• Home
  • »
  • News
  • »
  • crime
  • »
  • कसौली से कैथल तक ड्राइवर को पता नहीं चला कि टैक्सी में थी एक लाश

कसौली से कैथल तक ड्राइवर को पता नहीं चला कि टैक्सी में थी एक लाश

सांकेतिक चित्र

सांकेतिक चित्र

हरियाणा के एक तांत्रिक युवक का जिस युवती से प्रेम संबंध था वह शादी के बाद हिमाचल प्रदेश में अपने परिवार के साथ थी. फिर दोनों ने मिलकर पूरी साज़िश रची और प्रेम संबंध की खातिर कर डाला संगीन जुर्म. इस जुर्म को छुपाने की भी पूरी स्कीम रची गई.

  • Share this:
टैक्सी ड्राइवर ने पूछा - 'साहब, क्या है इस ट्रंक में? इतना भारी?' अजय ने जवाब दिया - 'जिम का कुछ सामान है, वेट लिफ्टिंग के लिए जो डंबल्स वगैरह इस्तेमाल होते हैं ना, वही सब.' दोनों ने मिलकर वह ट्रंक किसी तरह टैक्सी में रखा और कसौली से कैथल ज़िले तक टैक्सी का सफर शुरू हुआ. उस ट्रंक के साथ टैक्सी में बैठे अजय और बरखा ज़्यादा बात नहीं कर रहे थे और ड्राइवर इस बात से बेखबर था कि इस खामोशी का राज़ एक कत्ल भी हो सकता है.

बरसात का मौसम. हिमाचल प्रदेश के कसौली के पहाड़ी रास्ते. चारों तरफ कुदरत के नज़ारे और टैक्सी में लगभग खामोशी. इसी साल 17 जून को कम रफ्तार से चल रही इस टैक्सी में बैठे अजय और बरखा जब भी एक-दूसरे को देखते तो इशारों में ज़्यादा बात होती और शब्दों में कम. किसी बात पर अजय ऐसा इशारा करता कि चुप रहो, ड्राइवर ने सुन लिया तो? एकाध बार ड्राइवर कार के रियर व्यू मिरर से दोनों के ऐसे हाव-भाव देख चुका था और उसे कुछ अजीब तो लग रहा था लेकिन कोई शक अभी तक शायद नहीं हुआ था.

आराम-आराम से, एकाध जगह रुकते हुए रात तक टैक्सी हरियाणा के कैथल ज़िले के गांव क्योड़क पहुंच गई और एक बड़े से घर में दोनों उतर गए. वो भारी सा ट्रंक अजय ने ड्राइवर की मदद से आंगन में रखवा लिया. अजय ने ड्राइवर का हिसाब किया और टैक्सी समेत वह वहां से चला गया. थोड़ी देर बाद यानी आधी रात अजय और बरखा घर से बाहर निकले. हल्की बरसात हो रही थी. यह घर वैसे ही बस्ती से कुछ दूर था तो इन तमाम कारणों के चलते आसपास किसी का आना-जाना नहीं था.

अजय ने कुदाल उठाई और आंगन के एक हिस्से में गड्ढा खोदना शुरू किया. थक जाता तो बरखा कुछ देर मदद करती और कुछ घंटों में दोनों ने मिलकर 15 फीट गहरा गड्ढा खोद लिया. उस ट्रंक को दोनों घसीटकर गड्ढे के पास लाए और फिर उसे गड्ढे में फेंक दिया. 15 फीट गहरे गड्ढे को दोनों ने मिलकर वापस मिट्टी से भर दिया और पसीने-पसीने हो चुके दोनों अंदर जाकर आराम करने लगे. तब बिस्तर पर लेटे बरखा ने पूछा - 'अजय, क्या हमने सही किया?' और, अजय ने उसे सो जाने के लिए कहा.

कत्ल, हत्याकांड, हिमाचल प्रदेश समाचार, हरियाणा समाचार, नाजायज़ संबंध, murder, murder case, himachal pradesh news, haryana news, illicit relationship

अजय तंत्र-मंत्र का काम किया करता था और इस रात के बाद अगले कुछ दिनों में ही उसे एक और तरकीब सूझी. जिस गड्ढे में लोहे का वह भारी ट्रंक गाड़ दिया गया था, उसी गड्ढे पर अजय ने एक सिद्ध स्थान बनाना शुरू किया जिसे पीर की गद्दी कहने लगा. कुछ ही दिनों में उस जगह पीर का स्थान बन गया और अजय ने वहां एक धूना भी बना लिया जहां तांत्रिक क्रियाएं करना शुरू कर दिया. यह अजय का पैतृक गांव ही था इसलिए यहां उसे तांत्रिक बाबा के तौर पर काफी लोग जानते थे.

अजय ने यहां अपना तंत्र-मंत्र का काम शुरू कर दिया था. जुलाई के दूसरे हफ्ते में अचानक अजय के इस मकान में हिमाचल और हरियाणा पुलिस ने दबिश दी. अचानक पुलिस वालों को देखकर अजय सकपका गया और उसकी घबराहट ने पुलिस के शक को एक और कारण दिया. अजय को हिरासत में लेकर जब सख्ती से पूछताछ की गई तो पूरी कहानी सामने आ गई. कहानी कुछ इस तरह है -

अजय और बरखा दोनों एक ही गांव यानी क्योड़क के रहने वाले थे. हिमाचल के ऋषि से शादी होने से पहले बरखा यहीं रहा करती थी. दोनों पिछले कई सालों से एक-दूसरे को जानते थे और पसंद भी किया करते थे लेकिन फिर बरखा की शादी हो गई. हिमाचल में अपने पति और बच्चों के साथ रह रही बरखा और अजय के बीच पिछले कुछ वक्त से बातचीत हो रही थी और बरखा फिर अजय की तरफ खिंच चुकी थी. दोनों ने एक साथ जीने के लिए तरकीब लगाने के बारे में सोचा.

कत्ल, हत्याकांड, हिमाचल प्रदेश समाचार, हरियाणा समाचार, नाजायज़ संबंध, murder, murder case, himachal pradesh news, haryana news, illicit relationship

READ: कसौली में हत्या कर हत्यारे ने हरियाणा में दफनाया शव

बरखा ने अजय को कसौली आकर मुलाकात करने और कोई रास्ता तलाशने की बात कही. अजय गांव से कसौली जा पहुंचा और वहां होटल में एक कमरा लेकर रहने लगा. इस कमरे में उसने अपने तांत्रिक होने का प्रचार किया और झाड़ फूंक जैसी विधियों से मरीज़ों के इलाज का सिलसिला भी शुरू किया. इसी बीच, बरखा ने अजय को घर बुलाया और अपने पति ऋषि से मुलाकात करवाई. बातों-बातों में तय हो गया कि अजय घर आकर बच्चों का पढ़ाएगा.

अब रोज़ अजय घर आता और बच्चों की पढ़ाई के बहाने बरखा के साथ उसकी मुलाकात होती. ऋषि दफ्तर में रहता था इसलिए उसे इस बारे में कुछ पता नहीं था कि उसी के घर पर उसकी पत्नी के अंतरंग संबंध अजय के साथ बन रहे हैं. दोनों के संबंध गहरे होते गए और अब दोनों ने तय कर लिया कि ऋषि को रास्ते से हटाकर दोनों हमेशा के लिए एक-दूसरे के हो जाएंगे.


पिछली 16 जून को बरखा ने सुबह के नाश्ते में अजय की दी हुई कुछ नशीली दवाएं मिलाकर ऋषि को खिला दीं. ऋषि को चक्कर आने लगे और बेहोशी सी भी इसलिए बरखा ने उसे आराम करने के लिए कहा. इस दिन के लिए बरखा ने बच्चों को अपने एक रिश्तेदार के यहां भेज दिया था. शाम के वक्त ऋषि को फिर खाने में वही नशीली दवाएं दी गईं जिससे वह लगभग बेहोश हो गया. बरखा ने फोन पर अजय को ऋषि की हालत की खबर कर दी. इसके बाद अजय के घर पहुंचते ही अजय और बरखा ने मिलकर बेहोश ऋषि को आसानी से मौत के घाट उतार दिया.

कत्ल, हत्याकांड, हिमाचल प्रदेश समाचार, हरियाणा समाचार, नाजायज़ संबंध, murder, murder case, himachal pradesh news, haryana news, illicit relationship

दोनों ने ऋषि के हाथ पैर चुन्नियों से बांधे और उसकी लाश को लोहे के एक ट्रंक में भर दिया. अजय ने एक टैक्सी से पहले ही बात कर ली थी. उसने टैक्सी को फोन किया और फिर टैक्सी में लाश रखकर दोनों कैथल के क्योड़क गांव चले गए. वहां इस लाश को आंगन में ही दफना दिया गया. इस तरह की कहानी सामने आने के बाद पुलिस ने अजय के घर के आंगन में करीब एक महीने पहले 15 फीट गहरे दफनाई गई ऋषि की सड़ी गली लाश बरामद कर ली. इस कहानी में ऋषि की पत्नी के वास्तविक नाम का खुलासा नहीं हुआ है लेकिन अजय पुलिस रिमांड में है और तहकीकात जारी है.

ये भी पढ़ें

#SerialKillers: वह सुनता था 'Highway To Hell' और कहता था 'शैतान ज़िंदाबाद'
#SerialKillers: उसे मंदिरों में मिलते थे शिकार और पूजापाठ था उसका हथियार
लाश के टुकड़े करने के बाद कटा हुआ सिर लेकर चला गया था वो
एक महीने के लिए पैरोल पर छूटा था लेकिन 25 साल बाद लौटा जेल
हनीमून पर भाइयों की मदद से पति ने किया था नाबालिग पत्नी के साथ रेप

Gallery - पाकिस्तान चुनाव : डेमोक्रेसी चुनना है तो 'हथियार' चुनो

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज