#SerialKillers : हर कत्ल के लिए लेता था कुल्हाड़ी, हथौड़े या फावड़े जैसा नया हथियार

चीन का सबसे दुर्दांत सीरियल किलर कहा जाने वाला येंग दुनिया के सबसे खतरनाक सीरियल किलर्स की लिस्ट में शुमार रहा. कत्ल करने की ख़्वाहिश और खून देखने के आदी हो चुके येंग ने अपने कबूलनामे में कहा था कि वह समाज के खिलाफ है.

Bhavesh Saxena | News18Hindi
Updated: June 23, 2018, 7:52 PM IST
Bhavesh Saxena | News18Hindi
Updated: June 23, 2018, 7:52 PM IST
देश दुनिया के सीरियल किलर्स #SerialKillers पर केंद्रित इस विशेष वीकेंड सीरीज़ में आप पिछले शनिवार और रविवार दो कहानियां पढ़ चुके हैं. इस शनिवार पढ़िए चीन के उस दुर्दांत सीरियल किलर की कहानी जो दुनिया के क्रूरतम सीरियल किलर्स में गिना जाता है.

READ: तैयारी के साथ आता था नकाबपोश, रेप-मर्डर के बाद हो जाता था गायब

हेनन काउंटी के एक गांव में अपने परिवार के साथ रह रहा था ल्यू. ल्यू के परिवार में उसके माता-पिता, पत्नी और दो बच्चे थे. पेशे से किसान ल्यू रोज़मर्रा की ज़िंदगी जी रहा था और 9 दिसंबर 2002 को अपने नये घर में परिवार सहित शिफ्ट होने की तैयारी कर रहा था. मगर, होनी को कुछ और ही मंज़ूर था और ल्यू अपने परिवार के साथ इस घर को ही नहीं बल्कि इस दुनिया को ही छोड़कर चला गया.

READ: Serial Killer: काम था दवाएं देना लेकिन वो देता रहा मौत

6 दिसंबर 2002 को ल्यू और उसका परिवार घर-गृहस्थी को समेटकर अपने नये घर में जाने की तैयारी कर रहा था. 32-33 साल के ल्यू ने अपने पिता को नये घर में भेज दिया और उनसे देखभाल करने के लिए वहीं रहने को कहा. बाकी परिवार के साथ अगले दो-तीन में ल्यू भी उसी घर में पहुंचने वाला था. दिन भर का काम निपटाकर रात को ल्यू को परिवार सोने चला गया.

रात के करीब 1 बजे थे और सभी सोये हुए थे. उसी वक्त, बड़े जूते पहने हुए एक आदमी उस घर में दबे पांव दाखिल हुआ. इस आदमी ने अपने हाथों में सफेद दस्ताने पहने हुए थे और एक काले रंग का ओवरकोट. इस आदमी के हाथ में लोहे का एक बड़ा हथौड़ा था. इस आदमी ने दबे पांव घर में घुसने के बाद कमरों का जायज़ा लिया और देखा कि कौन कहां सो रहा है.

सीरियल किलर, चीन का सीरियल किलर, दुनिया के सबसे खतरनाक सीरियल किलर, चीन हत्याकांड, सीरियल किलर्स, serial killer, serial killer of china, world's most prolific serial killers, china murder case, serial killers

ल्यू अपनी पत्नी और एक बच्चे के साथ सो रहा था. अब वह आदमी इस कमरे में पहुंचा और भारी हथौड़े से पहला ज़ोरदार हमला उसने ल्यू के सिर पर किया. सिर फट गया और खून का फव्वारा निकल पड़ा. ल्यू को चीखने तक का मौका नहीं मिला था लेकिन खून के छींटे पड़ते ही ल्यू की पत्नी की नींद खुली. उसने अधखुली आंखों से ही उस सायानुमा आदमी को देखा. इससे पहल वह चीख पाती उस आदमी का अगला हमला हुआ और ल्यू की पत्नी का सिर भी फट चुका था.

इसके बाद उस आदमी ने छोटे से बच्चे पर भी हथौड़े से वार किया. दूसरे कमरे में ल्यू की मां की नींद खुल चुकी थी और वह उठकर दूसरे कमरे की ओर बढ़ रही थी. अचानक ल्यू की मां के चेहरे पर हथौड़े का ज़ोरदार प्रहार हुआ तो वह एक ही झटके में ज़मीन पर गिरकर खामोश हो गई. और आखिर में उस आदमी ने ल्यू की बच्ची को भी हथौड़े के एक ही वार से मौत के घाट उतार दिया.

थोड़ी देर वह आदमी उस घर में घूमता रहा और लाशों को देखता रहा. इसके बाद रात के अंधेरे में वह उस इलाके में ही बनी एक मज़ार पर गया और वह मज़ार खोदकर उसने अपना हथौड़ा वहां गाड़ दिया. मज़ार को ढांकने के बाद वह थोड़ी ही दूर नदी के पास गया. खून से लथपथ हो चुके अपने कपड़े उतारकर उसने नदी में बहा दिए. फिर अपने जूते और चेहरा धोने के बाद वह अगले दो घंटे पैदल चलते हुए दूसरे शहर जा पहुंचा.

सीरियल किलर, चीन का सीरियल किलर, दुनिया के सबसे खतरनाक सीरियल किलर, चीन हत्याकांड, सीरियल किलर्स, serial killer, serial killer of china, world's most prolific serial killers, china murder case, serial killers

इधर, अगली सुबह जब ल्यू के पिता अपने पुराने घर पहुंचे तो उन्होंने चार लाशें देखीं. ल्यू, उसकी पत्नी और दोनों बच्चे दम तोड़ चुके थे. पूरे कमरे में खून भरा हुआ था. यह देखकर ल्यू के पिता को गहरा सदमा लगा और वह ज़मीन पर गिर पड़े. तभी उन्होंने देखा कि उनकी पत्नी यानी ल्यू की मां की सांसें चल रही थीं. फौरन उन्हें अस्पताल पहुंचाया गया और पुलिस को खबर की गई.

अस्पताल में इलाज के दौरान ल्यू की मां ने आंखें तो खोलीं लेकिन कुछ बोल नहीं सकी. अस्पताल ले जाये जाने के दस दिन बाद उसकी भी मौत हो गई. किसी को कोई खबर नहीं थी कि यह सब किसने किया और अचानक क्यों हो गया.

कौन था यह मॉन्स्टर किलर?

येंग ज़िनहाई. इस कातिल का यही नाम था जो 2003 में एक रूटीन पुलिस कार्यवाही के दौरान संदेह के आधार पर पकड़ा गया और तफ्तीश के बाद हुई पूछताछ में उसने अपने गुनाह कबूल किए. तब पुलिस को पता चला कि येंग एक सीरियल किलर है जिसने साल 2000 से लेकर 2003 के बीच 67 हत्याएं की थीं और 23 बलात्कार. पुराने हथियारों को फेंककर कत्ल की हर अगली वारदात को अंजाम देने से पहले नये हथियार का प्रयोग करने के खुलासे के साथ ही येंग ने अपने कबूलनामें में कहा था -

जब मैंने कत्ल किए तो मैं कत्ल करना चाहता था. हर कत्ल से मुझे और कत्ल करने की ख़्वाहिश पैदा हुई. मुझे इस बात की कतई परवा नहीं कि वो लोग जीने लायक थे या नहीं. मुझे इस समाज से कोई लेना-देना नहीं इसलिए मैंने कभी इस समाज की परवा नहीं की.


येंग के सारे गुनाहों का पता चला तो मीडिया ने इसे मॉन्स्टर किलर का नाम दिया और येंग को चीन के सबसे दुर्दांत सीरियल किलर के रूप में जाना जाने लगा. 2004 में चीन की एक अदालत ने येंग को हत्याओं और बलात्कारों का दोषी मानते हुए मौत की सज़ा सुनाई और 14 फरवरी 2004 को येंग के सिर में गोली मारकर उसे मौत की सज़ा दे दी गई.

सीरियल किलर, चीन का सीरियल किलर, दुनिया के सबसे खतरनाक सीरियल किलर, चीन हत्याकांड, सीरियल किलर्स, serial killer, serial killer of china, world's most prolific serial killers, china murder case, serial killers

नोटबुक किलर कैसे पड़ा येंग का नाम?

मॉन्स्टर किलर के अलावा येंग को नोटबुक किलर भी कहा गया क्योंकि वह अपनी नोटबुक में मर्डर की कहानियां लिखता था. ये कहानियां उसके खुद के किए कत्लों पर ही आधारित हुआ करती थीं. इसके साथ ही, वह इन कत्लों और कहानियों पर आधारित ड्रॉइंग बनाता था और उसकी ख़्वाहिश थी कि इन कहानियों पर फिल्म बन सके. येंग पहले भी कुछ आरोपों में जेल जा चुका था और इसी वजह से उसकी गर्लफ्रेंड ने उसे छोड़ दिया था. येंग ने अपने कत्लों के पीछे की वजह बताते हुए कहा था कि गर्लफ्रेंड के इस बर्ताव के बाद वह पूरी सोसायटी से बदला लेना चाहता था.

ये भी पढ़ेंः

Gang War: एक-दूसरे के जानी दुश्मन टिल्लू और गोगी कभी थे दोस्त
इधर आपने कार्ड स्वाइप किया उधर गायब हुई आपकी गाढ़ी कमाई
नदी में फेंकने से पहले लाश जलाई ताकि मिट जाएं सबूत
रेकी कर 1 करोड़ का डाका डाला और अय्याशी करने चले गए गोवा
प्रेमी को लिखी डायरी में Planning और पति के Murder का 'पॉइज़न प्लॉट'

Gallery - CAR हुई थी दुर्घटनाग्रस्त लेकिन उसकी मां का MURDER हुआ था
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर