Home /News /delhi-ncr /

COVID-19: दिल्ली के बिहार भवन के हेल्पलाइन नंबर से महीने भर में 14 लाख लोगों की समस्याओं पर हुई कार्रवाई

COVID-19: दिल्ली के बिहार भवन के हेल्पलाइन नंबर से महीने भर में 14 लाख लोगों की समस्याओं पर हुई कार्रवाई

बिहार सरकार द्वारा लाखों प्रवासियों के बुनियादी सहयोग एवं सहायता हेतु बिहार भवन में नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया है.

बिहार सरकार द्वारा लाखों प्रवासियों के बुनियादी सहयोग एवं सहायता हेतु बिहार भवन में नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया है.

दिल्ली के बिहार भवन के हेल्पलाइन नंबर से 25 मार्च से 25 अप्रैल के दौरान 14 लाख लोगों की समस्याओं पर कार्रवाई की गई.

नई दिल्ली/पटना. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की तरफ से 24 मार्च की शाम को लॉकडाउन (LockDown) का ऐलान करने के 24 घंटे के भीतर बिहार सरकार (Bihar Government) की तरफ से प्रवासी लोगों की समस्या का समाधान करने के लिए दिल्ली के 'बिहार भवन' में कंट्रोल रूम बनाए गए थे. 25 मार्च से दिल्ली के बिहार भवन में 3 हेल्पलाइन नंबर और 10 हंटिंग लाइन के साथ कंट्रोल रूम व्यवस्था की गई है, जिसका मकसद बिहार के बाहर देश के किसी भी हिस्से में फंसे प्रवासी मजदूरों, कामगारों और इलाज कराने गए लोगों की समस्या का समाधान किया जा सके.

लॉकडाउन के बाद आवाजाही ठप होने के बाद लोगों की तरफ से अपनी समस्या को लेकर संपर्क किया जा रहा है. बिहार भवन में कंट्रोल रूम में हेल्पलाइन नंबर (011-23792009, 011-23014326, 011-23013884) स्थापित किया गया है, जिसमें कॉल्स, फैक्स, इंटरनेट और ईमेल की सुविधा है. इसमें तीन पालियों में पदाधिकारियों और कर्मियों की नियुक्ति की गई है.

25 मार्च से 25 अप्रैल तक 14 लाख लोगों की समस्याओं पर हुई कार्रवाई
बिहार सरकार के मुताबिक, बिहार भवन में कंट्रोल रूम के माध्यम से 25 मार्च से 25 अप्रैल तक यानी पूरे एक महीने के दौरान लगभग 14 लाख लोगों की समस्याओं पर कार्रवाई हुई है. इसके अलावा बिहार के बाहर रह रहे 14 लाख लोगों के खाते में मुख्यमंत्री विशेष सहायता योजना के माध्यम से एक-एक हजार रूपए दिए गए हैं. बिहार भवन में बने कंट्रोल रूम के माध्यम से लगभग 68 हजार लोगों के मोबाइल नंबर बिहार सरकार के आपदा प्रबंधन विभाग को दिया गया है, जिससे इनके खाते में भी सहायता राशि दी जा सके.

बिहार के लोग जो देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे हुए हैं उनके लिए स्थानिक आयुक्त विपिन कुमार द्वारा संबंधित राज्य सरकारों एवं जिला प्रशासन से समन्वय स्थापित कर उनके खाने, रहने और स्वास्थ्य की व्यवस्था की जा रही है.

बिपिन कुमार ने बताया कि इन समस्याओं पर संबंधित राज्यों के वरीय पदाधिकारियों से समन्वय स्थापित करते हुए सभी मामलों में जल्द से जल्द कार्रवाई की गई. बिहार सरकार द्वारा लाखों प्रवासियों के बुनियादी सहयोग एवं सहायता हेतु युद्धस्तर पर काम किया जा रहा है. लॉकडाउन की एक महीने की अवधि में खास तौर से उन लोगों के लिए विशेष पास की भी व्यवस्था की गई जिनके परिवार में किसी की मृत्यु हो गई है और वो लोग बिहार के बाहर फंसे हुए थे.

ये भी पढ़ें-

COVID-19: गौतमबुद्ध नगर में 3 नए मामले सामने आए, कुल केस बढ़कर 112 हुए

गृह मंत्रालय के आदेश पर दिल्ली में दुकानें खुलेंगी या नहीं? जानें पूरा मामला

Tags: Bihar News, Coronavires, COVID 19

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर