गाजीपुर की मंडि‍यों पर खर्च होंगे 236 करोड़, टिकरी खानपुर थोक मंडी को ₹70 करोड मंजूर!

थोक बाजारों और मंडियों के विकास और विस्तार की अहम जोजना बनाई है.

थोक बाजारों और मंडियों के विकास और विस्तार की अहम जोजना बनाई है.

दिल्ली सरकार गाजीपुर फूल, फल और सब्जी मंडी के अलावा गाजीपुर पोल्ट्री बाजार के लिए 236 करोड रुपए मंजूर किए गए हैं. वहीं, टिकरी खानपुर थोक मंडी के लिए भी ₹70 करोड मंजूर किए गए हैं. सरकार ने थोक बाजारों और मंडियों के विकास और विस्तार की अहम जोजना बनाई है. इसको लेकर बजट भी आवंटित किया है. 2021-22 के बजट में कुल आय का अनुमान 40063.50 लाख रुपये लगाया गया है. जबकि कुल खर्च 34,855 लाख रुपये का अनुमान है जो कि 5,208.50 लाख अधिक है.

  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने थोक बाजारों और मंडियों के विकास और विस्तार की अहम योजना बनाई गई है. इसको लेकर बजट भी आवंटित किया है. सरकार की ओर से गाजीपुर फूल, फल और सब्जी मंडी के अलावा गाजीपुर पोल्ट्री बाजार के लिए 236 करोड रुपए मंजूर किए गए हैं. वहीं, टिकरी खानपुर थोक मंडी के लिए भी ₹70 करोड मंजूर किए गए हैं.

दिल्ली के कृषि एवं विकास मंत्री गोपाल राय (Gopal Rai) की अध्यक्षता में सभी कृषि उपज बाजार समिति (APMC) और दिल्ली कृषि विपणन बोर्ड (DAMB) के बजट को लेकर मीटिंग बुलाई गई थी. मीटिंग में इन सभी मुद्दों को लेकर विस्तार से चर्चा की गई. मंत्री ने कोविड-19 के दौरान सभी मंडियों के कार्यों की सराहना भी की. उन्होंने कहा कि सभी थोक बाजारों में कोविड-19 महामारी के दौरान अच्छा काम किया है.

इस बीच देखा जाए तो अकेले गाजीपुर फूल मंडी के विकास के लिए 100 करोड रुपए की राशि मंजूर की गई है. वहीं गाजीपुर पोल्ट्री बाजार के विकास के लिए 132.12 करोड रुपए मंजूर किए गए हैं. गाजीपुर की फल और सब्जी मंडी के विकास को लेकर 4 करोड रुपए मंजूर किए गए हैं.

बैठक में आजादपुर, नरेला, केशोपुर, गाजीपुर, गाजीपुर के फूल बाजार, नजफगढ़ और गाजीपुर की फल और सब्जी मंडी आदि एपीएमसी के लिए बजट मंजूर किया गया है.
दिल्ली कृषि मंत्री गोपाल राय ने कहा कि एपीएमसी और डीएएमबी के पिछले बजट के नतीजों और नए बजट की योजना पर चर्चा की.

डीएएमबी की समग्र आय का 2020-2021 में संशोधित अनुमान (आरई) 7718.50 लाख रुपये लगाया गया है. जबकि कुल खर्च का अनुमान 6,832.15 लाख है जो कि 886.35 लाख अधिक है.

इसी तरह 2021-22 के बजट में कुल आय का अनुमान 40063.50 लाख रुपये लगाया गया है. जबकि कुल खर्च 34,855 लाख रुपये का अनुमान है जो कि 5,208.50 लाख अधिक है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज