बचपन की उस दोस्ती का बदला थी जवानी की ऐसी दुश्मनी!

रोंगटे खड़े कर देने वाले कत्ल की कहानी. इस कहानी पर मशहूर नॉवेल लिखा गया और फिल्म भी बनी. यह कहानी हमेशा से इसलिए दिलचस्प है क्योंकि इसमें दोस्ती, प्यार, सेक्स, थ्रिल और एक्शन जैसे इंसानी जज़्बात का पूरा मसाला है.

Bhavesh Saxena | News18Hindi
Updated: March 9, 2019, 5:13 AM IST
बचपन की उस दोस्ती का बदला थी जवानी की ऐसी दुश्मनी!
सांकेतिक​ चित्र
Bhavesh Saxena | News18Hindi
Updated: March 9, 2019, 5:13 AM IST
'बच्चा ही आदमी का बाप होता है.'
- विलियम वर्ड्सवर्थ, मशहूर कवि

बचपन के तजुर्बे और एहसास ही तय करते हैं कि कोई आदमी कौन सा रुख इख़्तियार करेगा. दो दोस्तों की ये कहानी इसी पहलू को समझाती है. दोनों का बचपन दोस्ताना तो गुज़रा था लेकिन कुछ ऐसी बातें थीं जो दिल पर चोट की तरह लगी थीं. दोनों बड़े हुए तो हालात कुछ ऐसे बने कि एक दोस्त ने अपने और दोस्तों के साथ मिलकर बचपन के दोस्त के कत्ल की साज़िश रची.

READ: जिस मेले में विवेकानंद ज्ञान दे रहे थे, वहीं शिकार तलाश रहा था ये कातिल

बचपन की कहानी


अमेरिका में हॉलीवुड के इलाके में बने एक ही ब्लॉक में बॉबी और मार्टी अपने परिवारों के साथ रहा करते थे. तीसरी क्लास से दोनों साथ ही एक स्कूल में पढ़ते थे. जैसे बच्चे लड़ते झगड़ते भी हैं और दोस्त भी बने रहते हैं, वैसे ही दोनों के बीच रिश्ता था. बॉबी दादागिरी करने वाला लड़का था इसलिए लड़ाई होती तो अक्सर मार्टी को पीट देता था.

मार्टी अक्सर बॉबी से पिटकर घर पहुंचता तो उसके पैरेंट्स को लगता कि बॉबी के साथ उसे दोस्ती नहीं रखना चाहिए. वहीं, बॉबी के पैरेंट्स को शिकायत मिलती तो उन्हें लगता था कि मार्टी एक ऐसा लड़का था जिसका कोई भविष्य नहीं था इसलिए बॉबी को दोस्ती नहीं रखना चाहिए. इसके बावजूद दोनों के बीच दोस्ती और इस किस्म की मारपीट चलती रही और दोनों बड़े होते रहे. उम्र के साथ हाथापाई तो बंद हो गई लेकिन बॉबी का हावी हो जाने वाला मिज़ाज कायम था और मार्टी कई बातों में उसके सामने सरेंडर करता था.
Loading...

READ: नौकरानी के बच्चे की शक्ल जब घर के मालिक से मेल खाने लगी!

दोनों जिम साथ जाते थे, कुछ नशीली दवाओं का सेवन भी करते थे. बॉबी हावी और आक्रामक रहता था. दोनों ने साथ मिलकर टीनेज में एक नया गुल खिलाने की भी कोशिश की. दोनों ने होमोसेक्सुअल एक्ट वाली पॉर्न फिल्म बनाकर वीडियो की दुकानों पर बेचने और पैसा कमाने की योजना बनाई. बॉबी शातिर किस्म का लड़का था इसलिए उसने फ्लोरिडा में ही रहने वाले 40 की उम्र के एक आदमी को इस फिल्म में काम करने के लिए राज़ी कर लिया.

America murder case, murder of friend, murder in affair, killer friends, true crime movie, अमेरिका हत्याकांड, दोस्त की हत्या, अफेयर में हत्या, हत्यारे दोस्त, क्राइम बेस्ड फिल्म

ये प्रोजेक्ट बॉबी और मार्टी दोनों के लिए बड़ा रोमांचक था. दोनों ने उस आदमी से एक्टिंग करवाई और कैमरे से शूट किया. बड़ी बड़ी प्लैनिंग करते हुए बॉबी ने इस फिल्म के डायरेक्टर के तौर पर अपना नाम डाला. बॉबी और मार्टी ने इस फिल्म का नाम रखा रफ बॉयज़. फिर दोनों इस फिल्म को बेचने साउथ फ्लोरिडा के कई वीडियो स्टोर्स पर गए लेकिन किसी ने उन्हें बच्चा कहकर डांट दिया तो किसी ने खराब क्वालिटी कहकर फिल्म नहीं खरीदी. इसी तरह दोनों बड़े होते रहे और हाई स्कूल ग्रेजुएशन के वक्त भी दोनों साथ ही थे.

जवानी की कहानी
साल 1993 में 20 साल के मार्टी ने 18 साल की लीज़ा के साथ डेटिंग शुरू की. लीज़ा को यही शिकायत रहती थी कि मार्टी बहुत सारा वक्त अपने हमउम्र दोस्त बॉबी के साथ ही बिताता था. बॉबी का जादू ऐसा था कि वह फोन करता या किसी भी वक्त मार्टी को मिलने के लिए बुलाता तो मार्टी उसे कभी इनकार नहीं कर पाता. इससे छुटकारा पाने के लिए लीज़ा ने एक तरकीब खोजी.

लीज़ा ने अपनी 17 वर्षीय सहेली एलिस के साथ बॉबी के बीच रिश्ता बनवाया. बॉबी और एलिस ने कुछ हफ्तों तक डेटिंग की लेकिन एलिस ने एक दिन लीज़ा को रोते हुए बताया कि सेक्सुअल संबंधों के दौरान बॉबी उसके साथ हिंसक बर्ताव करता था. उसी साल जून में लीज़ा ने एलिस की तकलीफ के बारे में जब मार्टी को बताया तो मार्टी ने भी कहा कि बचपन से बॉबी उसके साथ भी ऐसा ही हिंसक और हावी रहने वाला बर्ताव करता रहा था.

'तुम कैसे लड़के हो मार्टी! तुम अब तक उसे दोस्त बनाए हुए हो! खत्म करो उससे अपनी दोस्ती.'
'नहीं लीज़ा. मैं नहीं कर सकता. हम बचपन से साथ हैं और फिर मैंने ऐसा किया तो वो न जाने क्या करेगा!'

इस वक्त तक लीज़ा प्रेगनेंट थी और वह मार्टी के साथ सीरियस रिश्ता चाहती थी इसलिए उसने बॉबी के साथ उसकी दूरी बढ़ाने की कई कोशिशें कीं. जुलाई 1993 तक लीज़ा इतनी आक्रामक हो गई कि उसने मार्टी और अपने और दोस्तों से बॉबी को खत्म कर देने की बातें शुरू कीं. फिर एक प्लैन बनाया गया.

प्लॉट नंबर एक
बॉबी के बर्ताव से तंग आकर एलिस उसे छोड़कर डॉन के साथ डेटिंग कर रही थी. लीज़ा ने उससे कहा कि बॉबी उसकी जान लेना चाहता था इसलिए उसे एलिस और उसके दोस्तों की मदद चाहिए थी. बातचीत के बाद पांच लोग मार्टी, लीज़ा, एलिस, डॉन और एलिस का एक और दोस्त हीदर, सब लोग बॉबी से मिलने पहुंचे. 13 जुलाई की रात प्लैन के मुताबिक लीज़ा और एलिस ने बॉबी को बातों में उलझाया और उसे एक कंस्ट्रक्शन साइट की तरफ ले गईं.

America murder case, murder of friend, murder in affair, killer friends, true crime movie, अमेरिका हत्याकांड, दोस्त की हत्या, अफेयर में हत्या, हत्यारे दोस्त, क्राइम बेस्ड फिल्म

लीज़ा अपने साथ अपनी मां की अलमारी से पिस्तौल चुराकर ले गई थी. लीज़ा ने बॉबी को चारा डालते हुए कहा कि वह एलिस के साथ मज़े करे और उसकी नई आलीशान कार की ड्राइविंग का भी लुत्फ उठाए. प्लैन ये था कि बॉबी जब एलिस के साथ सेक्स कर रहा होगा, तब उसका कत्ल कर दिया जाएगा लेकिन बॉबी ने एलिस के साथ कुछ छेड़छाड़ करने के बाद उसे छोड़ दिया और वहां से जाने लगा.

पहला प्लैन फेल हो चुका था क्योंकि बॉबी पर हमला करने के लिए लीज़ा और उसके बाकी दोस्तों को मौका ही नहीं मिला था. कोई भी प्रोफेशनल किलर नहीं था इसलिए सब डरे हुए भी थे तो बॉबी के देखते हुए सामने से उस पर हमला नहीं कर सके.

प्लॉट नंबर दो यानी दर्दनाक कत्ल
लीज़ा के घर सब लोग लौटे और सबने बॉबी को रास्ते से हटाने के लिए दूसरी योजना बनाई. एलिस ने अपने एक दोस्त के बारे में बताया. उससे एक ऐसे आदमी के बारे में पता चला जो खुद को कांट्रैक्ट किलर कहता था. इस किलर यानी डेरेक से बात की गई और उसे हथियार देकर बॉबी की हत्या के लिए हायर किया गया. लेकिन, डेरेक ने इस काम में उन सबकी भी मदद मांगी.

प्लैन बना और अगली रात डेरेक की मदद से सब लोग बॉबी का कत्ल करने के लिए तैयार थे. सबने अपने लिए हथियार चुने. किसी ने चाकू लिया तो किसी ने पाइप तो किसी ने बेसबॉल बैट. रात करीब साढ़े 11 बजे इनमें से कुछ ने बॉबी को घर से बुलाया और उसी कंस्ट्रक्शन साइट पर ले गए. उस साइट पर एलिस ने बॉबी को उत्तेजित करने वाली बातों और अदाओं में उलझाया.

America murder case, murder of friend, murder in affair, killer friends, true crime movie, अमेरिका हत्याकांड, दोस्त की हत्या, अफेयर में हत्या, हत्यारे दोस्त, क्राइम बेस्ड फिल्म

इसी दौरान, एक ने बॉबी की गर्दन पर चाकू से हमला किया. बॉबी ने अपनी गर्दन पकड़कर मार्टी को मदद के लिए आवाज़ दी. मार्टी उसके पास पहुंचा और उसके पेट में चाकू घोंप दिया. एक पल के लिए मार्टी की गुस्से भरी आंखें देखकर बॉबी को बचपन से अब तक की अपनी सारी गलतियों का एहसास हुआ. 'मुझे माफ कर दे यार. बख़्श दे मेरी जान...' बॉबी माफी मांगता रहा और मार्टी उसे चाकू मारता रहा.

बॉबी ने किसी तरह हाथापाई कर वहां से भागने की कोशिश की तो मार्टी, डेरेक और बाकियों ने दौड़कर उस पर हमला किया. बॉबी ज़मीन पर गिरा तो मार्टी ने उसके गले में चाकू घोंप दिया. लहूलुहान बॉबी ज़मीन पर पड़ा बुरी तरह तड़प रहा था तभी डेरेक ने बैट से बॉबी का सिर फोड़ दिया. इसके बाद बॉबी ने दम तोड़ दिया. सबने मिलकर बॉबी की लाश को उठाया और पास ही एक दलदलनुमा गड्ढे में फेंक दिया और सोचा कि सड़ती हुई लाश को आदमखोर पक्षी और जानवर खा जाएंगे.

सज़ाएं और अमेरिका में दौड़ी लहर
बॉबी जैसा भी रहा हो, लेकिन हत्या कानून की नज़रों में जुर्म था. वह भी साज़िश रचकर इस तरह दर्दनाक ढंग से की गई हत्या. मार्टी को पहले सज़ा ए मौत दी गई लेकिन फिर उसे उम्रकैद में बदल दिया गया. डॉन उर्फ डॉनाल्ड को 15 साल कैद, डेरेक को उम्रकैद प्लस 30 साल कैद, लीज़ा को पहले उम्रकैद प्लस 5 साल कैद की सज़ा दी गई लेकिन बाद में उसकी सज़ा घटाकर नौ साल कैद की गई. लीज़ा 2004 में रिहा कर दी गई.

एलिस को 40 साल कैद की सज़ा दी गई लेकिन फिर उसकी सज़ा घटाई गई लेकिन वह साल 2041 तक निगरानी में रखी जाएगी. बाकी को 7-7 और 4 साल की कैद की सज़ा दी गई. इस ट्रायल ने अमेरिका में सबके होश उड़ा दिए कि टीनेजरों ने मिलकर अपने ही दोस्त को इस तरह मौत के घाट उतारा. इस कहानी पर एक ट्रू क्राइम नॉवेल लिखा गया. बाद में इस कहानी पर एक फिल्म 'बुली' बनी और लगातार यह कहानी टीवी और मीडिया में कई रूपों में पेश की जाती रही. लेखक सवाल उठाते रहे कि 'वजह कुछ भी हो, क्या किसी के कत्ल को जायज़ ठहराया जा सकता है?'

(यह कहानी मीडिया में रही खबरों और लेखों पर आधारित है.)

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

अपराध की और कहानियों के लिए क्लिक करें

वो हैरान थी कि उसके पति की लाश से लिपटकर पड़ोसन क्यों रो रही थी!
'GODFATHER' से प्रेमिका ने कहा था 'मैं तुम्हारी अय्याशी का सामान नहीं हूं'
पुलवामा हमले और एयर स्ट्राइक के बाद बनी लहर को भुना रहे हैं साइबर ठग

PHOTO GALLERY : इस बार चापो खोज पाएगा जेल से भागने का रास्ता?
Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...