• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • OMG! फर्जी निकला 20 साल की छात्रा का अपहरण, इज्जत बचाने के लिए परिवार ने रची कहानी, युवती प्रेमी संग हुई थी फरार

OMG! फर्जी निकला 20 साल की छात्रा का अपहरण, इज्जत बचाने के लिए परिवार ने रची कहानी, युवती प्रेमी संग हुई थी फरार

मॉर्निंग वॉक पर निकली 20 साल की छात्रा ज्‍याति के अपहरण की सूचना से हड़कंप मच गया था.

मॉर्निंग वॉक पर निकली 20 साल की छात्रा ज्‍याति के अपहरण की सूचना से हड़कंप मच गया था.

UP Crime News: यूपी के गौतम बुद्ध नगर के ग्रेटर नोएडा में गुरुवार को 20 साल की छात्रा के अपहरण (Kidnapping) से हड़कंप मच गया था. परिवार के मुताबिक, 20 साल की ज्‍योति अपने तीन छोटे भाई-बहनों के साथ मॉर्निंग वॉक (Morning Walk) निकली थी. इसी दौरान वैन में सवार लोगों ने उसका अपहरण कर लिया. हालांकि ग्रेटर नोएडा पुलिस (Greater Noida Police) ने इस मामले का 24 घंटे में खुलासा करते हुए परिवार की फर्जी अपहरण की कहानी की पोल खोल दी है.

  • Share this:

    हिमांशु शुक्‍ला

    ग्रेटर नोएडा. यूपी के ग्रेटर नोएडा के बादलपुर थाना क्षेत्र में मॉर्निंग वॉक (Morning Walk) पर निकली छात्रा के अपहरण की कहानी फर्जी निकली (Fake Kidnapping Story) है. दरअसल छात्रा के अपहरण की कहानी परिवारजनों ने ही रची थी, क्‍योंकि वह एक दिन पहले प्रेमी के साथ घर से फरार हो गई थी. वहीं, परिवार ने अपनी इज्जत बचाने के चक्कर में अपहरण की साजिश रच डाली. यही नहीं, ग्रेटर नोएडा पुलिस (Greater Noida Police) ने ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए छात्रा को उसके प्रेमी के साथ यूपी के गोंडा के जानकी नगर से बरामद कर लिया है. यही नहीं, उत्तर प्रदेश के गृह विभाग ने गौतमबुद्ध नगर पुलिस कमिश्नरेट को घटना का जल्‍दी खुलासा करने के लिए 1 लाख रुपये का ईनाम देने की घोषण की है.

    बता दें कि परिजनों ने गुरुवार को आरोप लगाया था कि पहले तो छात्रा के साथ छेड़छाड़ की गई और फिर बदमाश उसको कार में डालकर ले गए. यही नहीं, जब तक लड़की के साथ मॉर्निंग वॉक पर गए भाई-बहनों ने शोर मचाया, तब तक बदमाश गाड़ी लेकर फरार हो चुके थे. लड़की अपने तीन भाई-बहनों के साथ वॉक पर निकली थी. इस घटना के बाद लोगों ने नेशनल हाइवे 91 (National Highway) जाम कर दिया था.

    24 घंटे में खोला मामला
    ग्रेटर नोएडा में अपहरण (Kidnapping) का मामला सामने के साथ इलाके में सनसनी फैल गई थी. जबकि पुलिस ने इस मामले की जांच करने के लिए 5 टीम का गठन किया था. हालांकि इस मामले के खुलासे के बाद पुलिस हैरान है, क्‍योंकि परिवार के द्वारा झूठी कहानी बनाई गई ताकि समाज में इज्जत बनी रहे. यही नहीं, इस घटना को सही साबित करने के लिए जीटी रोड पर जाम लगाने के बाद थाने का भी घेराव किया गया था, लेकिन मामले का खुलासा होने से परिवार बेनकाब हो गया है. 24 घंटे के भीतर अपहरण के मामले को पुलिस ने खोल दिया है.

    नितिन गडकरी ने जेवर एयरपोर्ट को दी 2100 करोड़ की सौगात, Delhi-NCR को चमकाने के लिए उठाया ये कदम

    क्या थी झूठी कहानी?
    ग्रेटर नोएडा के बादलपुर थाना क्षेत्र में गुरुवार को सुबह 5 बजे मॉर्निंग वॉक पर निकली छात्रा के अपहरण की बात सामने आई. अपहरणकर्ता छात्रा को कार में बैठा कर फरार हो गए. शुरू में परिवार द्वारा बताया गया कि अपहरणकर्ता छात्रा अपनी एक बहन और दो भाइयों के साथ मॉर्निंग पर निकली थी, लेकिन वापस नहीं पहुंची. शुरुआत से ही पुलिस को भ्रमित किया गया. पुलिस भी प्रेशर में आकर जांच अपहरण की दिशा में जांच करने लगी, लेकिन पूछताछ में मामला स्पष्ट नहीं होने पर पुलिस अन्य एंगल पर भी जांच कर रही थी. जिसके लिए डीसीपी ने 5 टीमें भी गठित की थीं. परिवार ने पुलिस पर जबरन प्रेशर बनाने के लिए जीटी रोड पर जाम लगाने के साथ थाने का घेराव भी किया था. हालांकि अपहरण शुरू से संदेह के घेरे में था, क्योंकि जब युवती स्‍वाति के परिवार से पुलिस ने पूछताछ की तो कोई भी सदस्य स्पष्ट जवाब नहीं दे पाया था. इसके अलावा पुलिस के मुताबिक, सुबह 4.30 बजे कंट्रोल रूम को इस मामले की जानकारी दी गयी थी. जबकि पीड़ित परिजनों ने कहा था कि अपहरण सुबह 6 बजे के आसपास हुआ है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज