अपना शहर चुनें

States

ITBP में कोरोना संक्र‍मण के 24 नए मामले आए सामने, COVID-19 संक्रमित जवानों की संख्‍या हुई 45

अधिकारियों और जवानों में मोटापे की समस्या न हो इसके लिए यह अभियान चलाया जा रहा है.
अधिकारियों और जवानों में मोटापे की समस्या न हो इसके लिए यह अभियान चलाया जा रहा है.

कोरोना संक्रमित (Corona Infected) जवानों के बेहतर इलाज के लिए ग्रेटर नोएडा के सीएपीएफ़ रेफरल अस्पताल (CAPF Referral Hospital) में केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों के विशेषज्ञ डॉक्टर्स की तैनाती की गई है.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. इंडो-तिब्‍बतन बार्डर पुलिस (आईटीबीपी) के 24 जवानों को कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित पाया गया है. वहीं, आईटीबीपी (ITBP) में कोरोना वायरस से संक्रमित जवानों की कुल संख्‍या 45 हो गई है. 45 जवानों में 43 जवान आईटीबीपी के टिगरी कैंप में पदस्‍थ हैं. फिलहाल, उनकी तैनाती राजधानी दिल्‍ली में आतंरिक सुरक्षा कार्यों में लगी हुई है. इनमें से 2 लोगों को सफदरजंग अस्पताल में भर्ती करवाया गया है, जबकि 41 आईटीबीपी कर्मी ग्रेटर नोएडा के सीएपीएफ़ रेफरल अस्पताल में भर्ती हैं. वहीं, कोरोना संक्रमित पाए गए जवानों के संपर्क में आने वाले यूनिट के 76 जवानों को आईटीबीपी के छावला क्वारंटाइन केंद्र में अलग रखा गया है.

आईटीबीपी के वरिष्‍ठ अधिकारी के अनुसार, नई दिल्ली के रोहिणी इलाके में दिल्ली पुलिस के साथ आईटीबीपी के जवानों की तैनाती कानून और व्यवस्था को बरकरार रखने के लिए की गई है. दिल्‍ली पुलिस के साथ रोहिणी में तैनात आईटीबीपी कंपनी के 2 जवानों का कोरोना का टेस्ट पॉजिटिव आया था. जिसके बाद, उन्‍हें इलाज के लिए एम्स, झज्जर में भर्ती करवाया गया है. इस कंपनी के बाकी 91 जवानों को आईटीबीपी छावला में क्वारंटाइन में रखा गया है. इन सभी के सैंपल जांच के लिए भेजे जा चुके हैं और रिपोर्ट का इंतज़ार है .

आईटीबीपी के वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि आईटीबीपी ने ग्रेटर नोएडा के सीएपीफ रेफरल अस्पताल में कोरोना संक्रमित जवानों का उपचार प्रारंभ कर दिया है, 200 बिस्तरों वाला यह अस्पताल अब कोविड 19 के संक्रमित जवानों के इलाज़ के लिए सक्षम है. अभी इसमें आईटीबीपी के 44 और बीएसफ के 8 जवान (कुल 52) भर्ती हैं. इनका तय मेडिकल प्रोटोकॉल के अनुसार इलाज़ और देखरेख की जा रही है. उन्‍होंने बताया कि रेफरल अस्‍पताल में भर्ती जवानों का इलाज केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों के विशेषज्ञ डॉक्टर्स के द्वारा ही किया जा रहा है. आईटीबीपी ने अस्पताल में सभी आवश्यक इक्विपमेंट और संसाधनों को सुनिश्‍चित किया है.

यह भी पढ़ें:- गौतम बुद्ध नगर के दर्जनों किसानों को इलाहाबाद हाईकोर्ट से बड़ा झटका, नहीं रद्द होगा भूमि अधिग्रहण
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज