• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • Delhi-NCR के 260 ठेके 1 अक्टूबर से होंगे बंद, अब यहां से खरीद सकेंगे शराब

Delhi-NCR के 260 ठेके 1 अक्टूबर से होंगे बंद, अब यहां से खरीद सकेंगे शराब

द‍िल्‍ली सरकार शराब की सभी प्राईवेट दुकानों को गांधी जयंत‍ी यानी 2 अक्‍टूबर से पहले बंद कर देगी.

द‍िल्‍ली सरकार शराब की सभी प्राईवेट दुकानों को गांधी जयंत‍ी यानी 2 अक्‍टूबर से पहले बंद कर देगी.

Delhi Liquor Shops: दिल्ली में एक अक्टूबर से 260 सरकारी शराब की दुकानें बंद होने का असर दिल्ली के क्लब और होटलों पर भी पड़ सकता है. इस दौरान शराब की सप्लाई में कमी आ सकती है, जिससे क्लब और रेस्टोरेंट में जाने वाले लोग निराश हो सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्ली. दिल्ली सरकार के नए कदम के बाद अब एक अक्टूबर से दिल्ली की सरकारी शराब की दुकानों (Liquor Shops) से शराब और बीयर खरीदने वालों की परेशानी शुरू हो सकती है. दिल्ली सरकार की नई आबकारी नीति (New Excise Policy) के तहत एक अक्टूबर से 260 प्राइवेट शराब की दुकानों को बंद कर दिया जाएगा. दिल्ली में अब शराब की नई 849 दुकानें 17 नवंबर से अपनी सेवाएं देना शुरू कर देंगी. इस दौरान एक अक्टूबर से 16 नवंबर तक दिल्लीवाले सिर्फ 372 सरकारी शराब की दुकानों से ही अंग्रेजी शराब और बीयर खरीद सकेंगे. इस दौरान ग्राहकों को शराब खरीदने में काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है.

    एक अक्टूबर से दिल्ली सरकार इन 47 दिनों के लिए अभी तक शराब सप्लाई कैसे किया जाए, इसका कोई प्लान तैयार नहीं किया गया है. लिहाजा इस दौरान दिल्ली के कई इलाकों में सरकारी शराब की दुकानों पर लंबी-लंबी लाइनें लग सकती हैं. ऐसे में माना जा रहा है कि शराब माफिया इस मौके को भुनाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ेगा. ये माफिया अवैध रूप से शराब का ठेके खोल कर शराब बेच सकते हैं. इससे दिल्ली से सटे राज्य खासकर हरियाणा और यूपी में शराब की दुकानों को खासा फायदा हो सकता है.

    260 शराब की दुकानें होंगी बंद
    दिल्ली लिकर ट्रेड असोसिएशन का कहना है कि एक अक्टूबर से प्राइवेट 260 शराब की दुकानों के बंद होने से ग्राहकों का लाइन में लगना तय है. दिल्ली सरकार को चाहिए कि ग्राहकों की समस्या को समय रहते कैसे हल निकाले. हालांकि, श्राद्ध और नवरात्रों में अमूमन शराब की खपत कम होती है, लेकिन इस बार कोरोना के कारण ज्यादातर शराब की दुकानें बंद ही रही हैं. ऐसे में श्राद्ध और नवरात्र में भी इस बार शराब की अच्छी खपत से इंकार नहीं किया जा सकता है.

    ये भी पढ़ें: दिल्ली में 6 गज जमीन पर 3 मंजिला मकान बनाने वाला कारीगर कहां गया, क्या फिर खड़ा कर रहा कोई अजूबा?

    दिल्ली में 260 सरकारी शराब की दुकानें बंद होने का असर दिल्ली के क्लब और होटलों पर भी पड़ सकता है. इस दौरान शराब की सप्लाई में कमी आ सकती है, जिससे क्लब और रेस्टोरेंट में जाने वाले लोग निराश हो सकते हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज