकर जिन पी रहा था.

पुलिस ने कीथ को मौके से गिरफ्तार किया और कीथ ने अपना जुर्म कबूल कर लिया. इस मामले की सुनवाई के करीब डेढ़ साल बाद आज यानी 4 जुलाई 2018 को कीथ को आॅस्ट्रेलिया सुप्रीम कोर्ट ने 41 साल छह महीने के कारावास की सज़ा सुनाते हुए कहा है कि 31 साल के कारावास के बाद ही कीथ को पैरोल मिल सकेगी, इससे पहले नहीं.

आॅस्ट्रेलिया में घरेलू हिंसा
इस मामले के बाद आॅस्ट्रेलिया में घरेलू हिंसा एक मुद्दा बन गया है जिस पर बहस छिड़ी हुई है.

कीथ ने बेतहाशा गुस्से का शिकार होकर पूरी तरह साज़िश रचकर, क्रूरता और बेहद खौफनाक ढंग से कत्ल को अंजाम दिया. विल्सन ने यह भी कहा कि आॅस्ट्रेलिया में घरेलू हिंसा का आलम यह है कि हर हफ्ते एक महिला अपने पुरुष पार्टनर द्वारा कत्ल की जाती है. इस आंकड़े पर पूरी सोसायटी को शर्म आना चाहिए.


कीथ को सज़ा सुनाने वाली जज हेलेन विल्सन ने अपने फैसले में यह बात कही.

 
First published: July 5, 2018, 8:38 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...