होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /जी-20 सम्‍मेलन के दौरान रौशन किए जाएंगे देश के 100 स्‍मारक, दिल्‍ली से ये 4 हुए शामिल

जी-20 सम्‍मेलन के दौरान रौशन किए जाएंगे देश के 100 स्‍मारक, दिल्‍ली से ये 4 हुए शामिल

जी-20 सम्‍मेलन की अध्‍यक्षता के दौरान भारत अपनी समृद्ध विरासत रहे देशभर से 100 स्‍मारकों को रौशन करेगा.

जी-20 सम्‍मेलन की अध्‍यक्षता के दौरान भारत अपनी समृद्ध विरासत रहे देशभर से 100 स्‍मारकों को रौशन करेगा.

100 प्रमुख स्‍मारकों में जहां तक राजधानी दिल्‍ली की बात है तो यहां से चार स्‍मारकों को चुना गया है. इनमें हुमायूं का मक ...अधिक पढ़ें

नई दिल्‍ली. 1 दिसंबर 2022 से भारत जी20 शिखर सम्‍मेलन (G-20 Summit 2022) की अध्‍यक्षता कर रहा है, ऐसे में विश्‍व भर से उच्‍च स्‍तरीय डेलिगेट भारत आएंगे और यहां के स्‍मारक और इमारतों को भी देखेंगे. ऐसे में इस अवसर का लाभ लेते हुए ब्रांडिंग और प्रचार के लिए भारत सरकार की ओर से देश के मॉन्‍यूमेंट्स (Monuments) को बेहतरीन तरीके से पेश करने का फैसला किया गया है. इसके लिए यूनेस्‍को वर्ल्‍ड हेरिटेज लिस्‍ट में शामिल इमारतों के साथ देशभर में आर्कियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया (ASI) के द्वारा संरक्षित इमारतों पर विशेष फोकस दिया जाएगा.

एएसआई की ओर से दी गई जानकारी में बताया गया कि वर्ल्‍ड हेरिटेज मॉन्‍यूमेंट्स (Word Heritage Monuments) के अलावा देशभर से 100 स्‍मारकों को एक सप्‍ताह तक रौशन किया जाएगा. इसके अलावा आसपास मौजूद अन्‍य स्‍मारकों को भी प्रकाशित किया जाएगा. इस दौरान चयनित 100 प्रमुख स्‍मारकों पर जी-20 का लोगो रौशन होता दिखाई देगा. थीम या लोगो भारतीय विदेश मंत्रालय के की गाइडलाइंस के अनुसार होगा.

बता दें क‍ि देश के प्रसिद्ध स्‍मारकों को प्रदर्शनीय बनाने के लिए हर संभव कोशिश की जा रही है. इसके लिए लोकेशन के आधार पर नोडल अधिकारी भी तैनात किए गए हैं. 100 प्रमुख स्‍मारकों में जहां तक राजधानी दिल्‍ली की बात है तो यहां से चार स्‍मारकों को चुना गया है. इनमें हुमायूं का मकबरा, लाल किला कॉम्‍पलेक्‍स, पुराना किला और सफदरजंग का मकबरा शामिल हैं. वहीं उत्‍तर प्रदेश के आगरा के फतेहपुर सीकरी समेत आगरा फोर्ट, अकबरी महल, सिकंदरा किला, सरधना का बेगम पैलेस, झांसी का किला, वाराणसी में बुद्धिस्‍ट साइट ऑफ सारनाथ, धामेक स्‍तूप आदि को शामिल गया है.

आपके शहर से (दिल्ली-एनसीआर)

दिल्ली-एनसीआर
दिल्ली-एनसीआर

Tags: G-20 Summit, Historical monument, Red Fort

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें