• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • Delhi-NCR में लगने जा रही हैं 2800 फैक्ट्रियां, यमुना अथॉरिटी एरिया में लगेंगे 1564 प्‍लांट, देखें पूरी लिस्‍ट

Delhi-NCR में लगने जा रही हैं 2800 फैक्ट्रियां, यमुना अथॉरिटी एरिया में लगेंगे 1564 प्‍लांट, देखें पूरी लिस्‍ट

नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना अथॉरिटी ने 28 सौ से ज्यादा कंपनियों को प्लॉट दिए हैं. File photo

नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना अथॉरिटी ने 28 सौ से ज्यादा कंपनियों को प्लॉट दिए हैं. File photo

Delhi-NCR News: देश-विदेश की छोटी से लेकर बड़ी कंपनियां तक शामिल हैं. सबसे ज्यादा कंपनी यमुना अथॉरिटी (Yamuna Authority) के एरिया में खुलने जा रही हैं.

  • Share this:
    नोएडा. दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) वालों के लिए बड़ी खुशखबरी है. आने वाले दो-तीन साल में एनसीआर के युवाओं के हाथ में नौकरियां ही नौकरियां होंगी. इसकी वजह है इस अवधि में लगने वाली नई फैक्ट्रियां और कंपनियों की लम्बी फेहरिस्त. जल्द ही दिल्ली-एनसीआर में 10-20 नहीं, बल्कि करीब 2800 फैक्ट्रियां लगने जा रही हैं. ये फैक्ट्रियां नोएडा (Noida), ग्रेटर नोएडा और यमुना अथॉरिटी के एरिया में लगने जा रही हैं. इनमें देश-विदेश की छोटी से लेकर बड़ी कंपनियां तक शामिल हैं. सबसे ज्यादा कंपनी यमुना अथॉरिटी (Yamuna Authority) के एरिया में प्‍लांट लगाने जा रही है.

    यमुना अथॉरिटी अभी तक 1564 छोटी-बड़ी कंपनियों को कमर्शियल और इंडस्ट्रियल प्लॉट बेच चुकी है. अथॉरिटी उम्मीद जता रही है कि इससे करीब 16,500 हजार करोड़ रुपये का निवेश होगा. वहीं, अकेले यमुना अथॉरिटी एरिया में लगने वाली कंपनियों और फैक्ट्री में ही 2.5 लाख से ज्यादा लोगों को नौकरियां मिलेंगी. विवो और यिंगटोंग जैसी मोबाइल बनाने वाली बड़ी कंपनियां तो फैक्ट्री बनाने का काम भी शुरू कर चुकी हैं. इसके साथ ही सूर्या ग्लोबल फ्लेक्सी प्राइवेट लिमिटेड, हल्दीराम स्नैक्स प्राइवेट लिमिटेड, होलोस्टिक इंडिया केंट आरओ, ओरिएंट फैशन एक्सपोर्ट, बॉडीकेयर इंटरनेशनल जैसी कई कंपनियां अपनी यूनिट लगा रही हैं.

    यहां इशी टेक्नोलॉजी, देव फार्मेसी, क्वालिटी बिल्टकॉन, मटेंड लिमिटेड, राज कारपोरशन, गेलवेनो इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, बीकानेर, क्वाडरेंट, स्वास्तिक इंडस्ट्रीज, नर्सी मोंजी विश्वविद्यालय समेत दर्जनों बड़ी कंपनियों ने भी अपने प्लॉट बुक कराए हैं. इसी एरिया में हैंडीक्राफ्ट पार्क, अपैरल पार्क, एमएसएमई पार्क और ट्वाय सिटी की योजना पर भी काम चल रहा है.

    Good News: गाजियाबाद की क्रॉसिंग रिपब्लिक से ग्रेटर नोएडा के बीच नहीं लगेगा जाम, जानें क्‍या है प्‍लानिंग

    यहां लगेंगी फैक्ट्रियां
    जानकारों की मानें तो सबसे ज्यादा फैक्ट्री और कंपनी यमुना अथॉरिटी के इलाके में 1564 खुलने जा रही हैं. साथ ही नोएडा विकास प्राधिकरण में 864 यूनिट और ग्रेटर नोएडा में 345 यूनिट लगने जा रही हैं. सबसे ज्यादा यूनिट लगने की वजह यमुना एक्सप्रेस वे के किनारे बनने वाला जेवर एयरपोर्ट बताया जा रहा है.

    इसके साथ ही यहां फिल्म सिटी, राया हेरिटज सिटी, टप्पल लॉजिस्टिक हब समेत कई बड़ी परियोजनाओं पर चल रहा काम भी एक बड़ी वजह है. दिल्ली-मुम्बई और अमृतसर-कोलकाता रेल कॉरिडोर की वजह से भी देश-विदेश की कंपनियां यहां आ रही हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज