COVID-19 Update: दिल्‍ली में 24 घंटे में कोरोना के 2008 नए मामले, संक्रमण से 50 लोगों की मौत
Delhi-Ncr News in Hindi

COVID-19 Update: दिल्‍ली में 24 घंटे में कोरोना के 2008 नए मामले, संक्रमण से 50 लोगों की मौत
दिल्‍ली में कोरोना संक्रमण की वजह से 3165 मौतें हो चुकी हैं.

कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के 2008 नए मामलों के साथ दिल्‍ली में संक्रमितों की संख्‍या बढ़कर 1,02,831 हो गयी है. जबकि अब तक 3165 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली (Delhi) में कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus Infection) का कहर थमने का नाम नहीं ले रह है. जबकि पिछले 24 घंटों में दिल्‍ली में कोरोना संक्रमण के 2008 नए मामले सामने आए हैं, तो इस दौरान 50 लोगों ने दम तोड़ा है. वहीं, संक्रमितों की संख्‍या बढ़कर 1,02,831 गयी है. इसके अलावा कोरोना वायरस की इस महामारी की वजह से अब तक 3165 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं.

वहीं, मंगलवार को दिल्‍ली में 8795 आरटी-पीसीआर (RT-PCR) और 13653 रेपिड एंटीजन टेस्‍ट( Rapid Antigen Tests) किए गए हैं. दिल्‍ली सरकार के मुताबिक, अब तक 6,79,831 टेस्‍ट को चुके हैं.

दिल्‍ली में कोरोना वायरस के 25449 एक्टिव केस
दिल्‍ली सरकार के मुताबिक, राजधानी में मंगलवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 2008 नए मामले सामने आए हैं. इसके साथ संक्रमितों का आंकड़ा 1,02,831 पहुंच गया है. इस समय दिल्‍ली में कोरोना के25449 एक्टिव केस हैं, तो अब तक 74217 लोग कोविड-19 की महामारी को मात देकर घर लौट चुके हैं. जबकि दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार पिछले चौबीस घंटे में कोविड-19 से 50 लोगों की मौत हुई. इसके साथ दिल्‍ली में कोरोना वायरस की बीमारी से मरने वालों को आंकड़ा बढ़कर 3165 हो गया है. हालांकि राहत की बात ये है कि इस दौरान 2129 लोग ठीक होने के बाद डिस्‍चार्ज भी हुए हैं. आपको बता दें कि दिल्ली में 23 जून को सर्वाधिक 3947 मामले सामने आये थे. यह किसी एक दिन की सबसे अधिक संख्या थी. हालांकि पिछले छह दिनों में इसमें कमी आई है.





आईसीएमआर ने राजीव गांधी अस्पताल को प्लाज्मा थैरेपी करने की मंजूरी दी
दिल्ली सरकार द्वारा संचालित राजीव गांधी सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल को कोरोना वायरस के 200 रोगियों पर प्लाज्मा थैरेपी करने के लिये आईसीएमआर की मंजूरी मिल गई है. पूर्वी दिल्ली में स्थित यह अस्तपाल कोविड-19 केन्द्र घोषित किये जाने के बाद से एक हजार से अधिक रोगियों का इलाज कर चुका है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने तीन जुलाई को इस अस्पताल से छुट्टी पाने वाले 1000वें कोविड-19 रोगी को सोमवार को सम्मानित किया था. अस्पताल के एक वरिष्ठ चिकित्सक ने कहा, 'हमें लगभग दस दिन पहले आईसीएमआर की मंजूरी मिल चुकी है. फिलहाल हमें 200 रोगियों पर प्लाज्मा थैरेपी करने की अनुमति है. इसकी शुरुआत करने से पहले हम सभी तरह के प्रबंध कर रहे हैं, लेकिन फिलहाल हमारे पास कर्मचारियों की कमी है.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading