मां में दिखती थी बाप की आत्मा, वजह क्या थी काला जादू या कुछ और?

मां में दिखती थी बाप की आत्मा, वजह क्या थी काला जादू या कुछ और?
सांकेतिक​ चित्र

मुंबई में पिछले दिनों एक फैशन डिज़ाइनर महिला को मॉडलिंग में हाथ आज़मा रहे उसके बेटे ने ही मौत के घाट उतारा. हत्या की वजह के तौर पर एक कहानी खुली जिसमें तंत्र मंत्र, काला जादू और ड्रग्स के नशे के मोड़ मिले.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 17, 2018, 8:34 PM IST
  • Share this:
वो लड़का जब खार स्थित मंदिर में पंडित के पास पहुंचा था तबसे ही कांप रहा था. पंडित उस लड़के के साथ उसके घर जाते हुए देख रहा था कि लड़का घबराया हुआ था, उसके हाथ कांप रहे थे और ज़बान लड़खड़ा रही थी. श्राद्ध की पूजा करवाने के लिए कोई घबराता नहीं है, यह सोचकर पंडित को कुछ शक तो था. जैसे ही घर में दाखिल हुए दोनों तो वहां पड़ी लहूलुहान औरत को देखकर पंडित के होश उड़ गए और उसने पुलिस को खबर दी.

ये लाश थी मुंबई में रहने वाली 45 वर्षीय फैशन डिज़ाइनर सुनीता की और कहानी सुनीता के 23 वर्षीय बेटे लक्ष्य की थी. लोखंडवाला की अग्रसेन कॉलोनी में परिवार के साथ रहने वाला लक्ष्य मॉडलिंग में अपना करियर बनाना चाहता था. उसकी मां चूंकि फैशन डिज़ाइनर के रूप में करियर बना चुकी थी इसलिए उसे अपनी मां से काफी मदद मिला करती थी. मॉडलिंग के करियर में कदम रखने के बाद लक्ष्य की मुलाकातें कुछ ऐसे लोगों से हुईं जो कई तरह का नशा किया करते थे.

इस संगत की वजह से लक्ष्य पहले शराब का आदी बना और फिर धीरे धीरे वह ड्रग्स का शिकार हो गया. लक्ष्य को ड्रग्स की लत इस कदर लग चुकी थी कि इस लत के कारण उसका करियर शुरू होने से पहले ही मुश्किल में दिखने लगा. वह कई बार अपने काम के सिलसिले में अपॉइंटमेंट होने के बावजूद नहीं पहुंचता या देर से पहुंचता. कभी उसकी ज़बान लड़खड़ा जाती तो कभी आॅडिशन खराब हो जाता.



बहुत देर नहीं लगी, सुनीता को यह पता चलने में कि उसका बेटा लक्ष्य ड्रग्स का शिकार हो चुका है. सुनीता को जब ऐसा शक हुआ और ऐसी खबरें मिलीं तो उसने लक्ष्य को ड्रग्स छोड़ने के लिए कहा. हर बार लक्ष्य वादा करता और तोड़ देता. सुनीता ने प्यार, हमदर्दी और समझाइश के रास्ते लक्ष्य को समझाने की काफी कोशिश कर ली थी और इसके बाद खीझ और गुस्सा पैदा होने लगा था.
Fashion designer killed, murder in Mumbai, Mumbai murder case, son killed mother, murder by black magic, फैशन डिज़ाइनर की हत्या, मुंबई में हत्या, बेटे ने की मां की हत्या, काले जादू से हत्या, मुंबई हत्याकांड

कुछ ही वक्त में बदलाव यह हुआ कि लक्ष्य को सुनीता में एक गुस्सैल और बिगड़ैल मां नज़र आने लगी जो पहले की तरह नहीं थी. सुनीता अब अक्सर लक्ष्य को डांटने और कोसने लगी थी. उसकी ड्रग्स की लत से अक्सर परेशान रहा करती थी. उसने एक दो बार कोशिश भी की कि वह लक्ष्य को किसी रिहैब सेंटर में या ड्रग्स छुड़वाने के ट्रीटमेंट देने वाले क्लीनिक के ज़रिये इलाज करवाए लेकिन लक्ष्य ने हर बार इसका विरोध किया.

अब दोनों के बीच झगड़े आम बात हो चुकी थी. लक्ष्य वक्त बेवक्त घर आता और नशे की हालत में. कभी कभी घर से गायब रहता और सुनीता का फोन भी नहीं उठाता. ड्रग्स की वजह से लक्ष्य में कुछ शारीरिक और मानसिक बदलाव भी दिखने लगे थे. उसकी आंखें भारी रहा करती थीं और उसके हाथ अक्सर कांपते थे. वह बेचैनी में इधर उधर घूमता रहता था. कभी पाउडर तो कभी इंजेक्शन लेकर ही उसे चैन मिलता.

लक्ष्य की गर्लफ्रेंड थी ऐशप्रिया जो अक्सर उसके घर में रहती थी. ऐश से लक्ष्य और उसकी मां के बीच के रिश्ते छुपे नहीं थे लेकिन चूंकि ऐश भी ड्रग्स की आदी थी इसलिए वह ज़्यादा तवज्जो देने की हालत में नहीं रहती थी. जब लक्ष्य और सुनीता के बीच पैसों को लेकर झगड़ा होता तो ऐश ज़रूर बीच में बोला करती थी. लक्ष्य को अक्सर पैसों की ज़रूरत पड़ती थी और उसे ड्रग्स से बचाने के लिए सुनीता अक्सर पैसे देने से मना करती थी. इस बात को लेकर भी कहा सुनी होती रहती थी.

Fashion designer killed, murder in Mumbai, Mumbai murder case, son killed mother, murder by black magic, फैशन डिज़ाइनर की हत्या, मुंबई में हत्या, बेटे ने की मां की हत्या, काले जादू से हत्या, मुंबई हत्याकांड

कुछ दिन पहले नशे की हालत में ड्रग्स के आदी कुछ साथियों के साथ लक्ष्य एक तांत्रिक के पास बैठा था. लक्ष्य ने तांत्रिक को ये नहीं बताया था कि वह खुद ड्रग्स का शिकार है बल्कि यह कहा कि कुछ समय से उसकी मां बेहद गुस्सैल हो गई है और डांटती, पीटती रहती है. तब तांत्रिक ने ज़ोर ज़ोर से मंत्र पढ़ते हुए और पूजा पाठ का माहौल बनाकर, भस्म उड़ाकर लक्ष्य से कहा -

देवी मां ने हमें बता दिया कि तेरी समस्या क्या है? तेरी समस्या का उपाय क्या है? सब कुछ पता चल गया बाबा को... सुन, तेरी मां पर साया है. एक आत्मा का साया. देवी मां कहती है कि तेरी मां पर तेरे बाप की आत्मा का साया है... तेरे बाप की आत्मा भटक रही है. तेरी मां के शरीर में घुसकर तुझे सता रही है. तुझे अपने बाप की आत्मा को मुक्त करना होगा वरना इसी तरह तू परेशान होता रहेगा. ओम् चामुंडाय विच्चै...


उस तांत्रिक ने लक्ष्य को इस बात पर विश्वास दिला दिया था कि उसकी मां पर उसके बाप की आत्मा ने वशीकरण कर लिया है इसलिए वह पगला सी गई है. लक्ष्य अपने नशे की हालत में इस बात पर विश्वास करने लगा और उसने घर जाकर अपनी मां पर गौर करना शुरू किया तो उसने जो बातें नोटिस कीं, उससे उसे ऐसा लगने लगा कि उसकी मां सुनीता वैसे ही शब्द बोल रही है या वैसे ही कोई एक्टिविटी कर रही है, जैसे उसका बाप करता था.

Fashion designer killed, murder in Mumbai, Mumbai murder case, son killed mother, murder by black magic, फैशन डिज़ाइनर की हत्या, मुंबई में हत्या, बेटे ने की मां की हत्या, काले जादू से हत्या, मुंबई हत्याकांड

तांत्रिक की बातों पर लक्ष्य को पक्का यकीन होना शुरू हो गया और अब वह अपनी मां को बचाना और प्रेतात्मा से मुक्ति दिलाना चाहता था. लक्ष्य अपने एक दोस्त के साथ फिर उस तांत्रिक के पास गया और उससे इस समस्या का हल पूछा. तब तांत्रिक ने कहा -

आत्माओं की एक दुनिया है बच्चे... हमारे चारों तरफ आत्माएं मंडराती रहती हैं और हम न तो देख पाते हैं, न महसूस कर पाते हैं. लेकिन किसी खास आत्मा की वजह से किसी किसी पर बड़ा असर होता है. उपाय है कि उस आत्मा को मुक्त कर ताकि जन्म जन्मांतरों के बंधन से वह छूट जाए. श्राद्ध पक्ष आने वाला है, तू अपने बाप का श्राद्ध कर, तर्पण कर. उसे मुक्त कर और बचा ले अपनी मां को.


अब लक्ष्य के दिमाग में तांत्रिक की यही बातें घूम रही थीं और वह घर पहुंचकर फिर अपनी मां में अपने बाप की छाया देखने लगा. घर के काम करती हुई, फोन पर बात करती हुई या उसे डांटती हुई सुनीता में लक्ष्य को अपने बाप का ही रूप दिखता. लक्ष्य का यह भ्रम उसके नशे की हालत की वजह से था जिसे वह काले जादू की माया समझने लग गया था. सुनीता ने सब्ज़ी काटने के लिए किचन में जाकर चाकू निकाला तो लक्ष्य को लगा कि जैसे वह चाकू से किसी पर हमला करने जा रही है और लक्ष्य ने उसे ज़ोर से पकड़कर चाकू छीन लिया.

सुनीता को कुछ समझ में नहीं आ रहा था कि लक्ष्य के साथ क्या हो रहा है. लक्ष्य से बात करना चाहती सुनीता तो लक्ष्य कभी डर जाता और कभी वहां से भाग खड़ा होता. सुनीता उसे कभी चांटे मारकर होश में लाने की कोशिश करती तो कभी उसे गले से लगाकर उसका डर दूर करना चाहती, लेकिन हर तरह से लक्ष्य को यही महसूस होता कि वह उस पर हमला करने वाली है. पिछले महीने सितंबर के आखिर में श्राद्ध पक्ष शुरू हुए.

Fashion designer killed, murder in Mumbai, Mumbai murder case, son killed mother, murder by black magic, फैशन डिज़ाइनर की हत्या, मुंबई में हत्या, बेटे ने की मां की हत्या, काले जादू से हत्या, मुंबई हत्याकांड
मृतका सुनीता सिंह.


इस बारे में इशारों में लक्ष्य ने ऐश से बातचीत की कि वह अपनी मां की प्रेतात्मा का इलाज करवाना चाहता है. हमेशा की तरह उसने भी लक्ष्य की बातों पर पूरी तरह गौर नहीं किया और हां में हां मिला दी. फिर बीते 4 अक्टूबर को ऐश और अपने दोस्त निखिल के साथ लक्ष्य दोपहर में अपने घर पहुंचा था. तीनों ड्रग्स के नशे में थे और थोड़ी देर के लिए किसी काम से लक्ष्य के घर आए थे.

इस दिन सुनीता ने लक्ष्य को उसके दोस्तों के साथ नशे की हालत में देखा तो वह बेहद बिगड़ गई. उसने एक सायकिएट्रिस्ट से बातचीत की और लक्ष्य को ड्रग्स की लत का इलाज करवाने के लिए मजबूर किया. कुछ ही देर में बात बहुत बिगड़ गई और सुनीता ने हाथ उठा दिया. दोस्तों के सामने लक्ष्य पर सुनीता ने हाथ उठा दिया तो उसके दोस्त वहां से चले गए और लक्ष्य को एक शर्मिंदगी का एहसास हुआ. फिर लक्ष्य को चीखती हुई सुनीता पर किसी आत्मा का साया होने की बात याद आई.

उसने काबू करने के मकसद से अपनी मां पर हाथ उठाया. इस बात से सुनीता और नाराज़ हुई और जो चीज़ हाथ में आई, उससे लक्ष्य को मारने की कोशिश की लेकिन लक्ष्य की ताकत के आगे सुनीता की ताकत जवाब दे गई. इस हाथापाई में सुनीता के चेहरे और गर्दन के पास कई गहरी चोटें आईं. फिर लक्ष्य ने गुस्से में आकर पूरी ताकत से सुनीता को एक ज़ोरदार धक्का दिया और सुनीता कुछ चीज़ों से टकराते हुए फर्श पर गिरकर बेहोश हो गई.

सुनीता के शरीर पर लगी चोटों से खून बहता हुआ देखकर लक्ष्य घबरा गया था. उसने सुनीता को इसी हालत में पास ही बाथरूम तक घसीटा. फिर कमरे में लौटा तो फिसलकर गिर पड़ा. लक्ष्य के हाथों में झुनझुनी होने लगी थी. घबराहट में वह अपने कमरे में दराज़ें खोलकर हड़बड़ाते हुए कुछ खोजने लगा. कुछ ही देर में उसने कांपते हाथों से एक इंजेक्शन तैयार किया और अपनी नस में इंजेक्ट कर लिया.

Fashion designer killed, murder in Mumbai, Mumbai murder case, son killed mother, murder by black magic, फैशन डिज़ाइनर की हत्या, मुंबई में हत्या, बेटे ने की मां की हत्या, काले जादू से हत्या, मुंबई हत्याकांड

फिर दीवार के सहारे बैठे और पसीने पसीने हो चुके लक्ष्य को श्राद्ध की बात याद आई. उसने दो दिन पहले एक पंडित के बारे में पता किया था जो श्राद्ध की पूजा करवाता था. लक्ष्य फौरन खार के उस मंदिर में गया और उस पंडित को घर चलकर श्राद्ध की पूजा करने को कहा ताकि उसके बाप की आत्मा को मुक्ति मिल जाए. पंडित राज़ी हो गया लेकिन उसके बावजूद लक्ष्य एक जल्दबाज़ी और हड़बड़ी में था. वह अपने हाथों को आपस में रगड़ रहा था तो कभी कंपकंपाते हाथों से अपना पसीना पोंछ रहा था.

पंडित को माजरा समझ में तो नहीं आ रहा था लेकिन कुछ शक हो रहा था. फिर भी, वह कुछ सवाल करता हुआ कॉलोनी की क्रॉसगेट बिल्डिंग के तीसरे फ्लोर पर बने उस फ्लैट में पहुंचा जो लक्ष्य का घर था. घर में घुसते ही हॉल से सटे बाथरूम के दरवाज़े पर ही पंडित ने सुनीता को पड़े देखा जिसके आसपास काफी खून बह चुका था. पंडित ने लक्ष्य से कुछ सवाल किए और वह घर से बाहर आ गया. इस पंडित ने लक्ष्य को फौरन एंबुलेंस बुलाने को कहा.

वहीं, लक्ष्य के दोस्तों ने सलाह दी कि वह पुलिस को सब कुछ बता दे. लक्ष्य ने पुलिस को फोन किया तो पुलिस वहां पहुंची. पहले लक्ष्य ने एंबुलेंस स्टाफ और पुलिस को सुनीता की मौत अपने आप होने की कहानी सुनाई लेकिन लक्ष्य को गिरफ्तार कर पूछताछ की गई तो धीरे धीरे पूरी कहानी सामने आ गई. अदालत ने लक्ष्य को पुलिस रिमांड पर भेज दिया है. लक्ष्य के खिलाफ धारा 304 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है यानी यह गैर इरादतन हत्या का दंडनीय अपराध तो है, लेकिन हत्या की श्रेणी का नहीं.

ये भी पढ़ें

उस रिश्ते की कहानी जिसमें परेशान पत्नी ने काट दिया था पति का प्राइवेट पार्ट
पार्टी के शोर से दूर होटल के कमरे में ले गया, फिर FB फ्रेंड को बनाया शिकार
अपने GAY आशिक को ठुकराना और ब्लैकमेल करना नवीन को महंगा पड़ा

PHOTO GALLERY : खुदकुशी की कोशिश में ज़िंदा बचे तो जेल! खत्म किए जाएंगे सैकड़ों अटपटे कानून
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज