नोएडा : अब ब्लैक फंगस के इंजेक्शन की कालाबाजारी शुरू, 2 आरोपी रंगेहाथ गिरफ्तार

इंजेक्शन की कालाबाजारी में नोएडा 62 के फोर्टिस अस्पताल के पास से गिरफ्तार किए गए 2 आरोपी.

इंजेक्शन की कालाबाजारी में नोएडा 62 के फोर्टिस अस्पताल के पास से गिरफ्तार किए गए 2 आरोपी.

दोनों अभियुक्तों को नोएडा थाना सेक्टर 58 की पुलिस ने फोर्टिस अस्पताल के पास से गिरफ्तार किया है. पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार अभियुक्त अनुराग एक निजी अस्पताल में बतौर सुपरवाइजर काम करता है.

  • Share this:

गौतमबुद्ध नगर. कोरोना महामारी (Corona Epidemic) के दौरान ऑक्सीजन (Oxygen) और कोरोना की जरूरी दवाइयों की कालाबाजारी (black marketing) के बाद अब मार्केट में ब्लैक फंगस (black fungus) की जरूरी दवाइयां और इंजेक्शनों (injections) की कालाबाजारी शुरू हो गई है. नोएडा की थाना सेक्टर 58 पुलिस ने एक ऐसे ही गिरोह के दो अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है, जो ब्लैक फंगस के इलाज में इस्तेमाल होने वाले जरूरी इंजेक्शन की कालाबाजारी कर रहे थे. पुलिस ने इनके कब्जे से दो इंजेक्शन भी बरामद किए हैं.

एक अभियुक्त निजी अस्पताल का सुपरवाइजर है

गिरफ्तार किए गए ये दोनों अभियुक्त महामारी के दौरान मरीजों की मजबूरी का फायदा उठा कर कमाई कर रहे थे. इन दोनों अभियुक्तों को नोएडा थाना सेक्टर 58 की पुलिस ने गिरफ्तार किया है. पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार अभियुक्त अनुराग एक निजी अस्पताल में बतौर सुपरवाइजर काम करता है. अपनी जान-पहचान के बल पर वह रेमडेसिविर और ब्लैक फंगस में इस्तेमाल होने वाले इंजेक्शन खरीदता था. उसके बाद अपने साथी अंकित को इंजेक्शन के सैंपल देकर शहर के अलग-अलग अस्पतालों के पास भेज देता था. अभियुक्त अंकित शहर के अलग-अलग अस्पतालों के पास बीमार मरीजों के परिजनों को इंजेक्शन का सैंपल दिखा कर सौदा करता था. वह तीमारदारों को पहले इंजेक्शन के 1-2 सैंपल दिखाता, उसके बाद और अधिक इंजेक्शनों का सौदा करता. ये लोग ब्लैक फंगस में इस्तेमाल होने वाले इंजेक्शन को मरीजों के परिजनों से 15000 से 20000 रुपये तक में बेचते थे.

नोएडा-62 स्थित फोर्टिस अस्पताल के पास पकड़े गए
नोएडा के एडीसीपी कुमार रणविजय सिंह ने बताया कि आज भी ये लोग नोएडा के सेक्टर 62 स्थित फोर्टिस अस्पताल के पास इंजेक्शन बेचने के लिए आए थे. इसी दौरान सेक्टर 58 पुलिस ने इन्हें पकड़ लिया. पुलिस को इनके कब्जे से ब्लैक फंगस के इलाज में इस्तेमाल होने वाले 2 इंजेक्शन बरामद किए हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज