Home /News /delhi-ncr /

पापा के लिए बुलेट और मां चलाएंगी स्कूटी, दिल्ली में रहने वाले 15 साल के बिहारी छोरे का कमाल

पापा के लिए बुलेट और मां चलाएंगी स्कूटी, दिल्ली में रहने वाले 15 साल के बिहारी छोरे का कमाल

बिहार से ताल्‍लुक रखने वाले 15 साल के राजन ने अपनी मां के लिए ई-स्‍कूटी बनाई है.

बिहार से ताल्‍लुक रखने वाले 15 साल के राजन ने अपनी मां के लिए ई-स्‍कूटी बनाई है.

Electric Vehicles News: दिल्ली के सर्वोदय बाल विद्यालय स्कूल में पढ़ने वाले 9वीं क्‍लास के छात्र ने अपनी मां के लिए स्‍कूटी को ई-स्‍कूटी (E-Scooty) में बदला है. जबकि इस काम पर 35 हजार रुपये का खर्चा आया है. वहीं, इससे पहले बिहार के मुजफ्फरपुर के रहने वाले इस छात्र ने अपने पिता को ई-बुलेट गिफ्ट की थी. हालांकि राजन का सपना बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद (Sonu Sood) के लिए ई-जीप बनाने का है, जिसके लिए उसे सरकारी मदद की जरूरत है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्‍ली. कहते हैं कि मन में किसी काम को पूरा करने का अगर लक्ष्य तय कर लिया जाए तो उसे पूरा किया जा सकता है. कुछ ऐसा ही कारनामा कर दिखाया है 15 साल के राजन ने, जो कि दिल्ली के सर्वोदय बाल विद्यालय स्कूल (Delhi School) में पढ़ता है. राजन का परिवार बिहार के मुजफ्फरपुर का मूल निवासी है और कुछ साल पहले रोजी रोटी की तलाश में दिल्‍ली आया था और फिर यहीं बस गया. हालांकि राजन इस समय अपनी मां के लिए ई-स्‍कूटी (E-Scooty) बनाने की वजह से चर्चा में है.

इससे पहले 9वीं क्‍लास में पढ़ने वाले राजन ने ई-बुलेट बनाकर अपने पिता को गिफ्ट की थी. इस बार ई-स्कूटी अपनी मां के लिए बनाई है. छात्र ने कहा कि बाइक का वजन अधिक होने की वजह से हर कोई आसानी से उसको नहीं चला पाता है. इसी को ध्यान में रखते हुए मैंने अपनी मां के लिए एक स्कूटी को ई-स्कूटी में तब्दील किया है.

बस तीन दिन में बना दी ई-स्कूटी
वहीं, राजन ने कहा कि ई-स्कूटी को बनाने के लिए तीन दिन का ही समय लगा है. इसमें करीब 35 हजार रुपये का खर्चा आया है. इसके अलावा उसने कहा कि इसे एक बार चार्ज करने पर 70 से 80 किलोमीटर तक आसानी से चलाया जा सकता है. जबकि यह दो से ढाई घंटे में फुल चार्ज हो जाती है. वहीं, बताया कि ई-स्‍कूटी की अधिकतम स्पीड 45 किलोमीटर प्रति घंटा है. इसमें फिलहाल चार बैटरी लगी हुई हैं. साथ ही कहा कि बैटरी की चार्जिंग और स्टेटस स्पीड के लिए एक डिजिटल इंडिकेटर भी लगाया है. राजन ने कहा कि अगर इसमें पांच बैटरी लगा दी जाएंगी, तो इसकी क्षमता में इजाफा हो जाएगा.

ई-कार और ई-जीप बनाना है राजन का सपना
इसके अलावा राजन का सपना है कि वह कार को ई-कार में तब्दील करे, जिस पर काम जारी है. इसके अलावा राजन ई-जीप बनाना चाहता हैं क्योंकि उसने बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद (Sonu Sood) से वादा किया है कि वह ई-जीप बनाएगा. हालांकि इन दोनों प्रोजेक्‍ट के लिए उसे सरकार से मदद की जरूरत है.

वहीं, राजन के पिता दशरथ ने कहा कि बेटे ने ई-स्कूटी मां को ध्यान में रखकर बनाई है. इससे पेट्रोल की बढ़ती कीमतों से राहत मिलेगी. वहीं, राजन की मां ने न्‍यूज़ 18 को बताया कि जब से लॉकडाउन लगा था वह कुछ ना कुछ किया करता था. इस दौरान उन्होंने खुशी जताते हुए कहा कि यह सब कुछ देखकर अच्छा लग रहा है, लेकिन आर्थिक तौर पर मजबूरियां है. ऐसे में उन्‍होंने कहा कि सरकार सभी का सहयोग करती है, उम्मीद है कि राजन के सपनों को पूरा करने में भी सहयोग करेगी.

Tags: Electric Vehicles, Sonu sood, Success Story

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर